2023 में जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? पूरी जानकारी

दोस्तों 2023 में जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? आज के टाइम में ज्यादातर लोग जमीन खरीदने के बारे में सोचते रहते हैं और लोगों को अपने जमीन की स्टांप ड्यूटी देनी पड़ती है। इस कारण से लोगों को पता नहीं चल पाता कि उनसे रुपए ज्यादा लिए जा रहे हैं या फिर कम लिए जा रहे हैं तो अगर आप को आपकी जमीन का सरकारी रेट कितना है पता होगा तो आपको स्टांप ड्यूटी देने में भी कोई दिक्कत नहीं होगी।

अगर आपको कहीं पर भी अपनी जमीन का रेट बताना हो तो भी आप बता सकते हैं लेकिन बहुत से लोगों को लगता है कि अपनी जमीन का सरकारी रेट पता करने के लिए उन्हें दफ्तरों के चक्कर लगाने पड़ेंगे लेकिन अगर आपके पास एक स्मार्टफोन है तो आप घर बैठे हुए बड़ी ही आसानी से अपने जमीन का सरकारी रेट पता कर सकते हैं। लेकिन कुछ भाइयों को इसके बारे में पता नहीं होने के कारण वह सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं उठा पाते हैं और सरकारी दफ्तरों के चक्कर लगाते रहते हैं।

ऐसे में आपको अवश्य जानना चाहिए जमीन का सर्किल रेट कैसे पता करें इसके सरकारी रेट के अनुसार ही हमें जमीन की रजिस्ट्री के समय रजिस्ट्री शुल्क देना पड़ता है और स्टांप ड्यूटी में पैसे देने पड़ते हैं। जमीन का सर्किल रेट या फिर कहा जाए सरकारी रेट तो इसे सरकार ही तय करती है कि जमीन का सरकारी रेट कितना है किसी भी जमीन का सरकारी रेट एक जैसा नहीं होता सभी जगह पर इसका रेट अलग अलग होता है।

तो चलिए जानते हैं Jamin Ka Sarkari Rate Kaise Pata Kare वैसे अगर कोई जमीन किसी भी सड़क के किनारे है या फिर बाजार के अंदर है तो उस जमीन का सरकारी रेट ज्यादा होगा लेकिन उसी जगह अगर कोई ऐसी जमीन है जो कि कहीं वीरान जगह पर है या फिर बंजर है तो उस जमीन का सरकारी रेट कम होगा ऐसी चीजें सभी को पता होती हैं।

 

2023 में जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? पूरी जानकारी
TEJWIKI.IN

 

Contents

ई पंजीयन सॉफ्टवेयर क्या होता है ? (What is e-registration software)

 

ई पंजीयन (संपत्ति की पंजीकरण एप्लीकेशन) सॉफ्टवेयर, नागरिक-केंद्रित सेवाओं को अधिक तेज़ी से और समय पर प्रदान करने के अवसर प्रदान करता है। छत्तीसगढ़ सरकार के उप-पंजीयक कार्यालय और पंजीकरण विभाग के लिए यह सबसे विशिष्ट रूप से डिज़ाइन किया गया सॉफ्टवेयर है। इसमें कार्य संस्कृति, सार्वजनिक सेवा को प्रबंधित, सतर्क, अद्यतन, लागू करने और सुधारने और वास्तविक समय के भीतर पूरी रिपोर्टिंग प्रदान करने की क्षमता है।

कम्प्यूटरीकृत अचल संपत्ति के पंजीकरण प्रणाली के तहत, पंजीकरण आसान होता है। यह मूल्यांकन में पारदर्शिता की सुविधा देता है और बिचौलियों के अवसर को समाप्त करता है, कुछ राज्यों में संबंधित प्राधिकरण को आवेदन प्रस्तुत करना पड़ता है, जो आपके क्षेत्र के उप-पंजीयक भी हो सकते है। आवेदन फॉर्म को या तो ऑनलाइन डाउनलोड किया जा सकता है या संबंधित प्राधिकरण के कार्यालय से प्राप्त किया जा सकता है। विवरण के सत्यापन के बाद, विलेख तैयार माना जायेगा, और इस तरह पंजीकरण प्रक्रिया पूरी हो जाती है।

 

 

 

ई पंजीयन सॉफ्टवेयर पर क्या क्या सुविधा मिलता है ?

