हार्डवेयर क्या है , हार्डवेयर के प्रकार पूरी जानकारी

 

क्या आपको पता है के हार्डवेयर क्या है? अगर आप इन्ही सवालों को ढूंडते हुए आए हैं तो आप बिलकुल सही जगह पे हैं. आपको पता ही होगा Computer में मुख्य रूप से दो Parts होते हैं एक तो Software और दूसरा Hardware. Software जिनको Computer Program भी कहते हैं. सॉफ्टवेर जिनको आप हर रोज अपने mobile और computer में use करते हैं. Software के EX- VLC, Chrome, Internet Explorer, MS-WORD, MS-POWERPOINT, Photoshop, pdf reader और Operating System (Android, Windows, MAC, UNIX).

क्या कभी आप सोचे हैं, ये सारे “Software बिना Hardware के कुछ भी नहीं हैं”. एक बार सोचो बिना Keyboard के आप MS-WORD में कैसे लिखोगे. बिना Mouse के Photoshop में Edit भी नहीं कर सकते. pdf book को कहीं hard disk में Store ही नहीं करगे तो Adobe Reader से पढोगे कैसे. तो सायद मेरी बातें आपको थोड़ी बहुत समझ आ रही हैं. Keyboard, Mouse, hard disk, Monitor, Motherboard, CPU, UPS, Speaker ये सभी एक एक Hardware हैं.

 

हार्डवेयर क्या है , हार्डवेयर के प्रकार पूरी जानकारी
TEJWIKI.IN

हार्डवेयर क्या है (What is Hardware in Hindi?)

 

कंप्यूटर के फिजिकल पार्ट्स जिन्हें हम देख व छू सकते है, “Hardware” कहलाते है। उदाहरण के लिये Keyboard, Mouse, Monitor, Printer, and Motherboard etc. सभी Computer Hardware है। असल मे हार्डवेयर एक सामूहिक शब्द है, जिसका उपयोग Computer Parts का वर्णन करने के लिए किया जाता है। हार्डवेयर को आमतौर पर किसी भी कमांड या निर्देशों (Instructions) को ए᠎̮क्सिक्‍यूट्‌ करने के लिये Software द्वारा निर्देशित किया जाता है।

हार्डवेयर (HW) के बिना कंप्यूटर का कोई अस्तित्व नही है। क्योंकि इनके मिलने से ही एक कंप्यूटर पूर्ण हो पाता है। इसका एक सरल उदाहरण अभी आप जिस स्क्रीन में इस लेख को पढ़ रहे है, चाहे वह कंप्यूटर हो या मोबाइल फोन उसकी स्क्रीन एक हार्डवेयर है।

 

Hardware का मतलब (Hardwaremeaning in hindi)

 

कंप्यूटर के भौतिक घटक को हार्डवेयर कहा जाता है। अगर मैं आपको आसान भाषा में समझाऊं तो कंप्यूटर के जिस हिस्से को हम देखते और छूते हैं उसे हार्डवेयर कहते हैं। कंप्यूटर में सभी आउटपुट डिवाइस, इनपुट डिवाइस, स्टोरेज डिवाइस सभी पेरिफेरल हैं। हार्डवेयर के बिना कंप्यूटर की कल्पना नहीं की जा सकती और न ही बिना हार्डवेयर के कंप्यूटर की कल्पना की जा सकती है। हम हार्डवेयर के बिना किसी भी सॉफ्टवेयर का उपयोग नहीं कर सकते हैं। दोस्तों सॉफ्टवेयर वो है जो हम देखते हैं, लेकिन उसे Touch नहीं कर सकते।

एक पूर्ण विकसित कंप्यूटर हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के संयोजन से ही बनता है। हार्डवेयर के बिना कंप्यूटर का अस्तित्व नहीं है। उदाहरण के लिए – क्योंकि यह ब्लॉग (Hardware Kya Hai) इस ब्लॉग को आपकी स्क्रीन पर पढ़ता है, चाहे मोबाइल हो या कंप्यूटर, इसकी स्क्रीन भी उस हार्डवेयर का हिस्सा है जो आउटपुट डिवाइस की श्रेणी में आता है।

