Mobile Sensor क्या है? और Mobile Sensor क्या उपयोग होता है।

हैलो दोस्तों आज हम आपको Mobile Sensor क्या है? के बारे में बताने जा रहे है अगर आप भी Types Of Sensor In Hindi की जानकारी पाना चाहते है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे।
What Is Proximity Sensor In Hindi?के बारे में आज आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे हम आपको इसके बारे में आसान भाषा में बतायेंगे हमे उम्मीद है की पिछली पोस्ट की तरह आपको हमारी आज की पोस्ट Gyroscope Sensor In Mobile In Hindi भी ज़रूर पसंद आयेगी।

Android Phone और Iphone दोनों में Sensor होते है लेकिन इन दोनों Mobile के Sensor का काम करने का तरीका अलग रहता है आज अधिकतर लोगों के पास Android Phone है वे सभी लोग Android की Ram, Internal Memory, कितने Pixel का Camera है, कौन सा Processor आदि के बारे में तो जानते है लेकिन Mobile के सभी Sensor के बारे में बहुत कम लोगों को पता होता है।

 

Mobile Sensor क्या है?
TEJWIKI.IN

 

 

Mobile Sensor क्या है?

 

Sensor को हम हिंदी में ज्ञानेंद्री या संवेदक भी कह सकते है।  या फिर आप ये भी कह सकते है के आपके इशारो समझने वाला वह तकनीक जो mobile इस्तेमाल करता है। उसे Mobilesensor कहते है।हर एंड्राइड फ़ोन में कुछ ऐसे फीचर होते है जिनका use करने से हमे फ़ोन और भी ज्यादा अच्छा लगने लगता है।

जैसे – जब हम कॉल करते तो जैसे ही फ़ोन कान तक ले जाते है। फ़ोन की display ऑफ़ हो जाती है। और जैसे ही हम कान से फोन को हटा देते है। लाइट फिर से ऑन हो जाती है।

यह सब mobile sensor से ही होता है। Mobile Sensor क्या है?

तो आज हम बात करेगे एंड्राइड फ़ोन के सभी mobile sensor की, और ये भी जानेंगे की कौन सा mobile sensor क्या काम करता है।

 

फ़ोन – कंप्यूटर – टीवी में सेंसर्स के कार्य

 

टेलीविज़न के इस्तेमाल करने में हम हमेशा रिमोट का उपयोग करते हैं। यहाँ रिमोट और टीवी के बिच कम्यूनिकेट करने में सेंसर का बहुत बड़ा योगदान होता है। रिमोट के बटन को दबाने से रिमोट का सेंसर, टीवी के सेंसर से संपर्क करता है। इससे रिमोट, टीवी को इनपुट भेजता है। Mobile Sensor क्या है? जिससे चैनल बदलने का काम या कोई अन्य ऑपरेशन को कर सकते हैं।

स्मार्टफोन और स्मार्टवॉच फिटनेस बैंड के बिच कम्यूनिकेट करने में भी सेंसर की ही मदद मिलती है। महत्वपूर्ण बात यह कि बांकी डिवाइस के मुकाबले हमारे फ़ोन में सबसे ज्यादा सेंसर्स मौजूद होते हैं। इसमें हमारे फ़ोन का टच स्क्रीन, कैमरा, फ़्लैश लाइट, फिंगरप्रिंट, स्क्रीन लाइट सेंसर्स शामिल हैं। कार और मोटरबाइक्स में भी सेंसर का उपयोग किया जाता है।

कार के स्पीड मीटर में लाइट सेंसर का इस्तेमाल किया जाता है। इसकी मदद से दिन के समय में लाइट बंद हो जाती है और अँधेरा होते ही उसकी लाइट ऑटोमेटिकली जलने लगती है। आजकल गाड़ियों के हेडलाइट्स में भी सेंसर का इस्तेमाल किया जाता है। इसके आलावा स्मार्टफोन और कार-बाइक के बिच कम्यूनिकेट करने के लिए भी सेंसर्स उपयोग में लाए जाते हैं।Mobile Sensor क्या है?  जैसे कि बाइक मोड्स, ड्राइविंग मोड शामिल हैं।

इससे फ़ोन कॉल करने वाले अपोजिट साइड के यूजर को यह पता लग जाता है कि वह अभी बाइक पर है या ड्राइव कर रहा है। घरों के रेफ्रीजरेटर यानी कि फ्रिज में भी सेंसर लगे होते हैं। इसमें सबसे कॉमन सेंसर है डोर लाइट सेंसर। जैसे ही हम फ्रिज का दरवाजा खोलते हैं तो अंदर एक लाइट जलने लगती है और जैसे ही हम फ्रिज का दरवाजा बंद करते हैं तो वो लाइट बंद हो जाती है। ब्लूटूथ या वाई-फाई के इस्तेमाल में भी सेंसर मदद करता है। इनसे हमें यह पता चलता है कि हम पूरी तरह से सेंसर से घिरे हुए हैं।

