Intranet क्या है? इन्टरनेट और इंट्रानेट के बीच अंतर क्या है की जानकारी

दोस्तों आज इस पोस्ट में, हमनें इंट्रानेट (Intranet) के विषय मे बात की है जिसमें, इंट्रानेट क्या है (What is Intranet in Hindi), इंट्रानेट के लाभ, इंट्रानेट की विशेषताएं, इंट्रानेट कैसे काम करता है तथा इंट्रानेट और इंटरनेट में अंतर क्या है? आदि विषयों की जानकारी शेयर की हैं, तो चलिये शुरुआत करते है तथा सबसे पहले जानते है कि, Intranet Kya Hai? आधुनिक समय में, इंटरनेट ने जीवन को बहुत ही आसान कर दिया हैं और इसका इस्तेमाल दिन-व-दिन बढ़ता ही जा रहा हैं। आज सभी काम-काज इंटरनेट पर निर्भर हो गए हैं।

चाहे शिक्षा, व्यापार, उद्योग, मनोरंजन, ऑनलाइन बुकिंग, कॉलेज, प्राइवेट या सरकारी ऑफिस संबंधी सभी काम इंटरनेट द्वारा किया जा रहा हैं। इंटरनेट के अधिक इस्तेमाल होने से Cyber Crime का खतरा भी ज्यादा बढ़ रहा हैं, इसलिए इन पर रोक लगाने के लिये इंट्रानेट और एक्सट्रानेट को उपयोग में लाया गया हैं। इंटरनेट की अपेक्षा इंट्रानेट को एक्सेस करना अधिक सुरक्षित हैं, क्योंकि ये एक प्राइवेट नेटवर्क होते हैं।

वैसे यदि आपसे कोई Intranet के बारे में पूछता है कि, Intranet क्या है? तो शायद आप यही समझेंगे की पूछने वाला व्यक्ति Internet के बारे मे पूछ रहा हैं। परन्तु आपको ये जानकर आश्चर्य होगा कि Intranet और Internet एक समान नहीं हैं बल्कि इन दोनों का अर्थ अलग-अलग हैं। Intranet इंटरनेट का एक हिस्सा हैं, इंट्रानेट एक प्राइवेट नेटवर्क है तथा ये केवल कंपनी अथवा संगठन के अंदर Authorized लोगों द्वारा ही Accessible होता हैं। हालांकि, Internet पब्लिक नेटवर्क है जो वर्ल्ड वाइड वेब कोई भी एक्सेस कर सकता हैं।

 

Intranet क्या है? इन्टरनेट और इंट्रानेट के बीच अंतर क्या है की जानकारी
TEJWIKI.IN

 

Contents

Intranet क्या है? (What is intranet)

 

Intranet एक secure और Private Network होता है जो की Internet Protocol (IP) का उपयोग करके एक Organization के बीच डाटा को share करने का काम करता है| Intranet का इस्तेमाल बड़े बड़े Organization में private डाटा को share करने के लिए होता है| बड़े बड़े Organization अपने Staff के बीच Private data को share करने के लिए Intranet का इस्तेमाल करते हैं|

Internet (इन्टरनेट) और Intranet (इंट्रानेट) दोनों नाम लगभग मिलता जुलता है और इसलिए अधिकांश लोग इन दोनों नामो को एक समझ कर Confuse हो जाते हैं, जबकि दोनों एक नहीं है| Internet (इन्टरनेट) एक public network होता है जो की दुनिया के सभी computers को connect करने का काम करता है और दुनिया में कहीं भी data share करने की facility provide करता है जबकि Intranet (इंट्रानेट) एक software होता है जिसका उपयोग एक Organization के अन्दर Data share करने के लिए होता है|

इंट्रानेट सॉफ्टवेयर को बड़े बड़े organization अपने संस्थान में उपयोग करते हैं ताकि उस संस्थान के अन्दर जितने भी computers हो वो एक दुसरे से Private रूप से जुड़कर डाटा को बिना Hard Disk और बिना Pen Drive की मदद से एक दुसरे के बीच share कर सके| इसमें Internet Protocol (IP) (इन्टरनेट प्रोटोकॉल) की मदद से किसी भी Organization या Company में मौजूद सभी Computers को एक दुसरे से जोड़ा जाता है|

