Broadband क्या है ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? विशेष जानकारी

Broadband दर्शाता है high-speed internet access को। Broadband क्या है यानी की Broadband service हमें एक higher-speed की data transmission उपलब्ध करवाती है। यू कहें तो Broadband हमें प्रदान करती है highest quality internet services, जिससे हम कोई भी इंटर्नेट का काम बड़ी ही आसानी से और तेज़ी से कर सकते हैं। यह एक जगह में fixed होने के कारण इसे बार बार बदला नहीं जा सकता है

लेकिन ये घरों, businesses, स्कूल के लिए उपयुक्त होता है क्यूंकि ये कम कीमतों में बेहतर internet facility प्रदान करता है, और जिन्हें unlimited internet की जरुरत होती है.

इसलिए आज मैंने सोचा की क्यूँ न आप लोगों को Broadband क्या है के विषय में पूरी जानकारी प्रदान करूँ जिससे आपको इस बेहतरीन internet technology के विषय में सम्पूर्ण जानकारी प्राप्त हो सके. तो फिर बिना देरी किये चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं ब्रॉडबैंड क्या होता है हिंदी में.

 

 

Broadband क्या है ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? विशेष जानकारी
TEJWIKI.IN

 

Contents

Broadband क्या है Meaning In Hindi

सबसे पहले हम जान लेते है की ब्रॉडबैंड क्या है, ब्रॉडबैंड का Full Form क्या होता है और इसका हिंदी में क्या मतलब होता है। Broadband एक ऐसी सर्विस है जो आपको कम कीमत में हाई स्पीड इंटरनेट Access कराती है ब्रॉडबैंड का मतलब होता है एक Widely Used Bandwidth। जो की एक Wide Frequency का इस्तेमाल करके Multiple चैनल पर डाटा Transmit करता है।

ब्रॉडबैंड का Full Form – Broad Bandwidth भी होता है। अगर हम इसे अलग-अलग करके समझे तो Broad का मतलब व्यापक और Band का मतलब Bandwidth होता है Broadband क्या है इसलिए इसका नाम कुछ इस प्रकार ब्रॉडबैंड पड़ा।

बहुत सारी टेलीफोन कंपनी, इंटरनेट Provider और Cable कंपनी ब्रॉडबैंड इंटरनेट सुविधा प्रधान कराती है और ये सभी ब्रॉडबैंड के लिए कम कीमत में हाईस्पीड इंटरनेट Provide करती है इसलिए ब्रॉडबैंड की Popularity इतनी ज्यादा है। आप इस ब्लॉग पोस्ट के माध्यम से इंटरनेट की हिस्ट्री जान सकते है।

यह कई सारे दूसरे कनेक्शन जैसे की Dialup कनेक्शन से बहुत फास्ट और अच्छा है इसमे Dial Up की तरह कनेक्ट करने के लिए बार बार नंबर Dial नही करना पड़ता है इसे एक बार कनेक्ट करने के बाद आप इसे बंद चालू नही कर सकते है यह हमेशा चालू रहता है

इसलिए इसे “Always On” भी कहते है, इंटरनेट सर्विस प्रोवाइडर (ISP) की Bandwidth जितनी ज्यादा होगी ये उतना ही ज्यादा डाटा को Transmit करेगा। पर कुछ कारण है जिसके कारण कभी कभी इसकी स्पीड स्लो हो जाती है जैसे की User के घर से इंटरनेट Provider फैसिलिटी की दूरी के कारण कभी कभी इंटरनेट स्पीड में फर्क पड़ता है।

 

Broadband Kya Hai

ब्रॉडबैंड का अर्थ होता है – Widely Used Bandwidth. Broadband एक हाई-स्पीड इंटरनेट कनेक्शन है जो की एक Wide Frequency का इस्तेमाल करके Multiple Channel पर Data Transmit करता है। Broadband कनेक्शन का इस्तेमाल करने के लिए Coaxial Cable, Optical Fiber, Twisted Pair का उपयोग किया जाता है।

Broadband Ka Full Form होता है Broad Bandwidth. यह तकनीक Dial Up Connection से ज्यादा इंटरनेट स्पीड देती है। Broadband क्या है इसे पढ़कर आपको इतना समझ आ गया होगा कि Broadband Ka Matlab Kya Hota Hai तो चलिए अब हम आपको बताते है कि ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? और Types Of Broadband In Hindi.

