प्याज़ के चमत्कारी लाभ की पूरी जानकारी हिंदी में

दोस्तों प्याज़ के चमत्कारी लाभ की पूरी जानकारी हिंदी में :- प्याज (Onion) का उपयोग लगभग सभी घरों में होता है, क्योंकि प्याज के उपयोग से कई स्वादिष्ट व्यंजन बनते हैं। साथ ही प्याज का सेवन स्वास्थ्य के लिए भी काफी फायदेमंद माना जाता है। क्योंकि प्याज औषधीय गुणों से भरपूर होता है। लेकिन क्या आप जानते हैं प्याज का सेवन जितना लाभदायक साबित होता है, उतना ही प्याज के रस (Onion Juice) का सेवन भी स्वास्थ्य को लाभ पहुंचाता है। प्याज के रस का सेवन करने से कई बीमारियां दूर होती है।

क्योंकि प्याज में विटामिन ए, सी, ई, पोटेशियम, सोडियम, कैल्शियम, मैग्नीशियम, फास्फोरस, फोलेट, फाइबर प्रोटीन जैसे कई पोषक तत्व मौजूद होते हैं। साथ ही प्याज में एंटीइंफ्लेमेट्री, एंटीसेप्टिक, एंटीमाइक्रोबियल, एंटीबैक्टीरियल गुण भी पाए जाते हैं, जो स्वास्थ्य के लिहाज से काफी लाभदायक साबित होते हैं। लेकिन प्याज के रस के कई फायदे होते हैं, तो कुछ नुकसान भी होते हैं। आइए जानते हैं प्याज के रस के क्या-क्या फायदे और नुकसान होते हैं।

 

प्याज़ के चमत्कारी लाभ की पूरी जानकारी हिंदी में
TEJWIKI.IN

 

Contents

खाली पेट प्याज का रस पीने से लाभ (Benefits of drinking onion juice on empty stomach)

 

1. इम्यूनिटी मजबूत होती है (Immunity gets stronger)

 

कमजोर इम्यूनिटी के चलते लोग सर्दी-जुकाम, खांसी, बुखार और वायरल संक्रमण की चपेट में बहुत जल्दी आ जाते हैं। प्याज़ के चमत्कारी लाभ प्याज के रस में एंटीऑक्सीडेंट्स और विटामिन सी प्रचुर मात्रा में मौजूद होते हैं, जिससे यह आपकी इम्यूनिटी को मजबूत बनाने में सहायक है और आपको संक्रमण से बचाता है।

 

 

2. वजन प्रबंधन में मददगार है (Aids in weight management)

 

प्याज का रस एक फैट फ्री ड्रिंक है। इसमें कैलोरी बहुत कम होती है। साथ ही प्याज का रस पीने से पाचन बेहतर होता है और मेटाबॉलिज्म तेज होता है। जब आपका मेटाबॉलिज्म ठीक काम करता है, प्याज़ के चमत्कारी लाभ तो दिन भर के दौरान सामान्य गतिविधियां करते समय भी कैलोरी बर्न होती रहती है। इस तरह वेट लॉस और फैट लॉस दोनों में मदद मिलती है। वजन कंट्रोल रखने की कोशिश करने वालों के लिए यह एक बेहतरीन ड्रिंक साबित हो सकती है।

 

3. पेट के लिए फायदेमंद है (Good for stomach)

 

प्याज के रस में इनुलिन यौगिक मौजूद होते हैं, जो आंत के माइक्रोबायोटा के लिए बहुत फायदेमंद होता है। यह आंत में अच्छे बैक्टीरिया को बढ़ावा देने में मददगार है। पाचन को बेहतर बनाता है और पेट में गैस, ब्लोटिंग, कब्ज आदि जैसी समस्याओं में राहत प्रदान करता है।

 

4. ब्लड प्रेशर कंट्रोल रहता है (Blood pressure control)

 

प्याज के रस में क्वेरसेटिन नामक फ्लेवोनोइड मौजूद होता है, जिसे ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करने के लिए जाना जाता है। यह हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल और एथेरोस्क्लेरोसिस के जोखिम को करने में मददगार है। साथ ही इससे हृदय संबंधी समस्याओं का जोखिम भी कम होता है।

 

5. ब्लड सर्कुलेशन में सुधार होता है (Blood circulation improves)

 