 

 

साधारण शब्दों में समझे तो Local Area Network (LAN) और Wide Area Network (WAN) के साथ Intranet (इंट्रानेट) को स्थापित (Establish) किया गया है ताकि एक organization के अन्दर डाटा को Private रूप से share किया जा सके|

 

इंट्रानेट की परिभाषा (Definition of intranet)

 

Intranet Meaning in Hindi:- इंट्रानेट एक प्राइवेट कम्प्युटर नेटवर्क होता है और यह इंटरनेट का एक हिस्सा है, जो निजी तौर पर किसी बड़े कंपनी, फ़र्म या ऑर्गनाइज़ेशन के लिए इस्तेमाल किया जाता हैं। यह एक प्रकार का प्राइवेट कम्युनिकेशन इंटरनेट हैं, जहाँ सिर्फ इस प्राइवेट इंटरनेट से जुड़े कंप्यूटर ही कुछ निश्चित वेब Internet Protocol (IPs) एड्रेसों को ही Access कर सकते हैं।

इसका प्राथमिक उद्देश्य कंपनी के अंदर कर्मचारियों को एक दूसरे से सुरक्षित रूप से बात करने, सूचनाओं को स्टोर व शेयर करने, दस्तावेजों फ़ाइलों को आसानी से सुरक्षित आदान-प्रदान करने और कंप्यूटिंग संसाधनों को साझा करने के लिए होता हैं। Intranet क्या है? इंट्रानेट को Unauthorized एक्सेस से सुरक्षित रखने के लिए फ़ायरवॉल की आवश्यकता पड़ती है। फ़ायरवॉल Unwanted एक्सेस या ट्रैफिक को इंट्रानेट नेटवर्क में प्रवेश करने से रोकता हैं।

 

 

इंट्रानेट कैसे कार्य करता है (How intranet works)

 

इंट्रानेट स्थापित करने के लिए एक सुरक्षित और विश्वसनीय Web Server की आवश्यकता पड़ती हैं जो Server पर होस्ट की गई फ़ाइलों के लिए सभी Request का संचालन करने, Requested फ़ाइल को सर्च करने और उसे उचित कंप्यूटर तक पहुंचाने की जिम्मेदारी होती हैं। इंट्रानेट पर कंटेंट निर्माण, प्रकाशन और मैनेजमेंट को नियंत्रित करने के लिए एक कंटेंट मैनेजमेंट सिस्टम (CMS) भी स्थापित करने की जरूरत पड़ती हैं। इंट्रानेट आपस में इंटरलिंक्ड कई लोकल एरिया नेटवर्क (LANs) से मिलकर बनी होती हैं तथा इसके साथ-साथ वाइड एरिया नेटवर्क (WAN) में लीज्ड लाइनें भी हो सकती हैं।

यह TCP/IP, HTTP और दूसरे इंटरनेट प्रोटोकॉल (IP) का प्रयोग करती है। जब कोई कर्मचारी Intranet इस्तेमाल करना चाहता है तो उसके पास एक विशेष नेटवर्क पासवर्ड होना चाहिए और LAN से जुड़ा रहना चाहिए। Intranet क्या है? हालांकि, कंपनी से दूर काम करने वाला कर्मचारी भी वर्चुअल प्राइवेट नेटवर्क (VPN) के जरिये इंट्रानेट को एक्सेस कर सकता हैं।इंट्रानेट एक तरह का इंटरनेट ही होता है, परन्तु नेटवर्क स्पीड व सुरक्षा के हिसाब से इंट्रानेट काफी फ़ास्ट व सुरक्षित और प्राइवेट होता हैं, इंट्रानेट में डेटा ट्रांसमिशन VPN के माध्यम से होता हैं जैसे ही हम वेब ब्राउज़र या गूगल में कुछ भी सर्च करते है

