AutoCAD  क्या है? ऑटोकैड कैसे सीखें, सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

दोस्तों AutoCAD  क्या है? :- घर बनाने के पहले उसका नक्शा तैयार किया जाता है और इस काम के लिए किसी डिजाइनिंग कंपनी या फिर अच्छे इंजीनियर को संपर्क किया जाता है लेकिन क्या आप जानते हैं कि घर बनाने के लिए नक्शे का डिजाइन इंजीनियर कैसे करते हैं तो इसका जवाब है ऑटोकैड लेकिन आपको शायद ही पता होगा कि ऑटोकैड क्या है (What is AutoCAD in हिंदी)। अगर आप इस शब्द से वाकिफ नहीं है तो कोई बात नहीं है इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप इसके बारे में बहुत कुछ समझ जाएंगे और यह भी जान जाएंगे कि ऑटोकैड से क्या होता है.

जो लोग इस सॉफ्टवेयर पर काम करना जानते हैं उनके लिए रोजगार के कई तरीके हैं. ये एक ऐसा सॉफ्टवेयर है जिसका जिसका इस्तेमाल तो घर की डिजाइन में किया तो जाता ही है साथ साथ मैकेनिकल काम जैसे मशीनों की डिजाइन और ड्राइंग बनाने में भी किया जाता है.

इसका इस्तेमाल अधिकतर इंजीनियरिंग पढ़ने वाले छात्र करते हैं या फिर ग्राफिक डिजाइनिंग विजुअल डिजाइनिंग सीखते हैं वह इस कोर्स को करते हैं. अगर आप इस क्षेत्र में नए हैं और ये जानना चाहते हैं कि ऑटोकैड कैसे सीखे तो इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में विस्तार से बताएंगे.

इसकी परिभाषा क्या है (AutoCAD definition in Hindi) यह भी आज हम आपको जानकारी देंगे और साथ में यह भी बताएंगे कि इस का फुल फॉर्म क्या होता है. इस कोर्स का क्या महत्व है और इस से क्या-क्या फायदे हैं ये भी आप समझ जाएंगे क्योंकि यह सिर्फ एक क्षेत्र में उपयोग नहीं होता है बल्कि कई क्षेत्रों में डिजाइनिंग के लिए इसका काफी इस्तेमाल किया जाता है. य

ही वजह है कि मैंने सोचा कि इस सॉफ्टवेयर के बारे में आपको पूरी जानकारी दे दे ताकि आप भी इसे सीख सके और समझ पाए कि इस सॉफ्टवेयर को कैसे चलाएं. तो दोस्तों देर किस बात की चलिए शुरू करते हैं और जानते हैं कि ऑटोकैड क्या होता है (What is AutoCAD in hindi) और इसे कैसे सीखे.

 

AutoCAD  क्या है? ऑटोकैड कैसे सीखें, सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में
TEJWIKI.IN

 

Contents

AutoCAD  क्या है? (What is AutoCAD)

 

AutoCAD का Full Form होता है Automatic Computer Aided Design. इसकी native file format होती है .dwg. यह एक ऐसा software होता है जिसका इस्तमाल मुख्य रूप से building plan, architecture designs, construction और Manufacturing के engineering plans को बनाने के लिए होता है.

इसे drafting application भी कहा जाता है. इस Software को Autodesk ने ही Develop और market किया था. सबसे पहली बार AutoCAD को December 1982 में एक desktop app के रूप में release किया गया था.

 

 

 

उस समय इन्हें microcomputers जिनमें internal graphics controllers होता था उनमें इन्हें चलाया जाता था. AutoCAD के introduction से पहले ज्यादातर commercial CAD programs को mainframe computers या minicomputers में run किया जाता था.

इसमें प्रत्येक CAD operator (user) एक separate graphics terminal में काम करते थे. फिर 2010 से, AutoCAD को mobile- और web app के हिसाब से भी release कर दिया गया जिसे की AutoCAD 360 के नाम से लोगों के बिच जाना गया. Professionals जो की AutoCAD का इस्तमाल करते हैं उन्हें drafters कहा जाता है.

