डोंगल क्या है और कैसे उपयोग करे (What is Dongle in Hindi) जानकारी

दोस्तों क्या आप जानते है डोंगल क्या है और अपने लैपटॉप में डोंगल कैसे यूज़ करे? आपने अक्सर इंटरनेट डोंगल के बारे में सुना होगा या शायद आपने यूज़ भी किया होगा. दरअसल डोंगल एक छोटी सी USB ड्राइव होती है जिसे Computer या Laptop के पोर्ट में डालकर Software के द्वारा रन कराया जाता है. इसका यूज़ उस जगह पर किया जाता है जहां Security की जरूरत सबसे ज्यादा होती है.

Computer और Laptop में डोंगल का यूज़ इन्टरनेट चलाने के लिए किया जाता है. इसका इस्तेमाल इसलिए करते है ताकि कोई भी गैरक़ानूनी ढंग से Software की चोरी ना कर सके. बदलती लेटेस्ट टेक्नोलॉजी की वजह से आजकल फ़्लैश ड्राइव की तरह आसानी से कैरी किये जा सकते है.

कई डोंगल कम्पनी के आते है जिसमे सिर्फ उसी कम्पनी की सिम चलती है और कई ऐसे भी होते है जिसमे आप कोई भी सिम यूज़ करके इन्टरनेट चला सकते है. इन्हें “अनलॉक डोंगल” कहते है. आजकल तो बाजार में Wi-Fi वाले डोंगल भी आने लगे है. जिसमे आप एक साथ Wi-Fi की मदद से 5 से ज्यादा डिवाइस को कनेक्ट कर सकते है. आईये जानते है डोंगल के बारे में विस्तार से.

 

डोंगल क्या है और कैसे उपयोग करे (What is Dongle in Hindi) जानकारी
TEJWIKI.IN

 

Contents

डोंगल क्या है? (What is Dongle in Hindi)

 

Dongle एक तरह की USB ड्राइव होती है जो की Computer या Laptop में Software के द्वारा रन होती है. इसमें आप सिम डालकर या Wi-Fi वाले डोंगल में Wi-Fi की मदद से इन्टरनेट चला सकते है. कुछ डोंगल कम्पनी की सिम से चलते है तो कुछ में कोई भी सिम डालकर इन्टरनेट चला सकते है.

डोंगल को कैरी करना आसान होता है क्योंकि इसे कहीं भी ले जाया जा सकता है और किसी भी Computer या Laptop में यूज़ किया जा सकता है. इसे यूज़ करना बहुत आसान होता है. Computer या Laptop के हार्डवेयर पोर्ट में इसे डालो और Software के द्वारा इसे रन करो और कनेक्ट करके इन्टरनेट का मज़ा लो.

 

 

 

 

डोंगल क्या है (what is a dongle)

 

अगर आप मार्किट या फिर इन्टरनेट पे ढूड़ेंगे तोह आपको अलग अलग कामो के लिए अलग अलग डोंगल मिलेंगे. चलिए जानते है के इसके कितने प्रकार है.

 

1. इंटरनेट डोंगल

 

इसमें आप कम्पनी के डोंगल में कम्पनी की सिम डालकर और दुसरे डोंगल में कोई भी सिम डालकार इन्टरनेट सर्फ कर सकते है. आप चाहे तो कम्पनी के डोंगल को भी अनलॉक करवा सकते है. अनलॉक करवाने के बाद आप उसमे भी कोई भी सिम डालकर इन्टरनेट चला सकते है. जैसे-जैसे टेक्नोलॉजी बढ़ी है इन डोंगल का यूज़ कम होने लगा है क्योंकि आजकल बाजार में Wi-Fi वाले डोंगल आने लग गये है.

 

2. वाईफाई डोंगल

 

यह डोंगल Wi-Fi की मदद से चलते है. इसे एक बार चार्ज कर दो और उसके बाद कहीं पर भी रख दो. फिर जिसमे आप इन्टरनेट चलाना चाहते है उसे Wi-Fi से कनेक्ट कर दो और इन्टरनेट चलाओ. इस डोंगल की मदद से आप मोबाइल, लैपटॉप, टेबलेट आदि में नेट चला सकते है.

