OTT Platform क्या है ? Full Form – OTT Meaning in Hindi

 

Contents

OTT प्लेटफॉर्म क्या है 

आज का दौर ऐसा हैं जहाँ पहले कई सारे काम ऐसे थे जिनके लिए लोगों को बाहर जाना होता था, OTT Platform क्या है किन्तु अब वे काम उनके मोबाइल फोन से हो जाता हैं. इसका सबसे बड़ा कारण हैं इन्टरनेट. आज हर एक व्यक्ति इन्टरनेट का उपयोग करता है. फिर चाहे उन्हें टेलीविज़न पर कुछ देखना ही क्यों न हो. अब कुछ लोग बिना ऐड के अपने मोबाइल फोन पर ही किसी भी समय यह देखना पसंद करते हैं.

ऐसे में आपको बता दें कि इन टेलीविज़न शोज की जगह अब वेब सीरीज ने ले ली हैं. जिसके चलते ओटीटी प्लेटफॉर्म का निर्माण किया गया हैं. किन्तु अब इससे भी खास बात यह हैं कि कोरोनावायरस की वजह से लगे लॉकडाउन के चलते बॉलीवुड ने भी अब अपनी फ़िल्में इन्हीं ओटीटी प्लेटफॉर्म में रिलीज़ करने का निर्णय ले लिया हैं. अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर ये ओटीटी हैं क्या, तो आइये इसके बारे में आपको विस्तार से इस लेख में बताते है. 

 

OTT Platform क्या है ? Full Form  – OTT Meaning in Hindi
TEJWIKI.IN

OTT क्या होता है ( OTT  Platforms Meaning in Hindi)

 

ओटीटी (OTT Platform meaning in Hindi) इंटरनेट की दुनिया से जुड़ा हुआ शब्द है और ये इंटरनेट दुनिया की आधुनिक टेक्नोलॉजी है। OTT इंटरटेनमेंट Platforms है और इस Platforms पर जाकर आप फिल्म और सीरीज देख सकते हैं। आज के समय में लोगों के पास समय की कमी होती है और ऐसे में कई सारी फिल्म और सीरीज को इस Platforms पर ही रिलीज किया जाता है। यानी आप अपने फोन पर कहीं भी कभी भी इस Platforms पर जाकर फिल्में देख सकते हैं।

 

OTT ऐप क्या है ? | OTT Apps Meaning in Hindi

 

OTT Apps पर ओटीटी कंटेंट जैसे वेब सीरीज, फिल्में आदि देखी जा सकते है । इंटरनेट और OTT Apps के जरिए फिल्म या टेलीविजन कंटेंट उपलब्ध कराया जाता है, जो ग्राहकों के लिए उनकी मांग के अनुसार उपलब्ध होता है या इसे उनकी आवश्यकता के अनुरूप बनाकर दिया जाता है ।

आजकल कई OTT Apps या ओटीटी प्लेटफॉर्म उपलब्ध है और इनमें से कई प्लेटफॉर्म अपनी Web Series ( वेब सीरीज ) के लिए जाने जाते है । कई सारे ओटीटी ऐप की लोकप्रियता वेब सीरीज के कारण काफी तेजी से बढ़ी है ।

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

OTT Services के बारे में कुछ बेसिक जानकारी? 

 

  • OTT content को access करने के लिए internet connection की जरुरत पडता है, यानी की OTT content को internet के जरिए उपलब्ध किया जाता है|
  • United States of America में यह OTT platforms बहुत ही ज्यादा मात्रा में लोकप्रिय है और पिछले कुछ सालों में India में भी OTT platforms को काफी ज्यादा उपयोग किया जा रहा है| 
  • OTT platforms पर video streaming service पुरी दुनिया भर में बहुत ही तेज से बढ रही है| 
  • OTT platforms के research के अनुसार यह पता चलता है की आने वाला कुछ सालों के बाद entertainment के लिए OTT services को ही सबसे ज्यादा उपयोग किया जाएगा| 

 

OTT और पुराने तरीके में क्या अंतर है

 

जब आप टीवी पर देखते थे तो चैनल वाले decide करते थे की कब आप क्या देख सकते है और ऐसे में कभी कभी आप अपने मनपसंद चीज नही देख पाते थे या ये भी होता था की बच्चे या अलग अलग age ग्रुप के लिए अलग अलग कोई सिस्टम नही था