 

Broadband Ke Bare Me Jankari Hindi Me

ब्रॉडबैंड के बारे में अन्य जानकारियाँ प्राप्त करने के लिए हमारे इस लेख पर अंत तक बने रहे। दोस्तों आपने यह तो जान लिया की Broadband meaning in Hindi अब जानते है की Broadband Kaise Kaam Karta Hai. ब्रॉडबैंड का ज्यादातर इस्तेमाल घर पर या छोटे बिज़नेस में किया जाता है। इसके इस्तेमाल से यूज़र एक ही समय में इंटरनेट का प्रयोग कर सकते है। Broadband ने इंटरनेट कनेक्शन को और बेहतर बनाया है।

 

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

 

Broadband इतिहास 

इंटरनेट काफी लंबे समय से आसपास रहा है – क्योंकि पहला ई-मेल 1970 के दशक में भेजा गया था। इसे 1990 के दशक में व्यापक ध्यान मिला और तब से यह हर समय में सबसे महत्वपूर्ण तकनीकी विकास में से एक बन गया है। जिस तरह से, हमें अपने टेलीफ़ोन के माध्यम से एक कनेक्शन डायल करना पड़ता था, जो दर्दनाक 56 kbps की धीमी गति से पर चलता था। तुलना के लिए, एक 8 mbps कनेक्शन 8000 kbps कनेक्शन के बराबर है, और हम केवल 56 kbps से कनेक्ट होते थे। आज की सबसे स्‍लो मान्यता प्राप्त ब्रॉडबैंड स्‍पीड का यह एक छोटा सा अंश है।

इस कनेक्‍शन पर टेक्स्ट से अलग कुछ भी डाउनलोड करना बहुत मुश्किल था। पूरी स्‍पीड से केवल एक लो क्‍वालिटी वाला गीत (लगभग 3.5 MB) को डाउनलोड करने में लगभग 10 मिनट लगते थे। लेकिन इंटरनेट की स्‍पीड हमेशा सुसंगत नहीं होती थी, इसलिए वास्तव में, एक गीत डाउनलोड करने में 30 मिनट से लेकर कुछ घंटों तक का समय लगता था।

यदि आप लो क्‍वालिटी वाली फिल्म (लगभग 700 MB) डाउनलोड करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको पूर्ण गति से डाउनलोड करने के लिए 28 घंटे लगेंगे, या कम स्‍पीड पर तीन से पांच दिन लगेंगे।

गति को क्रॉल करने के अलावा, डायल-अप इंटरनेट भी बेहद असुविधाजनक था क्योंकि उसने टेलीफोन लाइनों का पूरा उपयोग किया। लोग फोन कॉल करने और एक ही समय में इंटरनेट ब्राउज़ करने में असमर्थ थे, जिससे उन्हें बड़ी असुविधा होती थी या उन्हें अन्य लाइन के लिए अतिरिक्त लागत के बीच चुनने के लिए मजबूर किया गया।

और फिर ब्रॉडबैंड आया …

ब्रॉडबैंड ने 2000 के दशक के शुरू में इंटरनेट में नए जीवन को सांस लेने की अनुमति देकर टेलीफोन और इंटरनेट के बीच एक लाइन में सिग्नल की इजाजत दी, जिसका अर्थ है कि यूजर्स एक ही समय पर ऑनलाइन रह सकते हैं और फोन कॉल कर सकते हैं। इससे तेजी से कनेक्शन हुए, जिससे इंटरनेट ब्राउज़ करना और फ़ाइलों को डाउनलोड करना आसान हो गया। ब्रॉडबैंड नेटवर्क के आगमन का मतलब था कि लोग अधिक स्‍पीड से फाइलें, गाने, टीवी शो और फिल्में डाउनलोड करने में सक्षम थे। इसने ऑनलाइन मीडिया में एक पूरी नई दुनिया को जनम दिया: पिछले 56 kbps कनेक्शन की स्‍पीड पर, यूट्यूब जैसी साइटें संभव नहीं थीं।

