DeepFake Video क्या होती है? वीडियो में चेहरा बदलने वाला एप्स

दोस्तों क्या आप भी ये जानने के लिए उत्सुक है की आख़िर DeepFake Video Kaise Banaye? आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की DeepFake video एक ऐसी technology है जिसमें artificial intelligence (AI) का इस्तमाल कर के किसी भी video में किसी का face या voice बदला जा सकता है। इस प्रकार के DeepFake video बनाने के लिए दो चीजें चाहिए होती है, एक है source video जिसमें किसी का face या voice change करना है, और एक चीज़ है target video जिसका face या voice source video में डालना है।

DeepFake video बनाने के लिए internet पर कई तरह के software और apps उपलब्ध हैं। कुछ software और apps free हैं और कुछ paid भी हैं। कुछ software और apps का इस्तमाल करना काफ़ी आसान है वहीं कुछ थोड़े advanced भी हैं। जहां कुछ software और apps online work करते हैं, वहीं कुछ offline काम करते हैं। आपको अपने हिसाब से इन software का चुनाव कर सकते हैं। तो आज के इस पोस्ट में हम DeepFake Video कैसे बनाए इस विषय में पूरी जानकारी प्राप्त करेंगे।

DeepFake Video क्या होती है? वीडियो में चेहरा बदलने वाला एप्स
TEJWIKI.IN

 

DeepFake Video क्या होती है?

 

Deepfake Video ऐसे Video होते हैं जिन्हें बनाने के लिए AI (Artificial Intelligence) का इस्तमाल होता है। DeepFake Video में ऐसे Video और Audio generate किया जाता है जो की असल में महजूद नहीं होते हैं।

ये शब्द “deepfake” आती है इसके पीछे की technology से — जो की है deep learning algorithms —  यानी की ये अपने आप को भी चीजें सिखाती है जिससे ये काफ़ी बड़े बड़े problems को solve कर पाए वो भी large sets of data की मदद से। वहीं इसकी मदद से किसी रियल लोगों की fake content बनया जा सकता है। DeepFake video बनाने के लिए AI को source और target video को analyze करना पड़ता है और फिर उसके base पर एक नया video generate करता है।

एक deepfake video को बनाने के लिए ऐसे Algorithm का इस्तमाल होता है जिसे की कई सारे महजुदा images से train किया जाता है। आगे की जानकारी आपको आगे पढ़ने को मिलेगी।

 

DeepFake Video कैसे बनाये?

 

Deepfake Video बनाने के दौरान, AI software को feed किया जाता है original portrait से वो भी एक encoder के माध्यम से जो की उस photo को एक latent face में बदल देता है, उसके बाद इसे decoder फिर से एक deepfake face में तब्दील कर देता है।

यदि इसकी तकनीक में देखें तब Artificial intelligence (AI) generate करता है deepfake content वो भी दो competing algorithms के इस्तमाल से। एक है generator, और दूसरी है एक discriminator। जहां generator create करता है deepfake और साथ में discriminator को ये task प्रदान करता है जिससे की वो ये निर्धारित कर पाए की उसका content real है या artificial।

इतनी जानकारी के लिए साथ चलिए आगे बढ़ते हैं और जानते हैं की कैसे एक Deepfake Video को बनाया जाता है step by step।

 

Step 1: पहले उपयुक्त DeepFake Software का चुनाव करें अपने कार्य के लिए

 

वैसे तो बहुत से AI deepfake software महजूद हैं, जैसे की Deepswap, FaceSwap, Deepfakes Web, Reface Jiggy, the DeepFace Lab, इत्यादि। आपको इनमें से किसी एक deepfake app को download कर लेना चाहिए अपने कम्प्यूटर पर।

दोनों ही AI environments के भीतर ही, software आपको आगे पूछता है आपके image या Video को upload कर लेने के लिए। वहीं कुछ softwares में आप कोई video को बेटर deepfake video backdrop में add कर सकते हैं

 

Step 2: आप जिस चेहरे (face) का उपयोग करना चाहते हैं उसका उचित आकार का चित्र लें

 

आपके video के शुरूवात में ही आपको उस व्यक्ति का चेहरा चाहिए जिसका आप deepfake विडीओ बनाना चाहते हो। ये कोई भी फ़ोटो हो सकती है ज़रूरी नहीं की केवल एक professional photo ही हो।

 

Step 3: Encoder-Decoder Pairs को समझें

 

आपको ये ज़रूर से समझना होगा की आख़िर में एक deepfake photo या video बनाने के पीछे की technology क्या है। एक autoencoder पहले सीखता है कैसे आप एक face को deconstruct और reconstruct करता है वो भी एक encoder और एक decoder के इस्तमाल से।

इसके बाद encoder इन दोनों ही portraits को लेता है और फिर उन्हें transform कर देता है “latent face” में और फिर ये सीखता है की कैसे ये faces बने हुए हैं। फिर decoder reconstruct करता है इन faces को उन्हें assimilate कर सभी information के साथ जिनकी इसे ज़रूरत है इस प्रक्रिया को repeat करने के लिए।