 

  • पंजीयन हेतु अपॉइंटमेंट बुक कर सकते है।
  • संपत्ति की बाज़ार मूल्य की गणना कर सकते है।
  • संपति की हक सम्बंधित जानकारी प्राप्त कर सकते है।
  • पूर्व पंजीकृत दस्तावेज की जानकारी प्राप्त कर सकते है।

 

छत्तीसगढ़ के जिलों की लिस्ट जहाँ जमीन का सरकारी रेट चेक कर सकेंगे 

 

Balod (बालोद) Kanker (कांकेर)
Baloda Bazar (बलोदा बाजार) Kondagaon (कोण्डागांव)
Balrampur (बलरामपुर) Korba (कोरबा)
Bastar (बस्तर) Koriya (कोरिया)
Bemetara (बेमेतरा) Mahasamund (महासमुन्द)
Bijapur (बीजापुर) Mungeli (मुंगेली)
Bilaspur (बिलासपुर) Narayanpur (नारायणपुर)
Dantewada (दन्तेवाड़ा) Raigarh (रायगढ़)
Dhamtari (धमतरी) Raipur (रायपुर)
Durg (दुर्ग) Rajnandgaon (राजनांदगांव)
Gariaband (गरियाबंद) Sukma (सुकमा)
Janjgir-Champa (जांजगीर-चाम्पा) Surajpur (सूरजपुर)
Jashpur (जशपुर) Surguja (सुरगुजा)
Kabirdham (कबीरधाम)

 

छत्तीसगढ़ में जमीन का सरकारी रेट चेक कैसे करें ? (How to check the government rate of land in Chhattisgarh)

 

epanjiyan cg वेब पोर्टल पर Govt Rate of Land check करने के लिए हमें निर्धारित प्रक्रिया को करना पड़ता है। इसके साथ ही सही विकल्प और जानकारी को सेलेक्ट करना होगा। तब जाकर आपको किसी जमीन का सरकारी रेट मिल पायेगा। इन सभी की जानकारी नीचे स्टेप में बताया जा रहा है। आप इन्हे ध्यान से पढ़कर जैसे बताया गया है वैसे ही आप भी प्रक्रिया को करें। तो चलिए शुरू करते है।

 

स्टेप-1 epanjeeyan cg वेब पोर्टल को ओपन करें

 

सबसे पहले अपने मोबाइल या कंप्यूटर में कोई भी इंटरनेट वेब ब्राउज़र को ओपन करें। इसके बाद गूगल सर्च बॉक्स में epanjeeyan.cg.gov.in टाइप करके एंटर करें। या हमने यहाँ डायरेक्ट लिंक भी दे रहे है। इस लिंक के द्वारा आप सीधे ई पंजीयन सॉफ्टवेयर को ओपन कर सकेंगे

 

 

स्टेप-2 बाज़ार मूल्य संगणक विकल्प को सेलेक्ट करें

 

जैसे ही ई पंजीयन वेब पोर्टल ओपन हो जाए, स्क्रीन पर आपको अलग अलग विकल्प दिखाई देंगे। ये सभी विकल्प अलग अलग सर्विस के लिए है। जमीन का सरकारी कीमत पता करने के लिए बाज़ार मूल्य संगणक विकल्प के नीचे Click Here बटन को सेलेक्ट कीजिये।

 

स्टेप-3 संपति की बाजार मूल्य विकल्प को सेलेक्ट करें

 

अगले स्टेप में फिर आपको अलग – अलग सर्विस का विकल्प मिलेगा। govt land rate check करने के लिए संपति की बाजार मूल्य विकल्प के नीचे Click Here बटन को सेलेक्ट करें।

 

स्टेप-4 Govt Rate of Land Check करें

 

अब इस स्टेप में आपको बहुत सी जानकारी देनी है। इसे हमने इमेज के साथ बताया है। आप ध्यान से इसे चेक करें –

 