शरीर में ब्लड सर्कुलेशन का बेहतर होना बहुत जरूर है। अगर ब्लड सर्कुलेशन ठीक से नहीं होता है तो इससे हाथ-पैरों का सुन्न होना या झुनझुनी और सनसनी का अनुभव होना, सूजन, मांसपेशियों में अकड़न, थक्के जमना के साथ ही त्वचा और बालों से जुड़ी कई समस्याएं होती हैं। प्याज का रस पीने से ब्लड सर्कुलेशन को बेहतर बनाने में मदद मिलती है, जिसका लाभ आपके पूरे शरीर को मिलता है।

 

प्याज का रोचक इतिहास (Interesting History of Onion)

 

आजकल एसे तो प्याज हर देश, हर जगह के खाने की पहचान और जरूरत बन गया है और यह हर देश में पाया जाता है. लेकिन इसकी शुरुआत एवं उपयोग इजीप्ट से मानी जाती है. यहाँ प्याज को खाने के साथ साथ राजा महाराजा द्वारा देश की मुद्रा के लिए भी प्रयोग में लाया जाता था. राजा द्वारा अपने सेवक तथा कर्मचारी को उसके कार्य के लिए भेंट में प्याज दिये जाने की परंपरा थी. इसके बाद प्याज दुनिया भर में मशहूर हो गया एवं अपनी जगह बनाते हुए इसने मध्यम युग में एशिया एवं यूरोप के देशों में प्रवेश किया. फिर तो इसे इतना उपयोग एवं पसंद किया जाने लगा, कि इसका हर खाने एवं व्यंजन मे इस्तेमाल होने लगा. यूरोप में तो इसे नाश्ते के रूप में भी अच्छा विकल्प माना जाने लगा.

फिर यूरोप के बाद प्याज ने अपना सफर तय करते हुए, वेस्ट इंडिस की ओर रूख किया. इसे यहाँ लाने का श्रेय महान यात्री तथा अमेरिका की खोज करने वाले क्रिस्टोफर कोलंबस को जाता है. वेस्ट इंडिस के बाद प्याज का उत्पादन पश्चिम देशों में बढ़ने लगा. आज चाइना, भारत, यूनाइटेड स्टेट्स, रशिया, और स्पेन प्याज के बड़े उत्पादक के रूप में उभर के आए हैं. यहाँ प्याज का उत्पादन एवं उपयोग दोनों ही अधिक मात्र में होने लगा है.

 

सेहत के लिए प्याज से लाभ (Benefits of onion for health)

 

अच्छी सेहत के लिए प्याज बहुत ही ज़रूरी है। कई बीमारियों में यह रामबाण दवा के रूप में काम करता है। इसका इस्तेमाल एक बेहतरीन औषधि की तरह किया जाता है। जानिए सेहत की दृष्टि से प्याज के फायदे और प्याज का उपयोग।

 

रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाए (increase immunity)

 

पहले के ज़माने में लोग अपनी भूख मिटाने के लिए रोटी के साथ प्याज का सेवन किया करते थे। आज भी कई गांवों में किसान सब्जी- रोटी के साथ प्याज खाना ही ज्यादा पसंद करते हैं। दरअसल प्याज हमारे शरीर की रोग- प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाता है। इसका नियमित सेवन बीमारियों को हमारे आस- पास फटकने भी नहीं देता। जिन लोगों को बाहर धूप में अधिक काम करना पड़ता है, उन्हें तो प्याज ज़रूर खाना चाहिए।

 

डायबिटीज और हार्ट अटैक से करे बचाव (Prevent diabetes and heart attack)

 

प्याज में क्रोमियम पाया जाता है, जो शुगर को कंट्रोल करने के साथ ही ब्‍लड सर्कुलेशन भी ठीक रखता है। इससे हमारी मांसपेश‍ियों और शरीर को धीरे-धीरे ग्‍लूकोज मिलता रहता है। प्‍याज शरीर में ब्‍लड को जमने से रोकने का काम करता है, जिससे हार्ट अटैक का खतरा कम हो जाता है। यह प्राकृतिक रूप से हमारे खून को पतला करता है। इसके साथ ही डाइट में प्‍याज शामिल करने से शरीर का कोलेस्‍ट्रॉल लेवल भी कंट्रोल में रहता है।

 

सेक्स पावर भी बढ़ाता है प्याज (Onion also increases sex power)

 

प्याज खाने से सेक्स पावर में इजाफा होता है। रोजाना प्याज का सेवन करने वाले पुरुषों में अपार शारीरिक शक्ति होती है। शारीरिक क्षमता को बढ़ाने के लिए हमेशा से ही प्याज का इस्तेमाल होता आया है। प्याज पुरुषों के लिए सेक्स पावर बढ़ाने का सबसे अच्छा टॉनिक होता है।

 

पथरी से दिलाए निजात (Get rid of stone)

 