लेकिन OTT प्लेटफार्म का जब इस्तेमाल करेंगे तो आप अपने इच्छा अनुसार ये decide कर सकते की कब क्या देखना है और अगर कंटेंट क्वालिटी की बात करे तो OTT पर आपको सबसे अच्छे क्वालिटी का कंटेंट देखने को मिलेगा

OTT पर पहले तो सिर्फ वेब series पोपुलर हुआ लेकिन अब बहुत सरे फिल्म भी OTT प्लेटफार्म पर रिलीज़ होने शुरू हो चुके है |

 

OTT platform क्यों देखते है ( OTT platform kya hai)

 

OTT प्लेटफार्म क्या है ये तो जानेंगे ही लेकिन इससे पहले ये जानना भी जरूरी है कि आखिर ओटीटी प्लेटफॉर्म क्यों जरूरी हो गया ओर इतना तेजी से लोगो के दिमाग में क्यों घुसता चला जा रहा है। क्या फायदे है , क्या नुकसान दायक भी है। तो आपके बता दे फायदे ओर नुकसान तो इंसान को समजदरी का हिस्सा है। लेकिन जरूरी इसलिए हो गया क्यूंकि आज हर कोई अपने smartphone में अपनी पसंद का video , movie, tv show देखना पसंद करता है, 

OTT प्लेटफार्म ऐसा है OTT Platform क्या है जिसे लोग कही पर बैठा हो जो मरजी मनोरंजन के साधन देख सकता है चाहे वो ट्रैवल कर रहा हो या कहीं अक्केला बैठा हो वह अब टेलीविजन का मोहताज नहीं है। ओर दूसरी बात प्रत्येक इंसान की सोच ओर पसंद अलग होती है। ओर वो अपनी पसंद का मसाला देखेगा किसी ओर की पसंद की फिल्म या टीवी शो नहीं देखेगा ओर बिना aid के देखना पसंद करते है इसीलिए OTT platform जरूरी होता जा रहा है।

 

 

OTT एप के उदाहरण | OTT App Example

 

Netflix, Amazon Prime, Hotstar आदि ओटीटी एप के उदाहरण है ।

इंटरनेट के बढ़ने के साथ नेटफ्लिक्स जैसी कंपनियों ने बहुत से लोगों के मनोरंजन के तरीके को बदला है । आज के समय Netflix और Amazon Prime सबसे ज्यादा लोकप्रिय है ।

 

Over-The-Top (OTT) सर्विस के फायदे

 

आमतौर पर हमे अपने पसंदीदा प्रोग्राम या फिल्में देखने के लिए केबल टीवी कनेक्शन या डीटीएच कनेक्शन की जरूरत होती है ,लेकिन आजकल ओटीटी कंटेंट देखने के लिए यूजर को केवल इंटरनेट कनेक्टिविटी और एक हार्डवेयर डिवाइस की जरूरत होती है ।

OTT Platform पर ऐसे ओरिजनल कंटेंट, वेब सीरीज, डॉक्यूमेंट्री आदि देख सकते है, जो किसी अन्य प्लेटफॉर्म पर उपलब्ध नही होते है ।

पिछले कुछ सालों में ओटीटी प्रोवाइडर जैसे Amazon Prime और नेटफ्लिक्स अपने खुद के ओरिजनल कंटेट या सीरीज बना रहे है, जो Exclusive उनकी सर्विस पर उपलब्ध होते है ।

Over-The -Top (OTT) Technology ग्राहकों के लिए काफी सुविधाजनक होती है । लोग अपने अनुसार विभिन्न प्रकार की OTT Apps का उपयोग कर सकते है । OTT के द्वारा अपने पसंद का कोई भी कंटेंट, किसी भी जगह देखा जा सकता है ।

पहले के समय मनोरंजन के लिए टीवी की जरूरत होती थी, टीवी चैनल पर प्रोग्राम के लिए टेलिविजन जरूरी था । लेकिन आज के समय OTT के जरिए कंटेंट को विभिन्न प्रकार के डिवाइस जैसे स्मार्ट टीवी, स्मार्टफोन, टैबलेट आदि पर देखा जा सकता है ।

मोबाइल फोन डिवाइस या स्मार्टफोन, टैबलेट के लिए OTT Apps उपलब्ध होती है, जिन्हें एप स्टोर से डाऊनलोड किया जा सकता है । बहुत से Smart TV बाजार में आ चुके है और इनमें OTT App का सपोर्ट भी दिया जा रहा है ।

कंप्यूटर या लैपटॉप के लिए भी OTT Service आसानी से उपलब्ध है । इसके अलावा Digital Media Players और Streaming Device जैसे Chromecast, Amazon Fire sticks, Apple TV के जरिए भी OTT Content देखे जा सकते है ।