  1. जिला – यहाँ वो जिला सेलेक्ट करें जहाँ जमीन का सरकारी रेट चेक करना चाहते है।
  2. उप पंजीयक कार्यालय – उस जिले का उप पंजीयक कार्यालय चुनें।
  3. क्षेत्र प्रकार – इसमें जनपद, नगर पालिका या नगर पंचायत को सेलेक्ट करें।
  4. क्षेत्र का नाम – यहाँ क्षेत्र का नाम सेलेक्ट कीजिये।
  5. वार्ड/ग्राम – वो क्षेत्र जिस वार्ड या ग्राम के अंतर्गत आता है उसे चुनें।
  6. मोहल्ला/ग्राम का नाम – मोहल्ला ग्राम का नाम चुनें।
  7. भूमि प्रकार – भूमि का प्रकार सेलेक्ट कीजिये।
  8. तहसील – ये भाग ऑटोमैटिक आ जायेगा।
  9. ऱा0नि0मंडल – ये भाग ऑटोमैटिक आ जायेगा।
  10. वार्ड/हल्का नं. – ये भाग ऑटोमैटिक आ जायेगा।
  11. मोहल्ला/कॉलोनी/सोसायटी/मार्ग का नाम – ये भाग ऑटोमैटिक आ जायेगा।
  12. सौदा किया गया रकवा – इसे ध्यान से भरें। जैसे आप वर्ग फुट में जमीन खरीद रहे है तब उस जमीन का कुल एरिया यहाँ लिखें, जैसे 1000
  13. क्षेत्र इकाई – इस भाग में वर्ग फुट ऑप्शन को सेलेक्ट करें।
  14. दस्तावेज का न्यूनतम बाजार मूल्य – इस भाग में उस जमीन का सरकारी रेट चेक कर सकते है।

 

ध्यान दें कि सौदा किया गया रकवा वाले विकल्प में अगर आप एकड़ में जमीन ले रहे है तब कुल एकड़ लिखें और क्षेत्र इकाई भाग में एकड़ ऑप्शन को सेलेक्ट करें। इस तरह epanjiyan वेब पोर्टल पर छत्तीसगढ़ के प्रत्येक जिले का जमीन का सरकारी रेट पता किया जा सकता है। सभी जिलों के लिए प्रक्रिया वैसा ही रहेगा जैसे हमें ऊपर बताया है।

 

जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? (How to know the government rate of land)

 

स्टांप ड्यूटी एक प्रकार का गवर्नमेंट टैक्स है जिसे हमें हमारी सरकार को देते हैं ताकि वह हमारे देश में कुछ विकास कर सके और जब भी हम हमारी जमीन की रजिस्ट्री कराते हैं तो उस वक्त हमें यह टैक्स देना पड़ता है और यह टेक्स हमारी स्टेट गवर्नमेंट के पास जाता है।

 

स्टांप ड्यूटी के बारे में हमें इसलिए बात कर रहे हैं क्योंकि मान लो अगर आपने किसी भी जगह पर कोई जमीन खरीदी है तो आपको उस पर कुछ टैक्स देना पड़ता है लेकिन हर राज्य का या कहे तो हर जगह पर जमीन का सरकारी रेट अलग अलग होता है और स्टांप ड्यूटी ली जाती है यह सरकारी रेट है के हिसाब से ही ली जाती है तो इसलिए आपको सरकारी रेट पता करके ही अपनी स्टांप ड्यूटी देनी पड़ती है।

चलिए अब देख लेते हैं कि हम जमीन का सरकारी रेट कैसे पता कर सकते हैं अगर आपको जमीन का सरकारी रेट पता करना है तो इसके लिए हमने नीचे आपको कुछ स्टेप बताए हैं उन स्टेप को फॉलो करते हुए आप बड़ी ही आसानी से जमीन का सरकारी रेट पता कर पाएंगे।

 

 

 

1. सबसे पहले ब्राउजर को ओपन करें

 

सबसे पहले आपको अपने फोन में या फिर लैपटॉप में किसी भी ब्राउज़र को ओपन कर लेना है जैसे कि मैं अभी अपने मोबाइल फोन में क्रोम ब्राउजर को ओपन कर लेता हूं और क्रोम ब्राउजर को ओपन करने के बाद चलिए पढ़ते हैं अगले स्टेप की तरफ।

 

2. जमीन की सरकारी रेट की ऑफिशियल वेबसाइट को ओपन करें

 