 

ऑटोकैड का फुल फॉर्म क्या है (what is the full form of autocad)

 

Auto CAD full form in English :

Automatic Computer Aided Design

ऑटोकैड का फुल फॉर्म हिंदी में :

स्वचालित कंप्यूटर एडेड डिजाइन

 

ऑटोकैड का इतिहास (History of AutoCAD)

 

AutoCAD यह technical शब्द एक program से लिए गया है जो की सन 1977 में शुरू हुआ, और सन 1979 में इसे Interact CAD के नाम से release किया गया. इसे पहले के Autodesk documents में MicroCAD के नाम से refer किया जाता था.

Autodesk की first version को सबसे पहली बार 1982 Comdex में demonstrate किया गया और December में release किया गया. Autodesk की flagship product के हिसाब से, March 1986 तक AutoCAD सबसे popular और ubiquitous CAD program बन चूका था पुरे दुनिअभर में.

वहीँ अभी के बात करें तब 2019 में AutoCAD की 33rd major version को release किया गया Windows Operating System के लिए.

 

AutoCAD करने के लिए Best Computer कैसे होना चाहिए? (How to be the best computer to do AutoCAD)

 

केवल AutoCAD ही नहीं बल्कि सभी softwares जो की Autodesk umbrella के नीचे आते हैं वो सभी resource intensive होते हैं और इसलिए ये run होने के लिए powerful computer की जरुरत होती है.

क्यूंकि AutoCAD में बहुत से चीज़ों को handle करना पड़ता है जैसे की सभी 3D modeling, civil और architectural task इत्यादि. ऐसे में इन्हें smoothly run करने के लिए बेहतर computer system का होना बहुत जरुरी है.

 

जहाँ ordinary users और engineers को CAD run करने के लिए computer की minimum specifications की जरुरत होती है वहीँ अगर आप multitasking करते हैं तब आपको high-end PC की बहुत जरुरत होती है.

इससे आप बड़े ही seamless और lag-free performance प्राप्त कर सकते हैं और आपकी productivity भी बढ़ जाएगी.

चलिए कुछ ऐसे ही Systems के विषय में जानते हैं जो आपकी बड़ी मदद कर सकते हैं :

  • MacBook Pro 15-inch with Touch Bar
  • Razer Blade
  • HP ZBook 17 G3
  • HP ZBook Studio G3
  • HP Spectre Pro 13 G1
  • Lenovo ThinkPad P40 Yoga
  • Lenovo ThinkPad P70
  • MSI WT72 6QK

 

ऑटोकैड कैसे सीखें (How to learn autocad)

 

AutoCAD कोई छोटा सा कोर्स नहीं है. अगर आपको पूरा ज्ञान चाहिए तो यह बेहतर होगा के आप कोई institute को join कर लीजिये. या फिर आप YouTube का मदद भी ले सकते है. आपको यहाँ पे एक basic कोर्स का विडियो दिया गया है, जिसके मदद से आप इसको चलाना सिख पाओगे.

AutoCAD से Related कितने Course है? (How many courses are there related to AutoCAD)

 

AutoCAD के बहुत से courses होते हैं, ये निर्भर करता है की आप उनमें से किस प्रकार का course करना चाहते हैं. मतलब के समय और expertise के अनुसार उन्हें निम्नलिखित प्रकारों में बाँट दिया गया है.

 

AutoCAD के Courses:

 

  • Advance Course in CADD (तीन महीने का Certificate Programme)
  • AutoCAD (दो महीने का Certificate Programme)
  • Advanced AutoCAD Course (तीन महीने का Certificate Programme)
  • Diploma in AutoCAD (दो महीने का Undergraduate Diploma Programme)
  • Master Diploma in Architectural CADD (दो महीने का Postgraduate Diploma Programme)

 

कुछ Common Courses की list

 

चलिए इन courses के विषय में कुछ विस्तार में जानते हैं की आखिर इसमें क्या सीखाया जाता है. इससे आपको इनकी चुनाव करने में आसानी होगी.

