तैं तो बसे हस गुरु – दानी वर्मा, शैल वर्मा | New Panthi Geet Lyrics 2024

तैं तो बसे हस गुरु – दानी वर्मा, शैल वर्मा | New Panthi Geet Lyrics 2024

 

तैं तो बसे हस गुरु – दानी वर्मा, शैल वर्मा | New Panthi Geet Lyrics 2024
TEJWIKI.IN

 

 तैं तो बसे हस गुरु 

 

🌹 Tai To Base Has Guru Kan Kan Ma Lyrics 🌹
🎵 New Panthi Geet Lyrics 2023 🎵

  • गीत – तैं तो बसे हस गुरू कण कण म
  • स्वर – दानी वर्मा, शैल वर्मा
  • गीतकार – दानी वर्मा
  • संगीत – दानी वर्मा, राजा मानिकपुरी
  • प्रकार – छत्तीसगढ़ी पंथी गीत
  • कलाकार – भूषण साहू, श्रुति पांडे
  • लेबल – आर एस आर सीजी म्यूजिक

ये तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तैं तो बसे हावस गुरू कण कण म

स्थायी
तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तोला कहां खोजौ गुरू कोन बन म
तैं तो बसे हाबस साहेब कण कण म
तैं तो बसे हाबस गुरू कण कण म

देदे दरस गुरू आसा लगाए हंव
देदे दरस बाबा आसा लगाए हंव
तर जाहूं गुरू एके छण म

तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तोला कहां खोजौ गुरू कोन बन म
तैं तो बसे हाबस साहेब कण कण म
तैं तो बसे हाबस गुरू कण कण म

अंतरा 1
दिन रात सेवा करथौ बाबा जैतखाम के
आंखी तरसत रईथे जपथौ माला तोर नाम के
पुण्य करे हंव कोन जनम के धाम तोरे पाये हंव
तोर चरण के सेवा बर जी अरजी लगाए हंव

हां दिन रात सेवा करथौ बाबा जैतखाम के
आंखी तरसत रईथे जपथौ माला तोर नाम के
पुण्य करे हंव कोन जनम के धाम तोरे पाये हंव
तोर चरण के सेवा बर जी अरजी लगाए हंव
तोर चरण के सेवा बर जी अरजी लगाए हंव

सादा तोर चंदन बाबा माथ लगाए हंव
सादा तोर चंदन गुरू माथ लगाए हंव
तर जाहूं गुरू एके छण म

तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तोला कहां खोजौ गुरू कोन बन म
तैं तो बसे हाबस साहेब कण कण म
तैं तो बसे हाबस गुरू कण कण म

अंतरा 2
सत के रस्ता म बाबा जीवन भर चलाई दे
करौ झन हिंसा झन मन म बसाई दे
हां जी कईसे रइहौ तोर बीन बाबा माया रूपी गागर म
मोला तैं उबार ले गुरू ये पापी भवसागर म
मोला तैं उबार ले गुरू ये पापी भवसागर म

जोड़ा जैतखाम गुरू तोर निशानी हे
जोड़ा जैतखाम बाबा तोर निशानी हे
तर जाहूं गुरू एके छण म

तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तोला कहां खोजौ गुरू कोन बन म
तैं तो बसे हाबस साहेब कण कण म
तैं तो बसे हाबस गुरू कण कण म

देदे दरस गुरू आसा लगाए हंव
देदे दरस बाबा आसा लगाए हंव
तर जाहूं गुरू एके छण म

तोला कहां खोजौ बाबा कोन बन म
तोला कहां खोजौ गुरू कोन बन म
तैं तो बसे हाबस साहेब कण कण म
तैं तो बसे हाबस गुरू कण कण म

लोग ढूंढ रहे हैं –

Conclusion

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको हमारी यह लेख तैं तो बसे हस गुरु – दानी वर्मा, शैल वर्मा | New Panthi Geet Lyrics 2023 जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

hi.wikipedia.org/wiki

तैं तो बसे हस गुरु – दानी वर्मा, शैल वर्मा | New Panthi Geet Lyrics 2023

Join our Telegram Group

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

Leave a Comment