जब आप क्रोम ब्राउज़र को ओपन कर ले तो ओपन करने के बाद आपको सर्च बार में IGRSUP लिख कर सर्च कर लेना है, इसके जरिए आप यूपी की जमीन का सरकारी रेट देख सकते हैं। अगर आप इस वेबसाइट के ऑफिशियल पेज पर यहीं से जाना चाहते हैं, तो ऊपर दिए हुए लिंक पर क्लिक करके आप इस वेबसाइट के ऑफिसियल पेज पर जा सकते हैं।

अगर आपको किसी और राज्य की सरकारी जमीन का रेट देखना है तो इसके लिए आपको IGRS के आगे उस स्टेट का नाम लगा देना है और जब आप इसे लगाओगे तो आपको यहां पर अपने स्टेट की ऑफिशियल वेबसाइट देखने को मिल जाएगी।

 

3. थ्री लाइन ऑप्शन पर क्लिक करें

 

जब आप इस वेबसाइट को ओपन करोगे तो आपको यहां पर ऊपर कोने में 3 लाइनें देखने को मिल जाएगी तो आपको उस पर क्लिक कर देना है जैसे ही आप उस पर क्लिक करोगे तो आपके सामने कुछ ऑप्शन अपने आप जाएंगे।

 

4. मूल्यांकन सूची वाले ऑप्शन पर क्लिक करें

 

जब आपके सामने कुछ ऑप्शन ओपन हो जाएंगे तो आपको यहां पर एक ऑप्शन देखने को मिलेगा मूल्यांकन सूची का तो आपको उस ऑप्शन पर क्लिक कर देना है, जैसे ही आप इस ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आप एक नए पेज पर रीडायरेक्ट हो जाओगे।

 

5. वेबसाइट में अपनी जानकारी भरें

 

जब आप नए पेज पर रीडायरेक्ट होगे तो आपको यहां पर कुछ ऑप्शन देखने को मिलेंगे तो आपको यहां पर सबसे पहले तो अपना जनपद डाल देना है और जनपद डालने के बाद आपको अपना उप निबंधक कार्यालय डाल देना है जैसे ही आप इसे डालोगे तो नीचे आपको एक कैप्चा कोड देखने को मिलेगा आपको उस कैप्चा कोड को वहां पर डालकर मूल्यांकन सूची देखें ऑप्शन पर क्लिक कर दें।

 

6. अब प्रति देखें ऑप्शन पर क्लिक करें

 

जब आप मूल्यांकन सूची देखें ऑप्शन पर क्लिक करेंगे तो आपको वहां पर नीचे एक टेबल दिखाई देगी और टेबल के अंदर प्रति देखें ऑप्शन पर क्लिक कर देना है, तो उस पर आप जैसे ही क्लिक करेंगे तो आपको सभी जमीन के सरकारी रेट देखने को मिल जाएंगे और उनके आगे आपको पूरी डिटेल भी देखने को मिल जाएगी।

 

जमीन का सर्किल रेट कैसे पता करें ? (How to know the circle rate of land)

 

स्टेप-1 Bhumijankari वेबसाइट में जाइये

 

सर्किल रेट पता करने के लिए राजस्व विभाग की ऑफिसियल वेबसाइट में जाना है। इसके लिए गूगल सर्च बॉक्स में bhumijankari.bihar.gov.in टाइप करके सर्च कीजिये। यहाँ हमने इसका डायरेक्ट लिंक भी दे रहे है। इसके द्वारा आप सीधे वेब पोर्टल में जा सकेंगे

 

स्टेप-2 View MVR विकल्प को चुनें

 

जैसे ही भूमि जानकारी की ऑफिसियल वेबसाइट खुल जाए, स्क्रीन पर अलग – अलग विकल्प दिखाई देंगे। सर्किल रेट पता करने के लिए यहाँ View MVR विकल्प को सेलेक्ट करना है।

 

स्टेप-3 डिटेल्स सेलेक्ट करें

 

अब आपको सबसे पहले रजिस्ट्रेशन ऑफिस सेलेक्ट करना है। इसके बाद अपने सर्किल का नाम चुनें। फिर थाना कोड सेलेक्ट कीजिये। जैसे – स्क्रीनशॉट में हमने बताया है।