आजकल की लाइफस्टाइल में पथरी की शिकायत आम हो गई है। अगर आपको भी पथरी की शिकायत है, तो प्याज आपके लिए बहुत फायदेमंद साबित हो सकता है। प्याज के रस को चीनी में मिलाकर उसका शरबत बनाकर पीने से पथरी की समस्या से निजात मिलती है। प्याज़ के चमत्कारी लाभ प्याज का रस सुबह खाली पेट पीने से पथरी अपने-आप कटकर टॉयलेट के रास्ते से बाहर निकल जाती है। मगर इसका सेवन डाॅक्टर की सलाह के बाद ही करें।

 

जोड़ों के दर्द में फायदेमंद (Beneficial in joint pain)

 

पहले जहां उम्र बढ़ने के साथ जोड़ों के दर्द ही शिकायत हुआ करती थी, वहीं अब कम उम्र में ही लोग इस समस्या से दो- चार होने लगे हैं। घुटने, कंधे या शरीर के किसी भी जोड़ में दर्द हो तो प्याज के रस का इस्तेमाल करें क्योंकि प्याज के रस में दर्द निवारक क्षमता होती है। सरसों के तेल में थोड़ा प्याज का रस मिलाकर जोड़ों पर लगाने से दर्द खत्म हो जाता है और जोड़ मजबूत बनते हैं।

 

पाचन तंत्र को रखे दुरुस्त (keep the digestive system healthy)

 

प्याज शरीर के पाचन तंत्र को दुरुस्त रखता है। प्याज खाने से खाना हजम होने में मदद मिलती है। इसलिए अपने खाने में प्याज का सेवन ज़रूर करें। फिर चाहे वो सब्जी के रूप में हो या फिर सलाद के रूप में। अगर सादा प्याज खाने में पसंद नहीं आता तो आप उसके पतले लच्छे काटकर उसमें स्वादानुसार नमक, नींबू, लाल मिर्च मिलाकर भी खा सकते हैं। यकीन मानिए इससे प्याज का स्वाद दोगुना हो जाता है।

 

छोटी- छोटी परेशानियों में भी आता है काम (Works even in small problems)

 

अगर कोई कीड़ा- मकौड़ा काट ले, तो प्‍याज का रस लगाने से जलन और दर्द में राहत मिलती है। कच्‍चा प्‍याज खाने से (kache pyaj khane ke fayde) गर्मियों में लू नहीं लगती। यही नहीं, अगर आप अपने साथ प्‍याज का टुकड़ा लेकर चलेंगे तो भी लू नहीं लगेगी। नाक से खून आने पर प्‍याज के रस की दो-तीन बूंदें डालने से खून आना बंद हो जाता है। अगर कान में दर्द की शिकायत है, तो प्याज के रस की कुछ बूंदें रुई की मदद से कान में डालने से दर्द में राहत म‍िलती है।

 

 

प्याज को उपयोग करने का सही तरीका (The right way to use onions)

 

  • प्याज में कई परतें होती हैं. उसे उपयोग करते समय हम उसके छीलके की कई परत निकालते जाते हैं. लेकिन प्याज की बाहरी परतों पर अधिक फ्लेवोनोइड्स होता है. इसलिए अगर प्याज के पोशक तत्वों का ज्यादा से ज्यादा फायदा लेना है, तो इसकी कम से कम परत छीलिये. क्यूंकी छोटी पतली परत निकालने से ही बहूत फ्लेवोनोइड्स नष्ट हो जाते हैं, तो सोचिए अगर आप ज्यादा मोटी परत निकालते हैं तो आप आँखों से आँसू के साथ साथ फ्लेवोनोइड्स भी निकाल देंगे.
  • कहते हैं अनाज, सब्जी, फल आदि को ज्यादा देर तक आंच पर नहीं पकाना चाहिए. क्योंकि ज्यादा पकाने से खाद्य पदार्थ में मौजूद पोशक तत्व नष्ट होने लगते हैं. लेकिन प्याज को जब भी सूप बनाने के लिए ज्यादा देर तक उबाला जाता है तो उसमें मौजूद क्यूसेर्टिन (quercetin) नष्ट होने के बजाय पानी में स्थानांतरित हो जाता है और बहूत ही पौष्टिक सूप तैयार हो जाता है. प्याज के पौशक तत्व सूप में सही मात्रा में आए इसके लिए जरूरी है कि सूप को मध्यम आंच पर पकाया जाये.
  • वैसे तो प्याज का इस्तेमाल किसी भी रूप में भी किया जाये फायदेमंद ही होता है, परंतु फिर भी इसे सलाद के रूप में खाने में शामिल करना अधिक लाभदायी होता है. इससे अधिक क्यूसेर्टिन (quercetin) हमारे शरीर में आता है, जो सेहत के लिए स्वास्थ्यवर्धक होता है.