 

डोंगल का इतिहास  History of Dongle in Hindi)

 

साल 1970 के दशक में पहली बार डोंगल को तैयार किया गया. उस समय इन्हें कंप्यूटर सॉफ्टवेयर की सुरक्षा के लिए तैयार किया गया था. जिससे इन्हें कंप्यूटर के USB पोर्ट से प्लग करने पर रन किया जा सकता था. साल 1978 में डोंगल का अविष्कार तथा इसका नाम सॉफ्टवेयर प्रोटेक्शन डोंगल ग्राहम हेग्गी, पीट डाउसन, माइक लेक नामक तीन व्यक्तियों द्वारा रखा गया.

 

डोंगल कैसे काम करता है? (How does the dongle work)

 

डोंगल का उपयोग करना आसान है, बस वाई-फाई स्टिक को कंप्यूटर या मोबाइल फोन में प्लग करें और तुरंत इंटरनेट से कनेक्ट करें। प्लग-इन किए जाने के बाद, वाई-फाई यूएसबी डोंगल का उपयोग अन्य उपकरणों के साथ इंटरनेट कनेक्शन शेयर करने, फ़ाइलों को शेयर करने और प्राप्त करने के लिए भी किया जा सकता है। एक डोंगल मूल रूप से वायरलेस या मोबाइल ब्रॉडबैंड – 4 जी या 3 जी से कनेक्ट करने की क्षमता वाला बहुत कम मॉडेम है, जो आपके स्मार्टफोन के ब्रॉडबैंड के समान है। यह उसी तरह से इंटरनेट से कनेक्ट होता है जिस तरह से आपका स्मार्टफोन 3G, 4G और (जल्द ही) 5G नेटवर्क के जरिए करता है।

 

डोंगल को लैपटॉप पर कैसे उपयोग करे (how to use dongle on laptop)

 

चलिए जानते हैं की Laptop में हम Dongle का इस्तमाल कैसे करें.

 

1. सिम वाले डोंगल से नेट कैसे चलाये

 

1. सबसे पहले डोंगल को लैपटॉप के USB पोर्ट में डाले.

2. अब आपके सामने Software रन का आप्शन आएगा. अगर नहीं आता है तो My Computer में जाकर डोंगल के आइकॉन पर क्लिक करके Software को रन करें.

3. Software जब पूरी तरह इनस्टॉल हो जायेगा तब डेस्कटॉप पर Software का आइकॉन आ जायेगा.

4. अब Software को ओपन करके Connect पर क्लिक करें. जैसे ही Connected लिखा आएगा. आपका इन्टरनेट चलना स्टार्ट हो जायेगा.

 

 

 

2. वाईफाई डोंगल का उपयोग कैसे करे

 

1. इसमें आप Wi-Fi के डोंगल को सबसे पहले On करें.

2. जब यह On हो जाए तब लैपटॉप में Wi-Fi के आप्शन में जाये और डोंगल का Wi-Fi नेटवर्क देखे और उसमे कनेक्ट पर क्लिक करें.

3. अगर पासवर्ड लगा हुआ है तो पासवर्ड लगाये और Ok करें.

4. इस तरह आपका Wi-Fi डोंगल लैपटॉप से कनेक्ट हो जायेगा. अब आप इन्टरनेट का मज़ा ले सकते है.

 

Computer को Wi-Fi सुविधा से लैस कैसे करें? (How to equip computer with Wi-Fi facility)

 

लैपटॉप में तो आप Wi-Fi डोंगल चला लेंगे क्योंकि उसमे Wi-Fi की सुविधा साथ में आती है लेकिन अगर आप Computer में भी Wi-Fi डोंगल का मजा लेना चाहते है तो आपको एक छोटी सी Wi-Fi USB Drive खरीदनी होगी जो की बाजार में आसानी से मिल जाती है. उसे Computer के पोर्ट में डालने से आपका Computer Wi-Fi डिवाइस में बदल जाएगा और इस तरह आप WiFi से Computer में भी इन्टरनेट का मजा ले सकते है.

 

Mobile Broadband Dongle के लाभ क्या है? (What are the advantages of Mobile Broadband Dongle)

 

1. ये बहुत ही handy होते हैं

 

Dongle की सबसे बड़ी उपलब्धि यही है की ये बहुत ही handy होता है. इसके ज्यादा portable होने के कारण इसे कहीं भी ले जाया जा सकता है. जहाँ दुसरे forms के broadband modem में कुछ specific restriction होते हैं. जैसे एक limitation की कुछ area जहाँ पर आप device को ले जा सकते हैं. Dongle, वहीँ दूसरी तरफ, एक बहुत ही छोटी USB flash disk होती है. जैसे की कोई भी इसे अपने device में USB drive के ही तरह plug कर सकता है और इस्तमाल कर सकता है.

