आवत होही बाबा – गोरेलाल बर्मन | CG NEW Panthi Geet Lyrics 2024

आवत होही बाबा – गोरेलाल बर्मन | CG NEW Panthi Geet Lyrics 2024

आवत होही बाबा – गोरेलाल बर्मन | CG NEW Panthi Geet Lyrics 2024
TEJWIKI.IN

 आवत होही बाबा 

 

🌹 Awat Hohi Baba Lyrics🌹
🎵Panthi Geet Lyrics🎵

गीत – आवत होही बाबा
स्वर – गरेलाल बर्मन
गीतकार –
संगीत –
प्रकार – छत्तीसगढ़ी पंथी गीत
लेबल – केके कैसेट

बोल गुरू घासीदास बाबा की जय

स्थायी
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाबा कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे

ए आवत होही बाबा कंठी माला पहिरे
आवत होही गुरू कंठी माला पहिरे
ए आवत होही बाबा कंठी माला पहिरे
आवत होही गुरू कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाबा कंठी माला पहिरे

 

अंतरा 1
सुरहिन गईया के गोबर मंगाए हो
खुटघर अंगना चारो ओर लिपाए हो
गज मोतियन के चौक पुराए हो
सोन के करसा पिढूली मढ़ाए हो
पिढूली मढ़ाए बाबा चौक पुराए हो
चोवा चंदन धर के कमंडल धर के
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे

अंतरा 2
कंचन के थारी म आरती सजाए हो
तन अउ मन करा दीयना जलाए हो
नरियर कलेवा खीर मढ़ाए हो
दसो ए दिशा म नेवता भेजाए हो
नेवता भेजाए बाबा नेवता भेजाए हो
सादा धोती पहिरे माला मोती पहिरे
आवत होही बाब. कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे

 

अंतरा 3
जोड़ा जैतखाम गुरू अंगना गढ़ाए हो
सत के निशानी सादा धजा चढ़ाए हो
अमर बानी लई के अमृत पानी लई के
तोर सुरता म जम्मो दुख बिसराए हो
हां दुख बिसराए बाबा दुख बिसराए हो
मन म शांति धर के जीव म क्रांति धर के
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आवत होही बाब कंठी माला पहिरे

आवत होही बाब हा कमण्डल धर के
आवत होही गुरू कंठी माला पहिरे
ए जनेउ पहिरे खड़ाउ पहिरे
आव.. होही बाबा कंठी माला पहिरे

लोग ढूंढ रहे हैं –

Conclusion

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको हमारी यह लेख आवत होही बाबा – गोरेलाल बर्मन | CG NEW Panthi Geet Lyrics 2024 जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

hi.wikipedia.org/wiki

आवत होही बाबा – गोरेलाल बर्मन | CG NEW Panthi Geet Lyrics 2024

Join our Telegram Group

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

Leave a Comment