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

हार्डवेयर की परिभाषा (Definition Of Computer Hardware in Hindi) 

 

हार्डवेयर computer का भौतिक भाग होता है. जिसमे कई डिजिटल सर्किट लगे होते है। किसी कंप्यूटर का hardware उसके software के साथ मिलकर कार्य करता है और यूजर को उसके निर्देशों के अनुसार ऑउटपुट प्रदान करता है। कंप्यूटर हार्डवेयर (Computer Hardware) के बिना कंप्यूटर या कंप्यूटर सॉफ्टवेयर (Computer Software) का अस्तित्व न के बराबर होता है। हार्डवेयर की परिभाषा (Definition Of Computer Hardware) की बात करे तो आप कंप्यूटर हार्डवेयर को निम्न तरह से समझ सकते है।

वह सभी उपकरण जो कंप्यूटर पर कार्य करने में मदद करते है। कंप्यूटर के फिज़िकल पार्ट्स, जिन्हे हम छू सकते है, देख सकते है कंप्यूटर हार्डवेयर (Computer Hardware) कहलाते है। जैसे : कीबोर्ड, माउस, प्रिंटर, CPU, मदर बोर्ड आदि।

 

What is Computer Hardware in Hindi-कंप्यूटर हार्डवेयर किसे कहते है?

 

कंप्यूटर हार्डवेयर फिजिकल कम्पोनेंट्स है जो एक कंप्यूटर सिस्टम को कार्य करने में बहुत ही आवश्यक है। बिना किसी हार्डवेयर के आप कंप्यूटर की कल्पना नहीं कर सकते और सॉफ्टवेयर का उपयोग नहीं किया जा सकता है।

कंप्यूटर हार्डवेयर का मतलब कंप्यूटर का कोई भी पार्ट  जिसे हम देख और छू सकते हैं वह सब हार्डवेयर है। यह प्राथमिक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण हैं जिनका उपयोग कंप्यूटर बनाने के लिए किया जाता है। कंप्यूटर में हार्डवेयर के उदाहरण प्रोसेसर, मेमोरी डिवाइस, मॉनिटर, प्रिंटर, कीबोर्ड, माउस और सेंट्रल प्रोसेसिंग यूनिट आदि हैं।

Example

जैसा कि हमने बताया हार्डवेयर के कई उदाहरण हैं। मुख्य रूप से कंप्यूटर हार्डवेयर को तीन श्रेणियों में वर्गीकृत किया जाता है – इनपुट, आउटपुट और प्रोसेसिंग डिवाइस।

Hardware Ki Jankari Hindi Me

 

यदि आपके मन में यह सवाल है, की हार्डवेयर का हिंदी नाम क्या है, या Hardware को हिंदी में क्या कहते है?, तो हम आपको बता दें कि हार्डवेयर का हिंदी अर्थ “हार्डवेयर” ही है।

अब आप यह सोच रहे होंगे, की आखिर हार्डवेयर का फुल फॉर्म क्या है (Hardware Full Form in Hindi) या हार्डवेयर का पूरा नाम क्या है?
तो इसका जवाब है कि, हार्डवेयर का कोई फूल फॉर्म नहीं है “Hardware” अपने आप में एक पूरा नाम है।

कम्प्यूटर हार्डवेयर के प्रकार – Type of Compute Hardware in Hindi?

 

1. System Unit

यह एक प्रकार का कंटेनर होता है, जिसमें कम्प्यूटर के अनेक इलेक्ट्रॉनिक उपकरण लगे होते है. इसका आकार एक छोटे बक्से के समान होता है. इसे आम भाषा में CPU भी कहते है. जो गलत हैं.