 

स्टेप-4 जमीन का सर्किल रेट पता करें

 

जैसे ही विवरण सेलेक्ट करेंगे, आपके द्वारा सेलेक्ट किये गए सर्किल का सर्किल रेट खुल जायेगा। यहाँ आप व्यावसायिक, आवासीय, डेवलपिंग एरिया और धनहर जमीन का सर्किल रेट पता कर सकते हो।

 

जमीन का सरकारी रेट कैसे तैयार किया जाता है? (How is the government rate of land prepared)

 

जैसा आप सभी जानते है कि देश के हर एक छोटे से गाव कि जमीन से लेकर बड़े से बड़े शहर कि जमीन का एक सरकारी रेट/कीमत होती है इसी रेट के आधार पर आपके मन में एक सवाल जरूरत आता है. कि अगर जमीन का सरकारी रेट होता है तो कोन जमीन का रेट तय करता है? तो दोस्तों आपको बता दे, जमीन का सरकारी रेट देश का राजस्व विभाग बनाता है.

कि कोनसे क्षेत्र कि जमीन का सरकारी रेट कितना होगा. इसके अलावा दोस्तों आपको बता दे, जमीन का रेट शहर और ग्रामीण क्षेत्र के साथ साथ अलग अलग राज्यों में अलग अलग होता है. जमीन का सरकारी रेट जमीन कि लोकेशन और जगह पर निर्भर करता है. इसके बाद जमीन का रेट कितना (Jamin Ka Rate Kaise Pata Kare) रहेगा राजस्व विभाग द्वारा एक सूचि तैयार करके वेब पोर्टल पर अपलोड कि जाती है जिससे आप मोबाइल फोन से देख सकते है.

 

FAQs – जमीन का सरकारी रेट पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल जवाब :-

 

जमीन की सरकारी रेट क्या होती है?

 

भारत में जितनी भी जमीन है उनमे से अधिकतर पर सरकार का कब्जा है और यह जमीन आपको देश के लगभग सभी जगहों में मिल जाएगी देश में मौजूद सभी जमीन की रेट सरकार के पास होती है जिसे सरकारी रेट कहते हैं।

 

जमीन की सरकारी रेट पता करना क्यों जरुरी है?

 

जब भी आप कोई जमीन खरीदते हैं तो आपको उसका सरकारी रेट पहले से ही चेक कर लेना चाहिए क्योंकि इस सरकारी रेट के आधार पर आपकी जमीन पर रजिस्ट्री शुल्क लगता है अगर आपको यह पहले से ही पता होगा तो आप अपना सौदा अच्छे से कर पाएंगे।

 

क्या आप सरकारी जमीन खरीद सकते हैं?

 

जी हाँ आज तक आप किसी व्यक्ति से जमीन खरीदते आ रहे हैं लेकिन आप चाहे तो सरकार से भी जमीन खरीद सकते हैं हालाकि यह इतना आसान नहीं है क्योंकि यह सरकारी काम है और इसमें काफी प्रॉब्लम आती है लेकिन आप सरकार से भी जमीन खरीद सकते हैं।

 

सरकारी जमीन की रजिस्ट्री कैसे होती है?

 

सरकारी जमीन की रजिस्ट्री एक जटिल प्रक्रिया है लेकिन अगर आपका सरकारी जमीन पर कब्जा काफी सालों से है तो आप पट्टे के लिए आवेदन कर सकते हैं हालाकि इसके लिए आपको अपने कब्जे का सबूत दिखाना होगा।

 

सरकारी जमीन पर कब्जा करने पर कितनी सजा का प्रावधान है?

 

अगर किसी व्यक्ति ने गैर कानूनी तरीके से सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा है तो उसकी शिकायत मिलने पर व्यक्ति पर धारा 91 के तहत मामला दर्ज किया जाता है इसमें व्यक्ति को लगान का 50 गुना जुर्माना और 3 महीने की कारावास की सजा दी जा सकती है।

 

 

 

 

 

Conclusion

 

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख दोस्तों 2023 में जमीन का सरकारी रेट कैसे पता करें? पूरी जानकारी  जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.
यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!