तो वेब होस्टिंग के माध्यम से VPN हमेशा 24×7 उच्च बैंडविथ व उच्च Frequency Network प्रदान करता हैं एवं जो भी सर्च करते है वह स्क्रीन में ओपन हो जाता है एवं पूर्ण रूप से सुरक्षित होता है, सर्च करने वाला क्लाइंट जो सर्वर से डाटा प्राप्त करता है, जैसे ही क्लाइंट कुछ भी सर्च करता है तो सर्वर को सूचना भेजा जाता हैं वहाँ से सेंकड भर में अप्रूवल आ जाता हैं एवं जिस भी कंप्यूटर में सर्च किया जाता हैं उसका IP Address में ट्रांसमिशन होता है व इन्फर्मेशन तुरंत मिल जाता है, इंट्रानेट अधिकतर LAN, MAN व WAN होता है जो सभी कंप्यूटर को एक साथ जोड़ता है एवं फ़ाइल तक पहुँच प्रदान करता हैं।

 

इंट्रानेट का कार्य क्या हैं? (What are the functions of intranet)

 

इंट्रानेट में क्या शामिल होना चाहिए?

एक सफल इंट्रानेट में कुछ आवश्यक विशेषताएं शामिल होती हैं जो इसे संचार और सहयोग के लिए एक मूल्यवान चैनल बनाती हैं। कुछ विशेषताएं हैं:

1. फ़ाइलें शेयर करना

आपका इंट्रानेट प्लेटफ़ॉर्म या तो मौजूदा फ़ाइल-शेयरकरण समाधानों (जैसे Google वर्कस्पेस ऐप जैसे Google ड्राइव, ड्रॉपबॉक्स, वनड्राइव या अन्य) के साथ इंटिग्रेट होगा, या इसका अपना फ़ाइल-स्‍टोरेज सिस्टम होगा।

2. अपने संगठन में सर्च करना

क्योंकि आप अपने इंट्रानेट पर बहुत सारी जानकारी संग्रहीत करते हैं, सर्च इंट्रानेट में सबसे अधिक उपयोग किए जाने वाले फीचर्स में से एक है। सर्वोत्तम इंट्रानेट पृष्ठ या पोस्ट में, लेकिन फ़ाइल नामों में भी जानकारी भर में एंटरप्राइज़ सर्च प्रदान करते हैं।

3. लोगों की डायरेक्टरी में लोगों को सर्च करना

जब आपके पास एक बड़ा संगठन होता है, तो आपको जिस व्यक्ति की आवश्यकता होती है उसे ढूंढना एक चुनौती हो सकती है। लगभग सभी इंट्रानेट प्लेटफॉर्म में एक कर्मचारी डायरेक्टरी होती है – सबसे उपयोगी ऑटो-जेनरेट होते हैं। यहां आप अपने इंट्रानेट समाधान के आधार पर पूरे स्थान, नौकरी के शीर्षक या यहां तक ​​कि कौशल समूह के लोगों को सर्च कर सकते हैं।

4. पेज बनाएं

स्थिर संचार के लिए एक पेज बिल्‍डर टूल है, लेकिन यह केवल सूचित करने के अलावा और भी बहुत कुछ कर सकता है। अपनी ऑनबोर्डिंग यात्रा को आटोमेट करना, अपनी ब्रांड संपत्तियां रखें, विकी पेज बनाना या आईटी सहायता का अनुरोध करने के लिए एक जगह स्थापित करना।

5. दस्तावेज़ों, स्प्रैडशीट्स और स्लाइड्स पर सहयोग करना

आधुनिक इंट्रानेट आपको अपने प्रोडक्टिविटी सूट में डयॉकयूमेंट, स्प्रैडशीट्स, स्लाइड्स या अन्य अक्सर उपयोग किए जाने वाले ऐप्स पर सीधे काम करने की अनुमति देते हैं। केवल क्लाउड में संग्रहीत फ़ाइल से लिंक करने के बजाय, इसे एडिट करने से बातचीत और सहयोग वास्तव में महत्वपूर्ण चीज़ों के इर्द-गिर्द घूमता है, जैसे कार्य।

 

 

6. मोबाइल एक्सेस

अधिकांश आधुनिक इंट्रानेट एक मोबाइल इंट्रानेट ऐप प्रदान करते हैं, जिससे आप चलते-फिरते जुड़े रह सकते हैं। चूंकि काम तेजी से आपके डिवाइस पर कम निर्भर होता जा रहा है, इसलिए मोबाइल ऐप का सीधा सा मतलब है कि कर्मचारी जहां भी हों, व्यस्त रह सकते हैं।