 

Introductory AutoCAD Course

 

Introductory courses में students को AutoCAD’s interface, menu options, toolbars और operational commands की basic knowledge प्रदान की जाती है.

इस Courses में students को वह opportunity प्रदान की जाती है जिससे वो ये observe कर सकें की कैसे professional drafting projects को बनाया जाता है और उन्हें execute किया जाता है.

इसके साथ उन्हें अपने खुद के 2D designs कैसे create करें के विषय में भी educate किया जाता है. इसके अलावा Basic skills में drawing, editing, layering और plotting की शिक्षा दी जाती है.

 

 

 

Intermediate AutoCAD Course

 

पहले के introductory instruction AutoCAD में होने के बाद, students को intermediate level AutoCAD skills की training प्रदान की जाती है. इसमें बहुत से चीज़ें included होती हैं जैसे की hatching, dimensioning, cross-references, tables और block attributes.

Students को 3D designs में introduce किया जाता है और साथ में drafting skills सिखाई जाती है जिसके मदद से वो खुदको prepare कर सकें advanced AutoCAD training के लिए.

 

Advanced AutoCAD Course

 

Advanced AutoCAD courses मुख्य रूप से focus करता है 3D designs पर, जिसमें इसे ठीक रूप से चलाने के लिए navigation और modeling tools का भी इस्तमाल होता है 3D drawings create करने के लिए.

Students इसमें कई concepts सीखते हैं जैसे की lighting, mapping और solid-model creation. Course में students को 3D models की importing और scanning images के बारे में भी training दी जाती है.

 

Graphics Creating की AutoCAD Course

 

यह एक ऐसा course होता है graphics production की जिसमें की ये demonstrate किया जाता है की कैसे AutoCAD का इस्तमाल illustration और Web design projects में किया जाये. Students को AutoCAD का इस्तमाल दुसरे software जैसे की Adobe Photoshop, Adobe Illustrator और Autodesk Impression software के साथ jointly सीखाया जाता है.

Skills की बात करें तब उसमें correcting photographs, manipulating करना depth of field की और special effects की creation इत्यादि की training दी जाती है.

 

AutoCAD की Training Programs

 

AutoCAD courses भी available होते हैं AutoCAD और Autodesk certificate programs में. Students को ये training programs complete करना होता है online या फिर एक traditional classroom format से.

 

AutoCAD training programs में केवल एक comprehensive course हो सकता है जिसमें की progressive instruction होता है basic level से advanced skill levels तक. इन training programs को एक specific period के दौरान ही complete करना होता है.

 

AutoCAD के कुछ सबसे लोकप्रिय विषय जिन्हें Engineers ज्यादा पसंद करते हैं.

 

  • 3D sketch और Boolean operations
  • 3D parts, UCS, Boolean operation, Solid Editing, etc.
  • Creating & Editing Text
  • Equations, Design Table & Configurations
  • Introduction, Walls, Flanges, Bending
  • Design Centre & Tool Palettes
  • Inquiry tools & Parametric Drafting
  • Surface Creation & Modification tools
  • Sketch Visualization & Sketch Analysis
  • Drafting Settings
  • Dimensions & Dimension Styles
  • Geometry & Dimensional Constraints
  • Sketch Entities & Sketch Tools
  • Block, W-block, X-attach & X-Ref

 

AutoCAD के लिए Engineering का होना जरुरी नहीं है ना? (Engineering is not necessary for AutoCAD, is it?)

 

AutoCAD के लिए Engineering Degree का होना कोई भी जरुरी नहीं है. इसके लिए आपके पास केवल Computer चलाने की समझ होनी चाहिए. यदि आपको थोड़ी भी technical knowledge है तब आप आसानी से AutoCAD Software को चला सकते हैं.