सबसे नई प्रौद्योगिकियों की तरह, ब्रॉडबैंड बहुत महंगा था जब इसे पहली बार लॉन्च किया गया था, इसलिए प्रारंभिक उपयोग कम था। एक बार कीमतें अधिक प्रतिस्पर्धी हो गईं, हालांकि, ISP ने तेजी से ब्रॉडबैंड, ‘भारी उपयोग’ ब्रॉडबैंड और ब्रॉडबैंड बंडलों की पेशकश जैसी चीजों पर एक दूसरे के साथ प्रतिस्पर्धा करना शुरू कर दिया। Broadband क्या है अब, लगभग सभी लोग ब्रॉडबैंड के कुछ रूपों में उपयोग करते हैं, चाहे वे उनके फोन लाइन या कनेक्‍शन टाइप के माध्यम से।

ब्रॉडबैंड लॉन्च होने के बाद से, हमने 4 G मोबाइल ब्रॉडबैंड जैसी नई ब्रॉडबैंड तकनीक का उदय देखा है, जो यूजर्स को कहीं भी ऑनलाइन और केबल (फाइबर ऑप्टिक) ब्रॉडबैंड प्राप्त करने की अनुमति देता है, जिसने कनेक्शन की गति को बढ़ा दिया है अधिकतम 300 MBPS।

 

ब्रॉडबैंड के प्रकार

ब्रॉडबैंड के बारे में पढ़कर आप ये तो समझ चुके होंगे की ब्रॉंडबैंड क्या है तो चलिए अब इसके प्रकार को जानते है वैसे तो ब्रॉडबैंड कई प्रकार के होते है लेकिन हम आपको कुछ ही ब्रॉडबैंड के बारे में बतायेंगे जो सबसे ज्यादा Use किये जाते है।

1) DSL

DSL जिसकी फुल फॉर्म Digital Subscriber Line होता है यह सबसे ज्यादा इस्तेमाल होने वाला ब्रॉडबैंड है क्योकि यह फास्ट, Budget और आप इसे आसानी से Access कर सकते है Broadband क्या है इसमे Data का Transmission घरों में उपयोग होने वाली टेलीफोन्स लाइन जो की कॉपर के बने होते है उनके द्वारा होता है।

DSL की स्पीड Kbps से लेकर Mbps तक की होती है, DSL में इंटरनेट स्पीड सदा एक सी नही रहती है यह कुछ फैक्टरस् पर निर्भर करती है जैसे की आपके घर से Switching Station की दूरी अगर ज्यादा होती है तो इसकी स्पीड कभी-कभी कम हो जाती है।

और अगर आपकी दूरी Switching Station के पास है तो आपकी स्पीड अच्छी रहती है इसके साथ साथ Wire की क्वालिटी और टेलीफोन ओपरेटर पर भी इसकी स्पीड निर्भर करती है।

 

DSL के भी दो प्रकार होते है।

 

1. ADSL – ADSL की फुल फॉर्म Asymmetric Digital Subscriber Line है यह उन लोगो के लिए ज्यादा फायदेमंद है जो घरो में इंटरनेट का ज्यादा इस्तेमाल करते है तथा जो लोग बहुत डाटा को Receive करते है लेकिन बहुत कम डाटा को सेंड करते है

इसमे Downloading स्पीड Uploading स्पीड के मुकाबले ज्यादा होती है इसलिए इसे हॉउसहोल्ड के लिए बेस्ट माना जाता है।

2. SDSL – SDSL की फुल फॉर्म Symmetric Digital Subscriber Line है इसका उपयोग मुख्य रूप से Business के लिए किया जाता है क्योकि इसमे वीडियो कॉंफ़्रेंसिंग के लिए ज्यादा Bandwidth की जरूरत पड़ती है जो इसमे उपलब्ध होता है इसलिए यह Business के लिए बेस्ट होता है।

2) Cable Module –
ये ब्रॉडबैंड हमे केबल ओपरेटर प्रदान कराता है इसमे डाटा Coaxial टेलीविजन केबल के द्वारा Transmit किया जाता है इसमे आप टेलीविजन देखने के साथ साथ इंटरनेट का भी मजा ले सकते है वो भी बिना किसी रुकावट के।