 

2. Dongles universal होते हैं

 

इसका मतलब की ये device बहुत सारे service providers के साथ compatible होते हैं. इसलिए इसे कोई भी user किसी भी service provider के साथ इस्तमाल कर सकता है. Users को हमेशा नए dongles की खरीदारी नहीं करनी पड़ती है.

 

3. इसमें Data ज्यादा secured होते हैं

 

जहाँ दुसरे wireless networks को आसानी से hack किया जा सकता है वहीँ broadband dongle बहुत ही secure होते हैं. ऐसा शायद इसलिए क्यूंकि ये gadget directly आपके computer के साथ connected होता है, इसलिए Data streaming बहुत ही smooth होती है और इसे आसानी से sniffed नहीं किया जा सकता है.

 

Mobile Broadband Dongle के हानि क्या है? (What are the disadvantages of Mobile Broadband Dongle)

 

1. इसकी Speed में limit होती है

 

वैसे तो इसकी speed ठीक ही होती है इस्तमाल के लिए. लेकिन जैसे की dongle के ऊपर लिखा हुआ होता है की इसकी maximum speed कितनी है (3.2 mbps या 7.6 mbps) इसलिए इनकी speed को maximum speed से cross नहीं किया जा सकता है.

2. Users a single interface में limited होते हैं

 

Dongles की जो सबसे बड़ी drawback है वो ये की interface की restriction. Users जो की अपने mobile phones को tether करती हैं अपने PC में इस्तमाल करने के लिए, उदाहरण के लिए, आपको उन countless applications को बाध्य होकर install करना होता है.

 

3. Speed के लिये ज्यादा बेहतर options नहीं होते हैं

 

आप चाहें तो आसानी से एक broadband dongle को खरीदकर इस्तमाल कर सकते हैं, लेकिन आप जितनी भी चाहें उस dongle की speed को 3.6 – 7.2 mbps speed से अधिक नहीं कर सकते हैं. अभी तक भी market में faster dongles उपलब्ध नहीं हैं.

 

 

डोंगल के alternative विकल्प क्या है? (What is an alternative to dongle)

 

डोंगल के आलावा इंटरनेट एक्सेस करने के कुछ अन्य तरीके भी है जो डोंगल का अल्टरनेटिव ऑप्शन हो सकता है।

1. Mobile broadband devices : जिसे Mi-Fi और पॉकेट वाई-फाई हॉटस्पॉट भी कहते है। यह डोंगल की तरह पोर्टेबल गैजेट हैं जो मोबाइल ब्रॉडबैंड से जहाँ भी आप कनेक्ट करते हैं। यह wifi सिग्नल देता है, जिसकी मदद से आप इसे अपने मोबाइल डिवाइस, टेबलेट और लैपटॉप को भी कनेक्ट कर सकते है। इसमें आपको बस एक चीज़ का ध्यान रखना होगा मतलब बैटरी को चार्ज करना होगा।
MiFi क्या है?
मोबाइल इंटरनेट डोंगल की तरह, एक MiFi यूनिट आपको 3G, 4G या 5G नेटवर्क पर इंटरनेट से जोड़ता है। यह एक राऊटर की तरह काम करता है। जिससे आप किसी भी डिवाइस के साथ कनेक्ट कर सकते है।

2. Public Wi-Fi hotspots का भी एक ऑप्शन उपलब्ध है। इसमें एक वाई-फाई हॉटस्पॉट का एक विशाल नेटवर्क होता है जिसे आप कनेक्ट कर सकते हैं। गति हालांकि भिन्न हो सकती है, और इसमें आपको पब्लिक Wi-Fi hotspots के उपलब्धियों के बारे में पता होना चाहिए।

3. स्मार्टफोन मोबाइल ब्रॉडबैंड: आप ऑप्शन स्मार्टफोन मोबाइल ब्रॉडबैंड से कनेक्ट हो सकते हैं। बेशर्त आपके पास 4g या 3g का इंटरनेट कनेक्शन होने की जरुरत है।

 

 

 

 

Conclusion

 

 

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख डोंगल क्या है और कैसे उपयोग करे (What is Dongle in Hindi) जानकारी जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

डोंगल क्या है और कैसे उपयोग करे (What is Dongle in Hindi) जानकारी

 

 

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!