वैसे अगर आपके पास Engineering Degree हैं तब इससे आपको AutoCAD को चलाने में ज्यादा आसानी होगी क्यूंकि Engineering के course में इसके विषय में पहले ही पढाया जाता है. साथ में आपको कुछ diagrams की designs में मदद भी कर सकता है.`

 

AutoCAD के Career Options क्या है (What are the Career Options of AutoCAD)

 

AutoCAD का इस्तमाल सबसे ज्यादा drafters और दुसरे professions के द्वारा किया जाता है जो की design और construction में ज्यादा focus करते हैं. चलिए ऐसे ही कुछ career options के विषय में जानते हैं जिन्हें की आप choose कर सकते हैं एक बार आप ने AutoCAD ठीक से चलाना सीख लिया तब.

 

Drafter बन सकते हैं

 

Drafters technical illustrations को prepare करते हैं जिसमें की सभी engineering और manufacturing specifics को महत्व दिया जाता है किसी भी structure या कोई product बनाने के लिए. इसमें AutoCAD software program उन drafters की मदद करता है technical drawing को develop और store करने के लिए.

लेकिन इसमें भी एक drafter के पास वो सभी चीज़ों की knowledge होनी चाहिए जिसमें drafting techniques, manufacturing theory और engineering प्रमुख हैं.

एक advantage जो की drafters को इस AutoCAD software program के इस्तमाल से मिलता है वो ये की इससे drafter बड़े ही जल्दी ही designs प्रस्तुत कर सकते हैं और साथ में इनमें जरुरत पड़ने पर variations भी ला सकते हैं specific data के basis पर.

ये बिलकुल भी unusual नहीं है की एक drafter किसी एक particular area में specialize करे. उदाहरण के लिए, एक common drafter job की specialties में civil, architectural, mechanical और aeronautical drafting आ सकती है. यह Drafting Profession एक सबसे बढती हुई profession हैं और इनकी हर समय जरुरत पड़ती है.

 

Architect बन सकते हैं

 

Architects का काम ही होता है की वो buildings, houses, bridges, monuments जैसे architectures की designs प्रस्तुत करें. वो directly clients के साथ काम करते हैं जिससे वो उनकी सभी needs और requirements को पूरा कर सकें.

इसके साथ वो construction के लिए जरुरत होने वाले plans को भी develop करते हैं. ज्यादातर architects AutoCAD का ही इस्तमाल करते हैं अपने designs को तैयार करने के लिए.

Jobs prospects की बात करें तब architects की जरुरत सभी fields में है चाहे वो naval architects, building design architects हो उन्हें Government या Private companies employ करती हैं. उनकी salary उनके skills और experience के ऊपर निर्भर करता है.

 

Interior Designer बन सकते हैं

 

Interior designers का मुख्य काम होता है buildings की internal appearance को design करें. मतलब की building तैयार हो जाने पर उसके भीतरी design कैसे दिखेगी. इसके साथ साथ उन्हें interiors design करते वक़्त building codes और दुसरे safety regulations का भी ख़ास खयाल रखना पड़ता है.

ज्यादातर interior designers इस AutoCAD का इस्तमाल करते हैं designs के लिए क्यूंकि इसे इस्तमाल करना आसान भी है और साथ में इसमें ऐसे बहुत से features हैं जो की designers को guide करती है इन्हें सही रूप से इस्तमाल करने के लिए.

मुख्य रूप से कई Private Constructional Companies और Real Estates Companies में इन्हें employment मिलती है.

 

ऑटोकैड के उपयोग क्या है ? (What is the use of AutoCAD)

 

इस प्रोग्राम को तो शुरुआत में मैकेनिकल इंजीनियर के लिए बनाया गया था लेकिन बहुत जल्दी इसका इस्तेमाल हर क्षेत्र में होने लगा. बल्कि यूं कहें कि ऑटोकैड के सफलता इसी लिए भी हुई क्योंकि इसका इस्तेमाल करने वालों में अधिकतर डिजाइन प्रोफेशनल जिसमें आर्किटेक्ट, प्रोजेक्ट मैनेजर, एनिमेटर, और इंजीनियर शामिल है.