2. Input Devices

Input Device वे उपकरण होते है, जो यूजर द्वारा दिए गए निर्देशों को कम्प्यूटर तक पहुँचाते है. इनके द्वारा ही आप अपना आदेश कम्प्यूटर तक पहुँचाते है. इसके बाद ही कम्प्यूटर अपना कार्य करता हैं.

कुछ प्रचलित इनपुट डिवाइस:

  • Keyboard
  • Mouse
  • Scanner
  • Touchscreen

3. Output Devices

वे उपकरण होते है, जो प्रोसेस्ड सूचनाओ को मानव द्वारा समझने लायक रूप में प्रदशित करते है आउटपुट डिवाइस कहलाते है.

यानि आप जो काम करना चाहते है उसका परिणाम हमे जिन उपकरणों की मदद से प्राप्त होता है. उन्हे आउटपुट डिवाइस कहते हैं.

सबसे प्रचलित आउटपुट डिवाइस है:

  • Monitor
  • Speaker
  • Printer
  • Touchscreen

4. Internal Parts

कम्प्यूटर के वे भाग जो सिस्टम यूनिट के भीतर स्थित होते हैं, उन्हे आंतरिक उपकरण कहते हैं. इन्हे आप बाहर नही देख सकते हैं तथा ये नाजुक होते हैं. इसलिए इनकी सुरक्षा के लिए ही इन्हे Computer Case की जरूरत पडती हैं.

कुछ आंतरिक उपकरण

  • Motherboard
  • CPU
  • Hard Disk Drive
  • RAM
  • SMPS
  • DVD Writer

5. Communication Devices

इन उपकरणों में हम उन डिवाइसेस को रखते है, जो एक कम्प्युटर को दूसरे कम्प्युटर से संपर्क करने के योग्य बनाते है. इस श्रेणी में सबसे प्रचलित उपकरण  Modem है.

 

हार्डवेयर के विभिन्न अंगो की सूचि – Hardware Components List

  1. प्रिंटर
  2. बैटरी बैकअप
  3. माउस
  4. फ़्लैश ड्राइव
  5. पेन टैबलेट
  6. साउंड कार्ड
  7. हार्ड ड्राइव कंट्रोलर कार्ड
  8. एक्सपेंशन कार्ड
  9. नेटवर्क इंटरफ़ेस कार्ड
  10. प्रोजेक्टर
  11. स्कैनर
  12. जॉयस्टिक
  13. वेबकैम
  14. फ्लॉपी डिस्क ड्राइव
  15. माइक्रोफोन
  16. राऊटर
  17. प्रिंट सर्वर
  18. डिजिटल मॉडेम
  19. पॉवर केबल
  20. फैन

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर के बीच आपसी संबंध

 

  • हार्डवेयर कम्प्यूटर का शरीर है तो सॉफ़्टवेयर उसकी आत्मा हैं.
  • दोनों, एक-दूसरे के बिना अधूरे हैं.
  • हार्डवेयर के बिना सॉफ्टवेयर अपना काम नही कर सकता है और सॉफ्टवेयर के बिना हार्डवेयर अनुपयोगी हैं.
  • कम्प्यूटर से कार्य विशेष करवाने के लिए हार्डवेयर पर उचित सॉफ्टवेयर इंस्टॉल करना पडता हैं.
  • सॉफ्टवेयर आपके यानि यूजर और हार्डवेयर के बीच संबंध स्थापित करना है.

हार्डवेयर क्यों जरूरी है?

 

हार्डवेयर, कंप्यूटर का वो हिस्सा है! जिसकी मदद से यूजर्स कंप्यूटर में जरूरी इंफॉर्मेशन और डाटा डालते हैं. अगर हार्डवेयर ना हो तो उपयोगकर्ता कंप्यूटर में किसी भी तरह के डाटा और इनपुट्स नहीं डाल पाएंगे और कंप्यूटर अपना काम नहीं कर पाएगा. हार्डवेयर के मदद से ही उपयोगकर्ता कंप्यूटर में निर्देशों को डालकर उसे नियंत्रित करता है और अपने काम को करता हैैं‌. तो आप समझ सकते हैं कि हार्डवेयर कंप्यूटर के लिए कितने ज्यादा जरूरी है.