7. कर्मचारी जुड़ाव को बढ़ावा देना

अंत में, आप वास्तव में अपने इंट्रानेट समाधान के साथ यही हासिल करना चाहेंगे। वैश्विक कार्यबल को एक साथ जोड़ना कोई आसान उपलब्धि नहीं है, और उन्हें व्यस्त रखना महत्वपूर्ण है। साल में एक बार किए जाने वाले सर्वेक्षण से इसमें कोई कमी नहीं आएगी – आपको कर्मचारियों की चिंताओं को दूर करने और सुनने के लिए एक स्केलेबल समाधान की आवश्यकता है। इंट्रानेट के बारे में यह बहुत अच्छी बात है – मजबूत एनालिटिक्स फीचर के साथ आप अपने संगठन, एक विशिष्ट पोस्ट या एक आंतरिक अभियान के आसपास की भावना को मापने और मापने में सक्षम होंगे। दूसरे शब्दों में: यह वास्तव में कर्मचारी जुड़ाव को मापता है।

 

इंट्रानेट का उपयोग  (intranet access)

 

यहाँ, इंट्रानेट के कुछ महत्वपूर्ण एप्लिकेशन निम्न हैं:-

  • कंपनी के Rules/Regulations, Updates और Policies का विवरण साझा करना
  • कंपनी के कर्मचारी डेटाबेस को एक्सेस करना
  • प्रॉडक्ट और कस्टमर डेटा को एक्सेस करना
  • कुछ सामान्य सूचनाएं या फ़ाइल शेयर करना
  • इंट्रानेट व्यक्तिगत या विभाग-विशिष्ट होम पेज लॉन्च करने हेतु प्रयोग करना
  • रिपोर्ट फ़ाइल सबमिट करना
  • कॉर्पोरेट टेलीफोन निर्देशिका उपयोग
  • इलेक्ट्रॉनिक संसाधनों साझा हेतु सॉफ्टवेयर एप्लिकेशन, टेम्प्लेट और टूल प्रदान करना
  • इंटरएक्टिव कम्युनिकेशन के लिए ई-मेल, चैट, न्यूज़ फीड जैसे एप्लिकेशन का प्रयोग

 

इंट्रानेट की विशेषताएं (Features of Intranet)

 

यहाँ, इंट्रानेट की कुछ महत्वपूर्ण विशेषताएं निम्न हैं:-

  • इंट्रानेट काफी तेज और सटीक हैं
  • फ़ायरवॉल इंट्रानेट नेटवर्क को बाहरी खतरों से बचाता हैं
  • संगठन के साथ निगरानी करना काफी आसान हैं
  • सभी लेवल पर कंपनी के अंदर कम्यूनिकेट करने मे आसानी होती हैं
  • सुझावों और चर्चाओं को शेयर करने मे मदद मिलता हैं
  • बड़े ग्राफिकल इमेज, वीडियो, ध्वनि और फ़ाइल्स वाली वेबसाइट अधिकतर इंट्रानेट पर तेजी से प्रोसेस करती हैं
  • इंट्रानेट कंटेन्ट को क्लाउड में स्टोर किया जा सकता है, जिससे फ़ाइलों को एक्सेस करने में समय बचता हैं

 

Internet से लाभ (Benefits from the Internet)

 

1. Cost Effectiveness (कम लागत)

दुनिया के सभी कंपनिया अपने Business में कम पैसा खर्च करना चाहती हैं और इसके लिए Intranet (इंट्रानेट) एक बहुत ही बड़ा advantage है क्योंकि जब आप अपने Organization में Intranet setup कर देंगे तो आपको अपने Organization के सभी Employee को अलग अलग Fax या Mail करने की जरुरत नहीं पड़ेगी, आप अपना कोई भी Notice अपने Intranet network में upload कर सकते हैं जहाँ से सभी Computers में शेयर हो जायेगा| जब हमे Fax और Mail नहीं करना पड़ेगा तो हमारा पैसा बचेगा|