इसके लिए आपको केबल को कंप्यूटर से जोड़कर एक बार On करना होता है इसमे आपको डायल अप की तरह बार-बार Switch On नही करना पड़ता है, इसकी स्पीड 1.5 Mbps तक रहती है।

3) Fiber Optic –
ये एक नये प्रकार का ब्रॉडबैंड सर्विस है जिसमे डाटा का Transmit Glass Fiber के द्वारा होता है ये Electrical सिग्नल को Light मे Convert करके इसे ग्लास Fiber की मदद से डाटा Transmit करता है

इसकी स्पीड नॉर्मल DSL से ज्यादा होती है बहुत सी Telecommunication कंपनी से बात करके आप इस सर्विस का लाभ ले सकते है

Fiber का उपयोग दूरसंचार कंपनीयाँ टेलीफोन सिग्नल, इंटरनेट संचार और केबल टेलीविजन सिग्नल प्रसारित करने के लिए करती है।

4) Wireless –
उन क्षेत्रों में जँहा टेलीफोन लाइन या केबल के माध्यम से ब्रॉडबैंड संभव नही है, वँहा Wireless ब्रॉडबैंड के द्वारा इंटरनेट पहुँचाया जा सकता है इसमें एक Radio लिंक के जरिये User और इंटरनेट के बीच डाटा Transmit होता है तथा यह User की लोकेशन को सर्विस प्रोवाइडर की फैसिलिटी के साथ जोड़ता है।

इसकी स्पीड कुछ खास नही होती है और इसे Access कर पाना तोड़ मुश्किल है क्योकि इसके लिए हमे एक फिक्स ऐंटीना की जरूरत होती है अगर यह तोडा सा भी हिल जाता है तो ऐसे में इंटरनेट Access नही कर सकते है। आप इस इंटरनेट स्पीड टेस्ट टूल से अपने नेट स्पीड चेक कर सकते है।

5) Satellite –
जँहा पर केबल और रेडियो लिंक के द्वारा इंटरनेट नही पहुँचा सकते है वँहा पर हम Satellite के जरिये इंटरनेट पहुँचा सकते है इसका इस्तेमाल रिमोट और कम Population वाली जगह पर इंटरनेट पहुँचाने में किया जाता है इसकी स्पीड बहुत कम होती है।

Download Speed – 500 Kbps

Upload Speed – 80 Kbps

 

 

ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? ( How works broadband? in Hindi )

जो इंटरनेट सेवा प्रदाता (ISP-Internet service provider ,for example : JIO,Airtel,Vodaphone/VI etc) होते है इनमे से कुछ आईएसपी (ISP) अपने खुद के infrastructure का प्रयोग कर , देशभर मे cables बिछा देते है Broadband क्या है (जहाँ – जहाँ भी इनको अपनी broadband की सर्विस देनी होती है )। फिर जब भी कोई user connection के लिए apply करता है

तो ये अपनी main line से आपकी लोकेशन तक एक cable खींच देते है और अपना broadband router यानि की broadband device लगा देते है फिर आप अपने सभी internet enabled devices पर आसानी से internet access कर सकते है लेकिन यह एक जटिल और महंगा proceess होता है किसी भी ISP Company के लिए अर्थात सभी ISP Comapnies अपनी खुद की cables नहीं बिछाती है और किसी अन्य ISP Companies पर भी निर्भर हो सकती है।

 

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

 

ब्रॉडबैंड उपकरण

1. ब्रॉडबैंड एंटीना Broadband Antenna
2. ऑप्टिकल फाइबर का केबल Cable Of Optical Fiber
3. ब्रॉडबैंड मॉडम Broadband Modem
4. ब्रॉडबैंड त्वरक Broadband Accelerator
5. फोन ब्रॉडबैंड एडाप्टर Phone Broadband Adapter
6. ब्रॉडबैंड राउटर Broadband Router
7. सैटेलाइट डिश Satellite Dish

 

 

Technical Characteristics of Broadband In Hindi:
ब्रॉडबैंड की तकनीकी विशेषताएं:

 