 

Construction – निर्माण कार्य

 

कंस्ट्रक्शन ही वह क्षेत्र है जहां पर की ऑटोकैड का सबसे अधिक इस्तेमाल किया जाता है.

ऑटोडेस्क बिल्डिंग डिजाइन सूट ऐसा सॉफ्टवेयर है जो बिल्डिंग को 3D डिज़ाइन करने की सुविधा प्रदान करता है साथ ही इसमें बिल्डिंग इनफॉरमेशन मॉडलिंग और कई टूल को एक साथ कंबाइन करता है जिससे कि इंजीनियर कोर कंस्ट्रक्शन के डिजाइन विजुलाइज स्टिम्युलेट और काम करने में काफी आसानी होती है.

अगर हम एक उदाहरण ले की ऑटोकैड से किस तरह से सफलता से काम किया जाता है इसका सबसे बड़ा उदाहरण है शंघाई टावर का निर्माण. यह टावर काफी जटिल स्ट्रक्चर है और डेवलपर ने जल्दी ही महसूस किया कि पारंपरिक इमारत के तरीके उपकरण और अन्य डिजाइन सॉफ्टवेयर परिजनों को सफलतापूर्वक पूरा करने में असमर्थ थे. इसीलिए डेवलपर्स ने BIM द्वारा पेश किया गया डिजाइन 3डी में टावर की कल्पना करने और टावर की ट्विस्टिंग स्ट्रक्चर पर पूरी तरह से पकड़ बनाकर काम करने में मदद की.

BIM का उपयोग करने से टीम को डिजाइन का विश्लेषण करने और निर्णय लेने में काफी मदद मिली तथा पर्यावरण के अनुकूल बहुत ऊंची इमारत बनाने के लिए ऊर्जा विश्लेषण की निगरानी करने और इमारत बनाने में मटेरियल को बचाने में मदद की.

टावर के मालिक और डेवलपर बिल्डिंग के सफल निर्माण के लिए बीआईएमआर ऑटोकैड को श्रेय देते हैं एक संपत्ति मालिक के दृष्टिकोण से बी आई एम पूरे प्रोजेक्ट के निर्माण और मैनेजमेंट के साथ इन्वेस्टमेंट कंट्रोल के लिए एक बहुत ही प्रभावी टूल है.

 

Animation – एनिमेशन

 

सिर्फ कंस्ट्रक्शन क्षेत्र नहीं है जहां पर ऑटोकैड का इस्तेमाल किया जाता है बल्कि मनोरंजन के क्षेत्र में अभी इसका काफी इस्तेमाल होता है. 3D एनीमेशन का इस्तेमाल करके मनोरंजन के क्षेत्र में उच्च गुणवत्ता वाले क्लासिक एनीमेशन तैयार किए जाते हैं.

आधुनिक फ्लैक्सिबल ग्राफिक पाइपलाइन बनाने के लिए टूल सेट का इस्तेमाल किया जाता है और विजुअल इफैक्ट्स कलाकारों और मॉडल्स को अपनी रचनात्मक क्षमताओं की सीमाओं को आगे बढ़ाने और उनके प्रोडक्शन बढ़ाने और कम से कम समय में पूरा करने की सुविधा देता है.

 

AutoCAD सीखने से लाभ क्या है ? (What are the benefits of learning AutoCAD)

 

कंप्यूटर में चित्र तथा आरेख बनाने की आपकी यह खूबी इलेक्ट्रिकल, मैकेनिकल, आर्किटेक्ट, सिविल ड्राफ्ट आदि अन्य क्षेत्रों में एक बेहतर नौकरी या बिजनेस योग्यता प्रदान कर सकती है.

AutoCAD में बनाये गए दस्तावेजों (Documents) को हम किसी भी कंप्यूटर में आसानी से सहेज सकते हैं. इसके अलावा ऑटोकैड उपयोग करने का फायदा यह है कि हम हमारे द्वारा बनाए गए चित्रों या आरेखों को किसी भी व्यक्ति के साथ शेयर कर सकते हैं. तथा बनाई गई डिजाइन को क्लाउड स्टोरेज पर आसानी से शेयर किया जा सकता हैं.