 

इन्हें भी पढ़ें:-

Types of Android Mobile Sensors-

 

1. Light Mobile Sensor –

 

 Light mobile sensor बहुत अच्छा सेंसर है। लाइट सेंसर फ़ोन की लाइट को कण्ट्रोल करता है । लाइट सेंसर से जब भी आप कम लाइट में आते है, या अँधेरे में आते है तो आपके फ़ोन के डिस्प्ले की लाइट आटोमेटिक  कम हो जाती है, और जैसे ही आप फिर से धुप या ज्यादा रौशनी वाली जगह जाते है फ़ोन की लाइट फिर से बढ़ जाती है। इससे अँधेरे में आपकी आँखे ज्यादा रौशनी के कारण कमजोर नही होगी, और साथ ही फ़ोन की बैटरी भी ज्यादा देर तक चलगी।

 

2. Fingerprint Mobile Sensors –

 

  यह mobile sensor बहुत कम फ़ोन में आता है। लेकिन आजकल यह सेंसर कुछ सस्ते फ़ोन्स में भी आ गया, क्योंकि पहले यह सेंसर सिर्फ महंगे मोबाइल में ही आता था। security की लिहाज में यह सेंसर बहुत ही अच्छा है। जिसकी मदद से आप अपने फ़ोन को और भी ज्यादा सुरक्षित रख सकते है। इसका use करके आप अपना फोन अपनी उंगलियो के निशान से लॉक लगा सकते है, जिसके बाद फ़ोन सिर्फ आपकी ही ऊँगली के निशान से खुलेगा।

यह बहुत ही सुरक्षित लॉक है, कोई और इस लॉक को अपनी फिंगर से कभी भी नहीं खोल सकता।

 

 3. Proximity Mobile Sensor –

 

 लाइट सेंसर की तरह प्रोक्सिमिटी सेंसर भी फ़ोन में लाइट को ही कण्ट्रोल करता है, लेकिन यहा पर ये लाइट को कम या ज्यादा नहीं करता, बल्कि यह लाइट को बंद या चालू करता है, Mobile Sensor क्या है?

जब भी किसी को कॉल लगाते है और बात करने के लिए फ़ोन को अपने कान पर लगाते है । तो यह सेंसर फ़ोन की लाइट बंद कर देता है, इससे बिना वजह फ़ोन की लाइट चालू नहीं रहती जिससे फ़ोन की बैटरी ज्यादा चलती है ।

 

4. Universal Remote Sensor –

 

यह mobile sensor बहुत अच्छा sensor है। Google play store पर आपको बहुत सारे apps मिल जायेंगे जो आपको अपने मोबाइल से TV को कंट्रोल कराते है। हो सकता है कि अपने भी अपनी tv AC को अपने फ़ोन से control करना चाहा हो। यह सब आप Universal Remote Sensor  से ही कर सकते है। हम अपने घर में हर चीज़ जो रिमोट से कण्ट्रोल होती है । उसको मोबाइल से कण्ट्रोल कर सकते है। जैसे टेलीविजन या AC, सेट आप बॉक्स आदि।

 

5. Accelerometer Mobile Sensor–

 

 एक्सीलेरोमीटर का काम यह है कि यह पता लगता है की आपका फ़ोन किस दिशा में मुड़ा हुआ है। यह सेंसर आपको फ़ोन  use करने में बहुत सहायता करता है।

जैसे जब भी आप विडियो देखते है तब यह sensor फ़ोन को  Rotate कर देता है।

 

6. Gyroscope Mobile Sensor –

 

ग्यरोस्कोपे सेंसर एक्सीलेरोमीटर की तरह ही  काम करता है, लेकिन यह सेंसर एक्सीलेरोमीटर से advance है, एक्सीलेरोमीटर आपके फ़ोन की केवल डिस्प्ले ही rotate कर सकता है, लेकिन ग्यरोस्कोपे सेंसर की वजह से आपका फ़ोन यह भी पता कर सकता है की आप कितनी डिग्री तक झुके हुए है । इस सेंसर का सबसे ज्यादा use आप  गेम खेलने में कर सकते है।

 

7.  Magnetometer –

 

 मैग्नेटोमीटर आजकल आने वाले लगभग सभी नए फ़ोन में आता है, इससे आप दिशा का पता लगा सकते है। यह एक दिशा सूचक यन्त्र की तरह काम करता है। इसका use आप जंगल में कर सकते है। क्योकि जंगल में सभी रस्ते एक जैसे होते है इसलिए जंगलो में घूमने वाले या शिकार करने वाले अक्सर इस यन्त्र का उपयोग करते है।