कम्युनिकेशन कपैसिटी या स्‍पीड, केवल इस सर्विस की कुछ विशेषताओं के एक है। डायल-अप एक्‍सेस के विपरीत ब्रॉडबैंड में पूरी तस्वीर आसानी से नहीं देखी जाती, जहां मॉडेम को एक टेलीफोन कॉल करना होता हैं और आईएसपी के मॉडेम के साथ कनेक्शन की रिक्‍वेस्‍ट करनी होती थी।

आज उपलब्ध सर्विसेस जिन्हें आम तौर पर ब्रॉडबैंड माना जाता है-जो अक्सर ऑफ़र करता है “आलवेज ऑन” कनेक्टिविटी के साथ हाई स्‍पीड। स्‍पीड और हमेशा के साथ बैंडविड्थ समरूपता और एड्रेसबिलिटी जैसे अतिरिक्त पैरामीटर हैं जो ब्रॉडबैंड की परिभाषा के महत्वपूर्ण घटक हैं।

Speed or capacity

Latency and jitter

Always on

Bandwidth symmetry

Addressability

 

1) Speed or capacity:

इसका मतलब है कि यूजर और ब्रॉडबैंड सर्विस प्रोवाइडर के बीच नेटवर्क लिंक की क्षमता। यह ब्रॉडबैंड के महत्वपूर्ण फैक्‍टर में से एक है। कई प्रकार की ब्रॉडबैंड प्रौद्योगिकियां या तो वायर्ड या वायरलेस हैं। यह विशेषता हर ब्रॉडबैंड तकनीक में है। जब यूजर बड़ी फ़ाइलों, स्ट्रीमिंग, या डाउनलोड करना चाहता है या वीडियो कॉल करना चाहता हैं तो डाउनलोड लिंक की बेहतर क्षमता होनी चाहिए।

 

2) Latency and jitter:

यह विशेषता उन ऐप्‍लीकेशन में बहुत महत्वपूर्ण है जो रियल टाइम इनफॉर्मेशन या कम्युनिकेशन जैसे टेलीफोन कॉल (VOIP) और इंटरैक्टिव गेम खेलने पर निर्भर होते हैं।

सरल शब्दों में, लेटेंसी एक एक्सप्रेशन हैं जो यह बताता हैं कि एक डेस्टिनेशन पॉइंट से दूसरे तक डेटा पैकेट को कितना समय लगेगा। और jitter आने वाले पैकेट के बीच में भिन्नता के लिए है। जब हम VOIP कॉल करते हैं और ऑनलाइन गेम खेल रहे हैं तो यह विशेषता बहुत महत्वपूर्ण है।

 

3) Always on:

यह विशेषता विशेष रूप से तब होती है जब लोग चौबीसों घंटे दुनिया से कनेक्‍ट रहना चाहते हैं। कुछ इंटरनेट ऐप्‍लीकेशन को इस फीचर की काफी हद तक जरूरत होती हैं।

उदाहरण के लिए जब हम SKYPE (VOIP ऐप्‍लीकेशन) का उपयोग कर रहे हैं तो हम पूरी दुनिया के लिए ओपन हैं। हमें हर समय ध्यान देने की जरूरत है। हमेशा अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए जरूरी है। और यह हेल्‍थ ऐप्‍लीकेशन, सेक्‍युरिटी, लाइव अपडेट और इंस्‍टंट मैसेजिंग जैसे नए ऐप्‍लीकेशन का मौका भी प्रदान करता है।

बेस्‍ट एंड्रॉइड हेल्‍थ और फिटनेस ऐप्स: 2018 में फिट रहने के लिए

 

4) Bandwidth Symmetry:

बैंडविड्थ समरूपता – आज टेलीकम्यूनिकेशन सर्विसेस, विशेष रूप से ब्रॉडबैंड को एक जैसी कपैसिटी और डाउन स्ट्रीम को प्रोवाइड करना आवश्यक नहीं है। Broadband क्या है  यह विशेषता ब्रॉडबैंड कनेक्शन की आवश्यकता पर निर्भर करती है। जब कोई यूजर वेब ब्राउज़िंग करता है; तो अपस्ट्रीम के लिए कम बैंडविड्थ पर्याप्त हो सकती है।