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

हार्डवेयर के कार्य 

सभी हार्डवेयर के अलग अलग कार्य होते है जैसे मॉनिटर कार्य होता है जो कंप्यूटर को कमांड दिए गए कार्य को दिखाना मॉनिटर का कार्य होता है। माउस द्वारा यूजर कंप्यूटर को ऑर्डर देता है। की वे क्या प्रोग्राम रन करे।  उसके बाद कंप्यूटर प्रोसेस कर आउटपुट दिखता है। इसी प्रकार cpu दिए गए कमांड को प्रोसेस कर रिजल्ट दिखता है। cpu को कंप्यूटर का दिमाग कहा जाता है। 

सभी हार्डवेयर का अलग अलग कार्य होता है जिसके उपयोग से हम किसी कार्य को करने में समर्थ होते है। 

 

हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर में क्या अंतर है?

 

अब तक हमने जाना Hardware व Software दोनों ही कंप्यूटर के सबसे महत्वपूर्ण भाग है। यह कंप्यूटर के लिए अलग-अलग कार्य करते है। जिसके कारण इनके बीच कई अंतर है। तो चलिए इनके बीच क्या अंतर है, इसे समझते है।

Hardware Software
हार्डवेयर एक फिजिकल डिवाइस है, जो कंप्यूटर के साथ भौतिक रूप से जुड़ा हुवा होता है। सॉफ्टवेयर निर्देशों का एक समूह या प्रोग्राम है, जो कंप्यूटर को एक विशेष टास्क करने के लिये निर्देश देता है।
Computer Hardware को आप देख व छू सकते है। Software को देखा छुवा नही जा सकता क्योंकि यह एक प्रोग्राम है।
हार्डवेयर को भौतिक सामग्री या कम्पोनेंट्स के इस्तेमाल से बनाया जाता है। सॉफ्टवेयर को बनाने के लिये प्रोग्रामिंग लैंग्वेज में इंस्ट्रक्शन्स लिखे जाते है।
यह Software के नियंत्रण में संचालित होता है। यह कंप्यूटर के संचालन को नियंत्रित करता है।
अगर Hardware खराब हो जाये तो इसे ठीक किया जा सकता है, या फिर
नए से रिप्लेस किया जा सकता है।
यदि कभी सॉफ्टवेयर करप्ट हो जाये तो आप इसकी बैकअप कॉपी को रीइंस्टॉल कर इसे दुबारा ला सकते है।
हार्डवेयर पर Computer Virus का कोई फर्क नही पड़ता। जबकि कंप्यूटर वायरस Software को बुरी तरह से प्रभावित कर सकते है।
हार्डवेयर के बिना कंप्यूटर का कोई अस्तित्व नही है, इसके बिना यह नही चल सकता है। बिना सॉफ्टवेयर कंप्यूटर चल तो सकता है, परन्तु यह कई एरर उतपन्न करेगा और किसी भी जानकरी को आउटपुट नही करेगा।

हार्डवेयर अपग्रेडेशन क्या हैं – What is Hardware Upgradation in Hindi?

 

कम्प्यूटर की कार्यक्षमता, फीचर, निष्पादन (Performance) को बढाने के लिए किसी एक या अधिक उपकरण को नई तकनीक और क्षमता के उपकरण से बदलना हार्डवेयर अपग्रेड करना कहलाता हैं.

जैसे; अभी आपके कम्प्यूटर में 2 GB DDR2 RAM लगी हुई है. यदि आप इसे 4GB DDR2 से बदल लेते है तब यह रैम अपग्रेड करना कहलाता हैं. और यही नियम अन्य हार्डवेयर उपकरणों पर भी लागु होता हैं.

आप, हार्डवेयर में कम्प्यूटर के किसी भी उपकरण को अपग्रेड कर सकते हैं. और अपने कम्प्यूटर की तथा उस विशेष उपकरण की क्षमता, फीचर, गति में बढोतरी करा सकते हैं.