पारंपरिक डिजाइन तैयार करने की तुलना में ऑटोकैड में चित्रकला (Drawing) करना बेहद आसान है. जिसमें हम पुराने डिजाइंस को भी नए डिजाइन में उपयोग कर सकते हैं. जिससे समय तथा प्रयास दोनों की बचत होती है. AutoCAD सॉफ्टवेयर में कॉपी, रोटेटिंग, स्ट्रैचिंग, स्केल आदि अनेक फीचर्स के जरिए एक बेहतर डिजाइन तैयार करने में मदद मिलती है.

ऑटोकैड डिजाइन में बनाए हुए आयामों को भी प्रदर्शित करता है. तथा उन बिंदुओं (Points) को भी सटीकता के साथ दर्शाता है. जिसे हम आमतौर पर किसी हैंडराइटिंग डिजाइन में Show करना संभव नहीं है.

Manual रूप से तैयार किए गए चित्रों को दोबारा से एडिट या बदलाव करने के लिए ड्राफ्टमैन को फिर से नया चित्र बनाने की आवश्यकता होती है. परंतु ऑटोकैड में मौजूद In-Built टूल्स की मदद से हम किसी डिजाइन में बदलाव कर नए डिज़ाइन में परिवर्तित कर सकते हैं.

 

 

AutoCAD Key की Commands लिस्ट (AutoCAD Key Key Commands List)

 

चलिए कुछ AutoCAD key के basic commands के विषय में जानते हैं.

F1 Display Help
F2 Toggle text screen
F3 Toggle object snap mode
F4 Toggle 3DOsnap
F5 Toggle Isoplane
F6 Toggle Dynamic UCS
F7 Toggle grid mode
F8 Toggle ortho mode
F9 Toggle snap mode
F10 Toggle polar mode
F11 Toggle object snap tracking
F12 Toggle dynamic input mode
Ctrl+d Toggle coordinate display
Ctrl+g Toggle Grid
Ctrl+e Cycle isometric planes
Ctrl+f Toggle running object snaps
Ctrl+h Toggle Pick Style
Ctrl+Shift+h Toggle Hide pallets
Ctrl+i Toggle Coords
Ctrl+Shift+i Toggle Infer Constraints
Ctrl+0 (zero) Clean Screen
Ctrl+1 Property Palette
Ctrl+2 Design Center Palette
Ctrl+3 Tool Palette
Ctrl+4 Sheet Set Palette
Ctrl+6 DBConnect Manager
Ctrl+7 Markup Set Manager Palette
Ctrl+8 Quick Calc
Ctrl+9 Command Line
Ctrl+n New Drawing के लिए
Ctrl+s Save drawing करने के लिए
Ctrl+o Open drawing करने के लिए
Ctrl+p Plot dialog box करने के लिए
Ctrl+Tab Switch to next करने के लिए
Ctrl+Shift+Tab Switch करने के लिए previous drawing
Ctrl+Page Up Switch करने के लिए previous tab से current drawing में
Ctrl+Page Down Switch करने के लिए next tab में current drawing से
Ctrl+q Exit
Ctrl+a Select all objects
Ctrl+c Copy object
Ctrl+x Cut object
Ctrl+v Paste object
Ctrl+Shift+c Copy करने के लिए clipboard में base point के साथ
Ctrl+Shift+v Paste करने के लिए data को एक block के हिसाब से
Ctrl+z Undo last action
Ctrl+y Redo last action
Ctrl+[ Cancel current command (or ctrl+\)
ESC Cancel current command के लिए

 

 

 

 

 

 

 

 

Conclusion

 

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख AutoCAD  क्या है? ऑटोकैड कैसे सीखें, सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में  जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

AutoCAD  क्या है? ऑटोकैड कैसे सीखें, सम्पूर्ण जानकारी हिंदी में

 

 

 

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!