 

बालों में प्याज का रस लगाने से लाभ (Benefits of applying onion juice to hair)

 

बालों के लिए प्याज का रस रामबाण मन जाता है, प्याज के रस को बालों मे लगाने से कही फायदे होते है, जो आपकी बालों की हर समस्या को दूर कर सकते है जैसे…

 

1. बालों को करे शाइन (shine hair)

 

अगर आपके बाल लंबे और घने तो है लेकिन आपके बालों मे एक अच्छी शाइन नही है, तो आपको प्याज का के रस लगाना बेहद आवश्यक है जिससे आपको एक अच्छा रिजल्ट मिलने वाला है, इसके लिए आपको प्याज के रस के साथ नारियल तेल का इस्तेमाल करना पड़ेगा और थोड़े ऑलिव ऑइल के कुछ बूंदे भी डालनी होगी।

 

आपको प्याज का रस के साथ नारियल तेल और ओलिव आयल के कुछ बूंदे मिलाकर आपके बालों के जड़ो को और पूरे बालो को मालिश करनी पड़ेगी, और ये सिर्फ हफ्ते मे दो बार करने से आपके बालों में आपको फर्क दिखना शुरू होगा।

 

2. बालों को बनाये घना, लंबा और सुंदर (Make hair thick, long and beautiful)

 

बालों को घना बनाने के लिए आपके स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन अच्छा होना जरूरी है, जिससे बालों की संख्या मे बढोतरी हो और आपके बाल घने और सुंदर दिखे, इसके लिए आपको प्याज का रस फायदेमंद साबित हो सकता है, जिसमे भरपूर मात्रा में सल्फर पाया जाता है, जिससे स्कैल्प का ब्लड सर्कुलेशन अच्छे से होता है, और आपके बालों की संख्या बढ़ाने मे सहाय्यक होता है, जिससे आपके बाल घने, लंबे और सुंदर दिखते है।

 

प्याज से क्या हानि है ? (What is the harm of onion)

 

  • प्याज अधिका खाने से पैद दर्द जैसी परेशानी होने लगती है। इसलिए पेट दर्द की समस्या से जूझ रहे लोगों को प्याज का सेवन कम करना चाहिए।
  • अगर आप कच्ची प्याज खा रहे हैं तो उसे पचाने में आपको दिक्कत होगी। जिसके कारण आपको सीने में जलन और एसिडिटी की दिक्कत हो सकती है, साथ ही गैस की समस्या भी हो सकती है।
  • प्रेग्नेंट महिलाओं को कच्ची प्याज का सेवन कम करना चाहिए क्योंकि इससे उन्हें जलन और उल्टी जैसी समस्या हो सकती है।
  • अत्यधिक प्याज आपका ब्लड शुगर लेवल बढ़ा सकता है।
  • कच्ची प्याज खाने से आपके मुंह से भी बदबू आने लगती है।

प्याज में फ्लेवोनोइड्स तथा सल्फर के यौगिक का साथ प्याज को बहुत ही गुणकारी बनाता है और इसीलिए WHO (वर्ल्ड हैल्थ ओर्गनाइसेशन) एक शोध के आधार पर प्याज को नियमित रूप से हमारे खाने में शामिल करने की सलाह देता है

 

 

FAQ- प्याज़ के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल जवाब :-

 

Q : प्याज के क्या फायदे है ?

Ans : प्याज खाने से आपको गर्मी नहीं लगेगी और गर्मी में इसका सेवन आपके लिए काफी अच्छा रहेगा।

 

Q : प्याज के क्या नुकसान है ?

Ans : प्याज का ज्यादा सेवन आपको सीने में जलन, गैस आदि समस्या से परेशान कर सकता है।

 

Q : प्याज के बीज का नाम क्या है ?

Ans : प्याज के बीज का नाम एल्यूएम सेपा है।

 

Q : प्याज का भविष्य 2021 में कैसा है ?

Ans : 2021 में प्याज का भविष्य और सालो से बेहतर है।

 

Q : प्याज सूंघने के क्या फायदे है ?

Ans : प्याज सूंघने से आपको जुकाम जैसी समस्या नहीं होगी।

 

 

 

 

 

Conclusion

 

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख दोस्तों प्याज़ के चमत्कारी लाभ की पूरी जानकारी हिंदी में  जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.
यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

 

 

Leave a Comment

error: Content is protected !!