2. Easily share Information (सुचना आसानी से शेयर किया जा सकता है)

आप अपने Intranet software के माध्यम से केवल एक click में अपने सभी Employees तक सुचना भेज सकते हैं आपको इसके लिए कोई भी Notice board नहीं लगाना होगा| इंट्रानेट का सबसे best advantages यह भी है आप Information को access करने के लिए Authorize access लगा सकते हैं जिससे केवल वही Person information को access कर सकता है जिसके पास Authorization permission होगा यानि की Authorization code होगा| Organization के लिए यह बहुत ही जरुरी है|

3. More Productivity – अधिक उत्पादकता

इंट्रानेट का एक यह भी फायदा है की इससे आपके कंपनी का growth होगा मतलब की आपके कंपनी में ज्यादा Product का उत्पादन होगा, वो इस प्रकार होगा क्योंकि आपके Employees को कोई भी file search करने में ज्यादा समय नहीं लगेगा, और आपके कंपनी के Workers काम पर ज्यादा समय बिताएंगे|

 

इंट्रानेट से हानि (loss from intranet)

 

जिसके फायदे होते हैं उसके नुकसान भी होते हैं क्योंकि एक सिक्के के दो पहलु होते हैं| इंट्रानेट के कुछ नुकसान भी हैं जो की निचे दिए गए हैं|

1. Security Risk

इंट्रानेट में भी security setting होता है और कभी कभी जब यह setting पूरी तरह से complete नहीं किया जाता है तो कुछ हैकर आपके Private Network को access करके data को हैक कर लेते हैं मतलब की यहाँ पर भी डाटा चोरी होने का दर रहता है|

2. Less People Interaction

जब से इन्टरनेट और इंट्रानेट की दुनिया आया है तब से लोग एक दुसरे से आमने सामने interact नहीं करते हैं जिससे की लोगो के बीच दूरियां बढ़ जाती है| जब आप अपने Organization या Company में इंट्रानेट का इस्तेमाल करेंगे तो आपके company के Employee को एक दुसरे से interact करने का मौका नहीं मिलेगा जिससे लोग एक दुसरे को अच्छे तरीके से नहीं समझ पाएंगे|

3. Work culture में changement आएगा

जब सब काम fastly होगा तो उतना ही फ़ास्ट आपके employee को task भी मिलेगा जिससे आपके Company का growth तो होगा वो एक फायदा है लेकिन आपके Employee काम करते करते उबाऊ महसूस करेंगे, और काम करने में उनका मन नहीं लगेगा|

 

Internet (इन्टरनेट) और Intranet (इंट्रानेट) के बीच difference:

 

जैसा की मैंने ऊपर में बताया था की दोनों शब्द काफी हद तक मिलते जुलते हैं लेकिन दोनों का मतलब अलग अलग होता है, पर दोनों में एक Similarities जरुर है, वो ये है की दोनों ही डाटा शेयर करने का काम करते हैं| अब चलिए हम Internet और Intranet के बीच difference देख लेते हैं|

1 Internet एक Public Network होता है जो की पुरे दुनिया में कहीं भी access किया जा सकता है| Intranet एक Private Network होता है जो की Organization के अन्दर उपयोग होता है और यह केवल Organization के अन्दर ही Accessible होता है|
2 यह तरह तरह के नेटवर्क को एक साथ जोड़ने का काम करता है| यह इन्टरनेट का पार्ट होता है जो की केवल एक नेटवर्क को ही जोड़ने का काम करता है वो भी Private way में|
3 इसको Unlimited लोग access कर सकते हैं| इसको केवल Organization के Members, staff ही access कर सकते हैं| मतलब की इसमें limited user access कर सकते हैं|
4 यह सुरक्षित नहीं है| यह सुरक्षित है|
5 इसमें बहुत ज्यादा Visitors आ सकते हैं| इसमें बहुत कम visitors आयेंगे|

 

 

 

Conclusion

 

 

दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Intranet क्या है? इन्टरनेट और इंट्रानेट के बीच अंतर क्या है की जानकारी जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Intranet क्या है? इन्टरनेट और इंट्रानेट के बीच अंतर क्या है की जानकारी

 

 

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!