इसके अलावा यह सेंसर लोहे को भी आकर्षित करता है, अगर आप अपने फ़ोन में metal डिटेक्टर इंसटाल कर लेते है। तो आप अपने फ़ोन को मेटल डिटेक्टर की तरह भी इस्तेमाल कर सकते है।

 

8. Thermometer Mobile Sensor –

 

थर्मामीटर के बारे में तो आप सभी जानते होंगे, क्योकि यह हर डॉक्टर के पास आपको होता है, लेकिन एंड्राइड फ़ोन का थर्मामीटर सेंसर थोड़ा अलग होता है, यह आपका बुखार तो नहीं बताता लेकिन आपके दिल की धड़कन का पता लगा सकता है, साथ ही यह आपको बताता है की आपकी सेहत कैसी है।

आजकल एंड्राइड फ़ोन से आप अपनी सेहत का भी ध्यान रख सकते है। इस तरह के सेंसर आपको आपकी सेहत बनाने में हेल्प करते है।

 

9. Air Humidifier Mobile Sensor –

 

यह सेंसर आपको कुछ ही फोन में मिलेगा। यह एक ऐसा सेंसर है, जो आपको यह बतात है की आपके आस पास का मौसम कैसा है। आपके आस पास कितनी गर्मी और कितनी सर्दी है, इस सेंसर का कोई ज्यादा इस्तेमाल नहीं करता है।

 

10. Measure Distance Mobile Sensor –

 

 आजकल कुछ devices में यह सेंसर आने लगा है। इस सेंसर से आप कमरे के एक कोने में खड़े होकर यह चेक कर सकते है की इस कमरे की लंबाई कितनी है, या चौड़ाई कितनी है। इस सेंसर का इस्तेमाल अक्सर मेज़रमेंट लेने वाले है, हमने कुछ इंटीरियर डिज़ाइनर को यह सेंसर इस्तेमाल करते हुए देखा भी है.

 

इन्हें भी पढ़ें:-

11.Barometer sensor –

 

इसे Altimeter भी कहा जाता हैं. यह सेंसर  बायुमंडल की दबाब या environmental pressure और तापमान  को मापने के लिए काम में आता हैं. और समुद्र ताल यानी sea level से कितनी height या उचाई  पर हैं इसको भी मापने के लिए काम में आता हैं.

यह सेंसर बहुत ही कम मोबाइल फ़ोन में देखने को मिलता हैं. यह सेंसर ज्यादातर आप को smart watch में देखने को मिल जाएंगा.

 

12. Heart rate sensor –

 

यह सेंसर Heart beat की rate को मापने का काम करता हैं जिससे की हमें हार्ट की condition के बारे में पता लगापाते हैं.

यह सेंसर आम तौर पर smart band और smart watch में देखने को मिलता हैं पर कुछ मोबाइल फ़ोन जैसे की Samsung के S8, S9 मॉडल में देखने को मिल जाता हैं जो मोबाइल की पीछे बलि कैमरा के बगल में पाया जाता हैं.

 

13. Hall sensor –

 

इस सेंसर की मदत से मोबाइल की screen को automatic on या off किया जा सकता हैं. इस के लिए एक magnetic flip cover चाहिए होता हैं जिसमें की एक Magnet लगा हुआ होता हैं. जब cover को मोबाइल के display के ऊपर ढक दिया जाता हैं तो वह मैगनेट उस सेंसर के संपर्क में आते ही मोबाइल की screen को off कर देता हैं और cover को display के ऊपर से हटा दिया जाता हैं तो screen on हो जाता हैं.

इस सेंसर की बजह से आप को manually screen को on या off करना नहीं पड़ता वह काम सेंसर कर देता हैं और इस के साथ ही साथ आप की बैटरी की भी बचत होती हैं.

 

14. Distance sensor –

 

इस सेंसर  का नाम से ही पता चल जा रहा हैं की इस का काम दुरी को मापना हैं.

यह सेंसर दुरी को मापने के लिए signal का उपयोग करता हैं जैसे की Ultrasonic wave, Infrared आदी और  कितने देरी में वह signal वापस आता हैं उस को Measure करके दूरी का पता लगाया जाता हैं.

इसकी मदत से एक कमरे की उचाई चौडाई को मापा जा सकता हैं. और यह सेंसर सभी स्मार्ट फ़ोन में नहीं आता हैं कुछ मेहेंगे फ़ोन को छोड़ कर.

 

15. Barcode sensor –

 

इस सेंसर का काम हैं Barcode को स्कैन करना. Barcode एक image  होता हैं जिसमें काले और सफ़ेद रंग के समानांतर रेखाएं होती हैं जिसको स्कैन करके किसी भी product की expiry date , manufacturing date, price आदी के बारे में पता लगाया जाता  हैं. और इसका रेंज इसके मैग्नेटिक स्पेक्ट्रम के ऊपर निर्भर करता हैं.