हार्डवेयर अपग्रेड करना एक महंगी प्रक्रिया हैं. इसलिए जरूरत होने पर ही उपकरणों को अपग्रेड करना चाहिए. केवल नई तकनीक और ज्यादा फीचर के लालच में ना आए.

 

हार्डवेयर का भविष्य

 

जब पहला कंप्यूटर बनाया गया था उसके सारे Components अलग अलग कमरों में थे और cables के द्वारा उन्हें जोड़ा जाता था. इसके बाद जो कंप्यूटर बने उनका आकार और छोटा किया गया, इसी वजह से HW का SIZE भी छोटे हो गया. VLSI (Very Large Scale Integration) और LSI (Large Scale Integration) Technology की मदद से इन Hardwares को ओर छोटा कर दिया गया. अब technology के कारण Computer का Size एक घडी के बराबर हो गया है. ULSI, Nano technology, microprocessor की मदद से अब ओर छोटे से छोटे size के HW बनाए जा रहे हैं.

 

F.A.Q ( Question Hub )

 

1. कंप्यूटर हार्डवेयर बनाने वाली पांच कंपनियों के नाम?

कंप्यूटर हार्डवेयर बनाने वाली पांच कंपनियों के नाम निमिन्लिखित है :-

  • Aigo
  • AMAX Information Technologies
  • Antec
  • AOpen
  • ASRock

2. इंटरनेट में किस प्रकार के हार्डवेयर और सॉफ्टवेयर की जरूरत होती है?

इंटरनेट चलाने के लिए हार्डवेयर में नेटवर्क कार्ड और सॉफ्टवेयर में वेब ब्राउज़र की जरुरत होती है। 

3. किस प्रोग्राम की मदद से हार्डवेयर ठीक किया जाता है?

अगर दिक्कत हार्डवेयर के किसी ड्राइवर में है तो utility प्रोग्राम के ज़रिये उसको ठीक किया जा सकता है। लेकिन अगर दिखात हार्डवेयर में है तो किसी भी प्रोग्राम से हार्डवेयर ठीक नहीं किया जा सकता है। प्रोग्राम की मदत से ज्यादा से ज्यादा हार्डवेयर में जो दिक्कत है उसका पता लगाया जा सकता है। 

4. भारतीय कम्प्यूटर हार्डवेयर कम्पनी के नाम?

  • Acer India Pvt Ltd. Acer was founded in August 1976 by Stan Shah
  • Ingram Micro India Pvt Ltd.
  • HCL Infosystems Ltd.
  • Hewlett-Packard India Sales Pvt Ltd.
  • Compuage Infocom Ltd

5. ऑपरेटिंग सिस्टम का कौन सा भाग हार्डवेयर के निकट होता है?

पूरा का पूरा ऑपरेटिंग सिस्टम ही हार्डवेयर से बना हुआ होता है। और इसी के कारण हम यह भी कह सकते है की पूरा ऑपरेटिंग सिस्टम हार्डवेयर के निकट होता है। 

6. हार्डवेयर में सीडी का मल्टीमीडिया में उपयोग?

सीडी को डाटा स्टोर करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इसका एक नुक्सान भी है की सीडी खराब हो जाती है और इसकी डाटा स्टोरेज capacity भी बहुत काम होती है। 

7. प्रोग्रामिंग और हार्डवेयर मॉडल में क्या अंतर है?

प्रोग्रामिंग और हार्डवेयर में सबसे बड़ा अंतर यही है की प्रोग्रामिंग की मदत से हार्डवेयर चलता है और हार्डवेयर की मदत से पूरा कंप्यूटर। प्रोग्रामिंग में कोड्स का इस्तेमाल होता है जिनकी मदत से इंस्ट्रक्शन और commands लिखी जाती है। और हार्डवेयर इन्ही सभी commands को follw करता है। 

Leave a Comment

error: Content is protected !!