इसका मतलब है कि लिंक का उपयोग केवल सर्वर तक रिक्‍वेस्‍ट भेजने के लिए कर सकता है। रिक्‍वेस्‍ट करने के लिए यूजर्स को बहुत कम बैंडविड्थ की आवश्यकता होती है और हाई डाउन स्ट्रीम कनेक्शन कंटेंट के लिए होता है। जब हम सहकर्मी को बड़ी फाइलें ट्रांसफर करते हैं तो हमें हाई डाउनस्ट्रीम और अपस्ट्रीम की रिक्‍वेस्‍ट करनी होगी।

 

5) Addressability:

एड्रेस योग्यता ऐसी कार्यक्षमता को भी सक्षम करता, जब यूजर ऐसे सर्वर को रन करने में सक्षम होता है जिसे अन्य इंटरनेट यूजर्स एक्सेस कर सकते है।

होम कंस्यूमर को डायनैमिकली असाइन किए गए एड्रेस प्रदान किए जाते हैं, और बहुत कम यूजर्स हैं जिनके पास स्‍टैटिक एड्रेस होते है। इनबाउंड कंट्रोल के बिना Addressability से कंप्यूटर पर हमलों का मौका बढ़ जाता है। फिर होम कंप्यूटर की सुरक्षा फायरवॉल जैसे डिवाइस के अंदर स्थापित गेटवे की सुरक्षा के बड़े हिस्से में निर्भर करती है।

 

 

ब्रॉडबैंड के Advantages क्या है

Broadband भले ही थोड़ी age old technique हैं लेकिन फिर भी Broadband के बहुत से advantages हैं जिनके विषय में हम आगे जानने की कोशिश करेंगे.

Cheap होते हैं

यदि हम Fixed Broadbands और mobile broadband की कीमतों में तुलना करेंगे तब हम यह देख सकते हैं की fixed broadband बहुत ही ज्यादा सस्ती होती है अगर हम उनके speed, data limit इत्यादि के विषय में विचार करेंगे तब.

Data Caps बड़े होते हैं

जहाँ ये Fixed Broadband में data caps में ज्यादा limitation नहीं होती है वहीँ Mobile Broadband में usage allowances के साथ साथ data caps में भी limitation होती है. इसलिए Fixed Broadband users अपने मन मुताबक चीज़ें download या upload कर सकते हैं. इन चीज़ों में इनकी कोई limit नहीं होती हैं.

Speed बहुत ही ज्यादा

Speed की अगर हम बात करें तब इस विषय में Broadband से कोई भी आगे नहीं है. Speed के मामले में fixed broadband सबसे highest speed प्रदान करती है.

Consistent होती है

इसमें connection एक line के साथ fixed होता है और इससे ये ज्यादा reliable बन जाता है दुसरे alternative mobile broadband के मुकाबले में. ऐसे में fixed broadband बाकियों के तुलना में बहुत ज्यादा बेहतर शाबित होता है.

 

ब्रॉडबैंड के Disdvantage क्या है

चलिए Broadband के कुछ disadvantages के विषय में जानते हैं.

Fixed होना

ये Broadband अक्सर fixed broadband होते हैं, जिन्हें की एक ही जगह में fix करके लगाया जाता है. इन्हें घर के चार दीवारों के भीतर ही लगाना पड़ता है. इसलिए इसे एक जगह से दुसरे में transfer करना मुस्किल होता है.

Line Rental होता है

अगर आपके घर में home phone (Landline) नहीं है और आप केवल broadband का ही इस्तमाल कर रहे हो internet के लिए तब भी आपको इस service का line rental pay करना होता है, जो की एक user के लिए costly होता है अगर वो कोई phone का इस्तमाल न कर रहे हों.

Switching में issues होता है

अगर आप आपके broadband service को किसी दुसरे service में switch करना चाहते हैं तब इसके लिए आपके थोडा बहुत समय लग सकता है कुछ technological issues होने के कारण. कई Companies इस change over के लिए ज्यादा time लगाते है और आपको उनके engineer के लिए extra charge भी कर सकते हैं. ऐसे में ये आपके लिए real frustration हो सकता है क्यूँ आपका broadband पूरी तरह से switch होने तक बंद रहता है.