 

OTT प्लेटफॉर्म सर्विसेज के प्रकार (OTT Platform Services Types)

 

ओटीटी प्लेटफॉर्म की सर्विसेज 3 प्रकार की होती हैं जिसकी जानकारी इस प्रकार हैं –

ट्रांसक्शनल वीडियो ऑन डिमांड (टीवीओडी) :-

ओटीटी प्लेटफॉर्म की इस टीवीओडी सर्विस में यह सुविधा दी जाती हैं कि यदि ग्राहक अपने किसी पंसदीदा टेलीविज़न शो या फिल्म को एक बार देखना चाहते हैं, तो इसके जरिये वे किराए पर ये देख सकते हैं, या इसे खरीदा भी जा सकता है. उदहारण के लिए एप्पल आईट्यून्स आदि.

सब्सक्रिप्शन वीडियो ऑन डिमांड (एसवीओडी) :-

यदि ग्राहक वीडियो स्ट्रीमिंग कंटेंट देखना पसंद करते हैं तो उन्हें इसके लिए सब्सक्रिप्शन लेना होता है, और सब्सक्रिप्शन के लिए उन्हें कुछ भुगतान करने की आवश्यकता होती हैं. बहुत से ऐसे प्लेटफॉर्म हैं जिसमें ग्राहक ओरिजिनल कंटेंट देख सकते हैं. उदहारण के लिए नेटफ्लिक्स, अमेज़न प्राइम आदि.

एडवरटाइजिंग वीडियो ऑन डिमांड (एवीओडी) :-

इस ओटीटी सर्विस में विज्ञापन मौजूद होते हैं. इसमें ग्राहक मुफ्त में कंटेंट देख सकते हैं, लेकिन ये कंटेंट देखने के साथ ही उन्हें बीच – बीच में एड्स भी देखने पड़ते हैं जोकि कोई भी वीडियो एड्स हो सकते हैं. 

 

OTT Services के बारे में कुछ बेसिक जानकारी? 

 

  • OTT content को access करने के लिए internet connection की जरुरत पडता है, यानी की OTT content को internet के जरिए उपलब्ध किया जाता है|
  • United States of America में यह OTT platforms बहुत ही ज्यादा मात्रा में लोकप्रिय है और पिछले कुछ सालों में India में भी OTT platforms को काफी ज्यादा उपयोग किया जा रहा है| 
  • OTT platforms पर video streaming service पुरी दुनिया भर में बहुत ही तेज से बढ रही है| 
  • OTT platforms के research के अनुसार यह पता चलता है की आने वाला कुछ सालों के बाद entertainment के लिए OTT services को ही सबसे ज्यादा उपयोग किया जाएगा| 

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

भारत में लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफार्म कौन – कौन से हैं (Top OTT Platforms

in India)

भारत में सबसे ज्यादा लोकप्रिय ओटीटी प्लेटफॉर्म इस प्रकार हैं –

हॉटस्टार :-

यह भारतीय बाजार में छाया हुआ वर्तमान में 400 मिलियन से भी अधिक मासिक आधार पर सक्रिय यूजर्स के साथ डिज्नी के स्वामित्व वाला ओटीटी प्लेटफॉर्म है. यह विशेष रूप से लाइव स्पोर्ट्स प्रोग्रामिंग और गेम ऑफ़ थ्रोंस जैसे सुपरहिट शोज को प्रदर्शित करने के लिए लोकप्रिय है. यह प्लेटफॉर्म जो कंटेंट प्रदर्शित करता है उसे बिना सब्सक्रिप्शन सर्विस के भी देखा जा सकता है.

नेटफ्लिक्स :-

वीडियो स्ट्रीमिंग की सबसे ज्यादा लोकप्रिय कंपनी नेटफ्लिक्स सन 2016 में भारत आई. इसके आने के 4 महीने के बाद ओरिजिनल भारतीय सीरीज सेक्रेड गेम्स इसमें रिलीज़ हुई. इसके बाद तो भारत में सस्ते इन्टरनेट प्लान, ओरिजिनल शो, रियलिटी टीवी सीरीज, फ़िल्में रिलीज़ की गई और फिर इसमें सब्सक्रिप्शन लेने की क्षमता में बढ़ोत्तरी होती गई. 