मोबाइल फ़ोन्स में और भी कई तरह के सेंसर use होते हैं जो मोबाइल कंपनियां के तरफ से दिए जाते हैं जैसे की RGB sensor, Grip sensor, Step counter or step detector sensor etc.

 

16.थर्मोमीटर सेंसर

 

थर्मोमीटर सेंसर की मदद से हम किसी उपकरण के अंदर का तापमान और बहार के वातावरण का तापमान का पाता लगा सकते हैं। Mobile Sensor क्या है? इस सेंसर का उपयोग ज्यादातर फ़ोन में किया जाता है। लेकिन इनके आलावा भी कई उपकरण हैं जहाँ थर्मोमीटर सेंसर का उपयोग होता है। जैसे कि माइक्रोवेव ओवन, फ्रिज इत्यादि। इसी सेंसर की मदद से फ़ोन के द्वारा हम यह जान पाते हैं कि हमारे आस पास के वातावरण का तापमान क्या है। या फिर आज मौसम कैसा रहेगा। इन सभी चीजों को हम थर्मोमीटर सेंसर की मदद से जान पाते हैं।

 

 17.बायोसेंसर

 

बायोसेंसर एक तरह का एनालिटिकल टूल है जो किसी रासायनिक पदार्थ का पता लगाने के लिए उपयोग में लाया जाता है। बायोसेंसर जैविक तत्व, उदा, ऊतक, सूक्ष्मजीव, ऑर्गेनेल, सेल रिसेप्टर्स, एंजाइम, एंटीबॉडी, नुक्लेरिक एसिड इत्यादि, एक जैविक रूप से उत्पन्न हुए सामग्री या बायोमेटिक घटकों का पता लगाते हैं।

 

18.अल्ट्रासोनिक सेंसर

 

अल्ट्रासोनिक सेंसर काफी उपयोगी माना जाता है। इसका उपयोग दुरी को निर्धारित करने में किया जाता है। इसकी मदद से सामने के किसी भी ऑब्जेक्ट को डिटेक्ट किया जा सकता है। यह आर्डुइनो प्रोजेक्ट रडार के माध्यम से काम करता है। इसका उपयोग सेल्फ ड्राइविंग कार, रोबोट्स के आँखों और सुरक्षा उपकरणों जैसे कई चीजों में किया जाता है।

 

19.हार्ट रेट सेंसर

 

हार्ट रेट सेंसर का उपयोग शरीर में हार्ट रेट को मापने के लिए किया जाता है। मनुष्य के स्वास्थ्य की जानकारी और स्वस्थ्य की निगरानी रखने के लिए इस सेंसर को बनाया गया है। यह सेंसर ज्यादातर फिटनेस बैंड स्मार्टवॉच में देखने को मिलता है।

 

20. आईरिस सेंसर

 

आईरिस सेंसर का उपयोग फेस डिटेक्टर के रूप में किया जाता है। यह मनुष्य के चेहरे और आँखों को डिटेक्ट करता है। इस सेंसर का उपयोग ज्यादातर सिक्योरिटी के रूप में किया जाता है। बैंकों और बड़ी इंडस्ट्रियों में इस सेंसर का उपयोग किया जाता है। लेकिन आजकल इस सेंसर का उपयोग ज्यादातर फ़ोन में किया जा रहा है। आजकल लगभग सभी स्मार्टफोन में इस सेंसर का उपयोग फेस लॉक के तौर पर किया जाता है।

 

21. स्पॉट सेंसर

 

स्पॉट सेंसर मनुष्य के शरीर की निगरानी करता है। इसकी मदद से शरीर में रक्त और अन्य सभी चीजों की जानकारी प्रदान करता है। इस सेंसर का उपयोग कुछ स्मार्टफोन और स्मार्टवॉच फिटनेस बैंड में किया जाता है।

 

22. हॉल सेंसर

 

हॉल सेंसर का उपयोग स्मार्टफोन में किया जाता है। जब हम स्मार्टफोन डिस्प्ले के ऊपर फ्लिप कवर या कुछ मेटल रखते हैं तो फ़ोन डिस्प्ले ऑफ हो जाता है और जैसे ही उसे डिस्प्ले के ऊपर से हटाते हैं तो फ़ोन का डिस्प्ले ऑन हो जाता है। यह हॉल सेंसर की मदद से ही होता है।

 

इन्हें भी पढ़ें:-

Conclusion

 

तो दोस्तों आपको मेरी यह लेख Mobile Sensor क्या है? और Mobile Sensor क्या उपयोग होता है। जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


 

Leave a Comment

error: Content is protected !!