Competition ज्यादा बढ़ गयी है

ये पाया गया है नयी mobile internet जैसे की 3G और 4G के आ जाने से ये सस्ते दामों में users को speed internet प्रदान कर रही है. वो दिन दूर नहीं जब 5G के launch होने से users पूरी तरह ही fixed broadband को भूल जांएगे क्यूंकि Mobile Broadband ज्यादा flexible और remote होते हैं, fixed के मुकाबले.

 

 

बेस्ट फाइबर ब्रॉडबैंड 2021 – The Best Fibre Broadband in 2021

जैसा कि ऊपर बताया गया है कि भारत में वर्तमान समय में लगभग कई कंपनियां सुपरफास्ट ब्रॉडबैंड की सुविधा देती है.

ये भारत के अलग-अलग हिस्सों में Superfast Broadband उपलब्ध करवाती है.ये सभी कंपनियां अलग-अलग स्पीड के हिसाब से प्लान जारी करती हैं.आप अपनी आवश्यकता अनुसार कोई भी पैक चुन सकते हैं. नीचे हम कुछ कंपनियों के Best Fibre Broadband in 2020 plan बता रहे हैं.उसमें से अपनी सुविधा अनुसार आप कोई भी Superfast Broadband Plan चुन सकते हैं.

 

जियो सुपरफास्ट ब्रॉडबैंड प्लान – Jio Superfast Broadband Plans.

Mobile Sector में अपना कब्जा जमाने के बाद Jio, अब Jio Fibre के माध्यम से Broadband की दुनिया में अपने पैर तेजी से पसार रही है.

Jio superfast broadband plan की बात करें तो इसकी कीमत ₹399 से लेकर ₹8499 तक है.

₹399 वाले पैक में 30 Mbps Speed मिलती है. ₹699 वाले में 100 Mbps की स्पीड, ₹999 में 150 Mbps तथा 1499 में 300 Mbps तक कि स्पीड मिलेगी.

₹699 से ₹1499 तक वाले पैक के साथ आपको 12 OTT App Subscription मुफ्त में मिलेगा. इन पैक के अलावा Jio Ultrafast broadband की सुविधा भी देता है. इसमें आपको –

₹2499 में 500 Mbps, ₹3999 में 1 Gbps तथा ₹8499 में 1 Gbps की स्पीड मिलेगी.इसमें भी आपको 12 OTT App Subscription मुफ्त में मिलेगा.

Jio के ये सभी प्लान 30 दिन के हैं.तथा ये सभी truly unlimited Internet Plans हैं.इसमें आपको अनलिमिटेड कॉल की सुविधा भी मिलती है.साथ जी आपको Jio Set-Top Box भी मिलेगा.

 

एयरटेल सुपरफास्ट ब्रॉडबैंड प्लान – AIRTEL SUPERFAST BROADBAND PLANS

 

एयरटेल के ब्रॉडबैंड प्लान की शुरुआत ₹799 Basic Plan से होती है.₹799 वाले प्लान में आपको महीने का 150 GB Unlimited Data मिलेगा। इसमें Speed 100 Mbps होगी.

दूसरा प्लान ₹999 का है.इसमें आपको 300GB Data तथा 200 Mbps की स्पीड मलेगी. अगला प्लान ₹1499 का है.इसमें आपको 500GB तथा 300 Mbps Speed मिलेगी.

इसके अलावा ₹3999 का VIP plan है.इसमें आपको Unlimited GB Data तथा 1 Gbps की speed मिलेगी.

इन सभी प्लान के साथ आपको Airtel Xstream की सुविधा भी मिलेगी.

 

वोडाफोन सुपरफास्ट ब्रॉडबैंड प्लान

ये बहुत कम ही लोगों को पता होगा कि वोडाफोन ब्रॉडबैंड के क्षेत्र में सीधे वोडाफोन के नाम से नहीं है,बल्कि वोडाफोन You Broadband नाम की कंपनी के द्वारा ब्रॉडबैंड सुविधा देती है. Broadband क्या है You Broadband Plan की बात करें तो Supernet 60 Plan You Broadband का सबसे Basic plan है.इसमें आपको 4148 रुपए में 97 दिन तक 60 Mbps के साथ Unlimited Data मिलता है.