अमेज़न प्राइम वीडियो :-

इस ओटीटी कंपनी ने भारत के अधिक ओरिजिनल भारतीय कंटेंट के उत्पादन के लिए इसे क्षेत्रीय भाषा के साथ प्रदर्शित किया. जनवरी 2020 में अपनी यात्रा के दौरान अमेज़न के सीईओ जेफ़ बेजोस ने भारत में अमेजन प्राइम वीडियो के निवेश को दोगुना करने की घोषणा की.    

ऑल्टबालाजी :-

यह भारतीय कंपनी हैं जोकि एकता कपूर के बालाजी टेलीफिल्म्स की एक घरेलू वीडियो स्ट्रीमिंग सर्विस है, जोकि भारत में टियर 2 और टियर 3 शहरों को टारगेट करती हैं. इस कंपनी को मुकेश अम्बानी की रिलायंस इंडस्ट्रीज लिमिटेड द्वारा समर्थित किया गया है.

सोनीलिव :-

डिज्नी द्वारा समर्थित हॉटस्टार के नक्शेकदम पर चलते हुए सोनी ने सन 2013 में अपनी खुद की ओटीटी सर्विस शुरू की, और स्ट्रीमिंग मार्केट में कदम रखा. यह फिर तेजी से बढ़ने लगा. पिछले साल इस एप के 100 मिलियन डाउनलोड पार हो गये. हॉटस्टार की तरह सोनीलिव ने भी भारत में विकास प्राप्त करने के लिए कई वैश्विक फुटबॉल टूर्नामेंट को लाइव स्पॉट्स प्रदर्शित किये. इसके साथ ही इसने गेमिंग और कुछ मिनी – गेम भी चलाए है.

ज़ी5 :-

ज़ी5 ओटीटी प्लेटफॉर्म सन 2018 में लांच हुआ था. यह 100k घंटों के ऑन – डिमांड कंटेंट और 80 से अधिक लाइव टीवी चैनल का घर है. यह प्लेटफॉर्म की मुख्य विशेषता यह हैं कि यह विभिन्न भाषाओँ को सपोर्ट करता है, OTT Platform क्या है और वोइस सर्च, लाइव टीवी के साथ ही और भी बहुत कुछ प्रदान करता है. ज़ी5 इस साल के अंत तक बाइटडांसेज टिकटॉक लेने के लिए शोर्ट फॉर्म कंटेंट एप्प हाइपरशॉट्स भी लांच करने जा रहा है.

वूट :-

सन 2016 में लांच किया गया वायाकॉम 18’s वूट ने अपने टीवी चैनल्स के बंच के साथ 45 हजार से भी अधिक घंटों के कंटेंट को खरीद लिया. जिसमें कलर्स टीवी, एमटीवी, निकेलोडियन, वायाकॉम 18 मोशन पिक्चर्स और एमटीवी इंडीज शामिल है. यह भी विभिन्न भाषाओँ के कंटेंट प्रदान करता है.

एमएक्स प्लेयर :-

टाइम्स इन्टरनेट द्वारा समर्थित एमएक्स प्लेयर ने फरवरी 2019 में 5 ओरिजिनल वेब सीरीज के साथ ओरिजिनल कंटेंट का निर्माण किया. भारत के सबसे लोकप्रिय वीडियो स्ट्रीमिंग एप्प के रूप में नामित होने के बाद एमएक्स प्लेयर ने हालही में अपने वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म पर इन – एप्प गेमिंग फीचर ऐड किया है.

 

 

भारत का ओटीटी प्लेटफार्म में भविष्य (Future in OTT India)

 

ओवर – द – टॉप मीडिया प्लेटफॉर्म विश्व स्तर पर हाल के सबसे ज्यादा ट्रेंडिंग प्लेटफॉर्म हैं और इसमें भारत भी पीछे नहीं है. OTT Platform क्या है  भारत में इसे एक शब्द ‘अवसर’ के द्वारा वर्णित किया जा सकता है. OTT Platform क्या है सन 2019 के अंत तक 150 मिलियन भारतीय सक्रिय रूप से वीडियो ओटीटी प्लेटफॉर्म का उपयोग करते थे. जिनमें से 50 % 2 टियर शहरों के थे. और यह दिन प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है. इसलिए विशेषज्ञों का भी यही कहना है कि आने वाले समय में भारत में ओटीटी प्लेटफॉर्म का बाजार बहुत ही अधिक यानि दोगुना बढ सकता है. अतः भविष्य में भारत में अधिकतर लोग इसी का उपयोग कर इसे और भी अधिक ऊँचाइयों तक पहुंचा सकते हैं. 

इस तरह से आज ओटीटी प्लेटफॉर्म भारत के साथ ही दुनिया के कई हिस्सों में बहुत ही अधिक प्रसिद्ध हो गया है. इसमें अब बहुत ही फ़िल्में भी रिलीज़ होने लगी हैं. हालही में फिल्म गुलाबो सिताबो का ट्रेलर नेटफ्लिक्स में रिलीज़ किया गया है.

 

Important Point Of OTT (ओटीटी प्लेटफॉर्म)

 

  • पूरी दुनिया में सबसे तेजी से बढ़ने वाला व्यवसाय ओटीटी प्लेटफॉर्म है।
  • अमेरिका और अन्य देशों के लगभग 40% से ज्यादा एंटरटेनर यूजर ओटीटी प्लेटफॉर्म का इस्तेमाल करते हैं।
  • पूरी दुनिया में सबसे ज्यादा फेमस और सबसे बड़ी और टीटी सर्विस प्रोवाइडर नेटफ्लिक्स की है।
  • सबसे ज्यादा सब्सक्राइबर भारत में डिजनी हॉटस्टार और दूसरे नंबर पर अमेजॉन प्राइम वीडियो के हैं।
  • सिस्को के एक रिसर्च के अनुसार 80% इंटरनेट ट्रैफिक वीडियो के कारण होगा।
  •  भारत का कुल सिनेमा का बाजार लगभग 15000 करोड रुपए का है जिसकी ओटीटी प्लेटफॉर्म 2023 तक बराबरी कर लेगा।
  • सन 2000 तक ही ओटीटी प्लेटफॉर्म 5000 करोड़ रुपए तक पहुंच चुका है।

 

OTT  प्लेटफॉर्म में दी जाने वाली सर्विसेज के फायदे (OTT Platform Services Benefits):

 

  • जहाँ लोगों को टीवी शोज एवं फ़िल्में या कुछ भी पसंदीदा प्रोग्राम देखने के लिए केबल टीवी कनेक्शन या डीटीएच कनेक्शन की आवश्यकता होती हैं वहां अब लोग केवल इन्टरनेट कनेक्टिविटी का उपयोग करके अपने पसंदीदा शो जब चाहे तब देख सकते हैं|
  • ओटीटी प्लेटफॉर्म पर लोग वेब सीरीज, डॉक्यूमेंटरी एवं जो भी कंटेंट वे देखते हैं वह सब ओरीजिनल होते हैं. जोकि किसी प्लेटफॉर्म में नहीं होता है|
  • कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म ऐसे हैं जोकि खुद के कंटेंट या सीरीज बनाकर इसमें डालते हैं, ये अमेज़न प्राइम वीडियो एवं नेटफ्लिक्स जैसे कुछ ओटीटी प्लेटफॉर्म हैं|
  • इस तकनीक के माध्यम से लोगों को काफी सुविधा हो गई है. क्योकि लोग जब चाहे तब अपने पसंद के अनुसार एवं जो भी ओटीटी एप्प का उपयोग करना चाहें वह कर सकते हैं|
  • आज के समय में लोग टीवी यानि टेलीविज़न के स्थान पर स्मार्ट टीवी, स्मार्ट फोन एवं टैबलेट जैसे डिवाइस खरीद रहे हैं इसका मुख्य कारण ओटीटी प्लेटफॉर्म ही हैं, क्योकि लोग अब इन डिवाइस पर ओटीटी को कनेक्ट करके उसमें ये शोज देख लेते हैं|
  • ये ओटीटी प्लेटफॉर्म एप्प को लोग आसानी से अपने मोबाइल फोन या टेबलेट पर प्लेस्टोर से डाउनलोड कर सकते हैं. और इसे अपनी स्मार्टटीवी से कनेक्ट कर अपने पसंद के शोज एवं फ़िल्में देख सकते हैं|
  • ओटीटी का सबसे अच्छा फायदा यह है कि लोगों को इसके लिए इन्तेजार नहीं करना पड़ता, उन्हें जिस समय जो कंटेंट देखना हो वह देख सकते हैं. यह इसकी सबसे खास बात है. 
  • अब ओटीटी प्लेटफॉर्म में बॉलीवुड की 2020 में आने वाली कुछ फ़िल्मेंभी रिलीज़ होने वाली हैं, जिससे लोगों को अपने घर में ही अपने परिवार के साथ ये मूवीज देखने का मौका मिलेगा|

 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों आपको मेरी यह लेख OTT Platform क्या है ? Full Form – OTT Meaning in Hindi जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


 

Leave a Comment

error: Content is protected !!