दूसरा प्लान Superjet 100 है.इसमें ₹3962 में 100 Mbps के साथ 90 दिन के लिए 1125GB मिलता है. अगला प्लान ₹4131 का है.इसमें 90 दिन के लिए 1275 GB मिलेगा.इसमें Speed 150 Mbps होगी. ₹4839 वाले प्लान में 90 दिन के लिए 1575 GB मिलेगा.इसमें speed 200 Mbps होगी.

इन सभी पैक में से आप तुलना करके अपनी सुविधा अनुसार कोई भी Superfast Broadband Plan ले सकते हैं.

 

ब्रॉडबैंड को लेकर कुछ सवाल

ब्रॉडबैंड को लेकर अक्सर आपके मन में बहुत सारे सवाल होते है में आपको इसमे अभी सवालों के जवाब तो नही दे सकता हुँ लेकिन कुछ Question है जो अक्सर पूछे जाते है और जिन्हे इंटरनेट पर सर्च किया जाता है।

1. ब्रॉडबैंड Dial Up कनेक्शन से बेहतर क्यों है?
यह डायल अप कनेक्शन से इसलिए बेहतर है क्योकि इसे एक बार कनेक्ट करने के बाद डायल अप की तरह बार-बार नंबर डायल करके कनेक्ट करने की जरूरत नही पड़ती है और इसकी इंटरनेट स्पीड भी डायल अप कनेक्शन से ज्यादा होती है।

2. ब्रॉडबैंड लगवाने का Price कितना है
ब्रॉडबैंड की कोई फिक्स Price नही है सभी कंपनियों के ब्रॉडबैंड के प्रकार और इंटरनेट स्पीड के आधार पर सब का अलग अलग चार्ज होता है।

3. ब्रॉडबैंड इंटरनेट और Landline को एक साथ एक्टिव रखने वाले यंत्र को क्या कहते है?
ब्रॉडबैंड इंटरनेट और Landline को एक साथ एक्टिव रखने वाले यन्त्र को ADSL फिल्टर कहते है इस फिल्टर के द्वारा हम ध्वनि और इंटरनेट सिग्नल को अलग अलग रखकर दोनों को एक साथ बिना रुकावट के Use कर सकते है।

4. ब्रॉडबैंड में किन किन केबलो से डाटा का ट्रांसमिशन होता है।
ब्रॉडबैंड में तीन केबलो के द्वारा डाटा का ट्रांसमिशन होता है
1) Coaxial Cable
2) Twist Pair Cable
3) Fiber Optic Cable
इसके अलावा भी डाटा का ट्रांसमिशन Wireless सटेलिट के जरिये होता है।

5. ब्रॉडबैंड के लिए कौन सी केबल अच्छी है?
वैसे तो इंडिया में ज्यादातर ब्रॉडबैंड में कॉपर Wire का इस्तेमाल होता है लेकिन कॉपर के Wire में एक प्रॉब्लम होती है इससे इंटरनेट स्पीड चेंज होती रहती है इसलिए अब इसके समाधान के लिए Fiber केबल का इस्तेमाल किया जाता है तो अब आप भी ब्रॉडबैंड के लिए Fiber की केबल का ही इस्तेमाल करे।

6. ब्रॉडबैंड, WIFI और डायलअप में से बेस्ट इंटरनेट कनेक्शन कौन सा है?
देखिये वैसे तो सभी इंटरनेट कनेक्शन ठीक ही होते है ये डिपेंड करता है आपके बजट और सुबिधा पर । अगर आप मेरी माने तो पहले आप सभी के बारे में अच्छे से समझ ले । फिर आप अपने बजट और सुबिधा के अनुसार एक अच्छा सा इंटरनेट कनेक्शन चॉइस करे।

 

 

इन्हें भी पढ़ें:-

 

 

Conclusion

 

 

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख  Broadband क्या है ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? विशेष जानकारी  जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Broadband क्या है ब्रॉडबैंड कैसे काम करता है? विशेष जानकारी

 

 

 

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!