इसके परिणाम स्वरूप, आप चाहें तो अपने किसी एक face के picture को encoder-decoder pair में भेज सकते हैं और उसे transform कर सकते हैं एक celebrity के face में क्यूँकि अब उन pairs को ये समझ आ चुका है की कैसे आपके potraits को deconstruct और reconstruct कर सकते हैं।

 

Step 4: एक Voice Cloner का इस्तमाल करें Voiceovers के लिए

 

आप भले ही अपने original sound voice का इस्तमाल न करना चाहें। Voice cloning software के मदद से आप किसी भी topic पर अपने हिसाब से videos बना सकते हैं। इसमें वो software को भी एक voice sample की ज़रूरत हो सकती है जिससे की वो आपके आगे से सभी video voiceovers बना सके।

Deepfake software add कर देता है आपके द्वारा बनायी गयी audio को आपके deepfake video में। उदाहरण के लिए आप Murf.ai, Beyondwords, और Respeecher इत्यादि voice cloning software का इस्तमाल कर सकते हैं।

 

Step 5: DeepFake Video बन चुका है Upload होने के लिए

 

जैसे ही आप अपने original content को upload करते हैं और साथ में कुछ specifics भी प्रदान करते हैं fake video की तब ये deepfake software आपको एक DeepFake video बनाकर प्रदान कर देते हैं। आपके विडीओ की जिस प्रकार से complexity और length होगी, उस हिसाब से उसे बनने में इतना समय भी लग जाएगा। एक बार इसे बन जाने के बाद आप उसे किसी भी प्लाट्फ़ोर्म पर upload कर सकते हैं।

 

डीपफेक वीडियो में चेहरा बदलने वाला एप्स

 

यहाँ पर हम आपको कुछ लोकप्रिय सॉफ्टवेयर और ऐप्स के बारे में बताएंगे जो आपको DeepFake video बनाने में मदद कर सकते हैं।

1# FaceSwap

FaceSwap एक open source software है जो आपको DeepFake video बनाने में मदद करता है। FaceSwap का उपयोग करके आप किसी भी वीडियो में किसी का भी face swap कर सकते हैं।

2# Reface

Reface एक मोबाइल ऐप है जो आपको DeepFake video बनाने में मदद करता है। Reface का उपयोग करके आप अपने smartphone से ही किसी भी वीडियो में अपना या किसी का भी face डाल सकते हैं। Reface में आपको कई तरह के templates मिलते हैं जिनमें आप अपना या किसी का भी face इस्तमाल कर सकते हैं।

3# DeepFaceLab

DeepFaceLab एक उन्नत सॉफ्टवेयर है जो आपको DeepFake वीडियो बनाने में मदद करता है। DeepFaceLab का उपयोग करके आप high quality वाले DeepFake वीडियो बना सकते हैं। DeepFaceLab को आप अपने कंप्यूटर पर इंस्टॉल कर सकते हैं और फिर हमें source और target वीडियो को इम्पोर्ट करके DeepFake वीडियो बना सकते हैं।

 

Software/App Platform Price Ease of Use Quality
FaceSwap Computer Free Easy Medium
Reface Mobile Free/Paid Easy Medium
DeepFaceLab Computer Free Advanced High

 

DeepFake Video बनाने के फ़ायेदे

 

DeepFake video बनाने की तकनीक का इस्तमाल कर आप आसानी से DeepFake Videos बना सकते हैं। अब चलिए इसके कुछ फ़ायेदे के बारे में जानते हैं।

  • हम DeepFake video का इस्तमाल entertainment के लिए कर सकते हैं। जैसे की हम अपने favorite celebrities के साथ videos बना सकते हैं या उनकी mimicry भी कर सकते हैं।
  • हम DeepFake video का इस्तमाल education के लिए भी कर सकते हैं। जैसे की हम historical figures को ज़िंदा कर सकते हैं या उनसे interact कर सकते हैं।
  • हम DeepFake video का इस्तमाल social awareness के लिए कर सकते हैं। जैसे की हम किसी social issue पर किसी influential person का message create कर सकते हैं या किसी fake news को expose भी कर सकते हैं।

 

DeepFake Video बनाने के नुक़सान

 

अब चलिए जानते हैं की आख़िर DeepFake Video बनाने के क्या क्या नुक़सान हो सकते हैं।

  • हम DeepFake video का इस्तमाल cybercrime के लिए कर सकते हैं। जैसे हम किसी का भी identity चोरी कर उन्हें blackmail कर सकते हैं।
  • हम DeepFake video का इस्तमाल misinformation के लिए कर सकते हैं। जैसे की हम किसी political leader का fake statement create कर सकते हैं या किसी event को manipulate भी कर सकते हैं।
  • हम DeepFake video का इस्तमाल privacy violation के लिए कर सकते हैं। जैसे की हम किसी का personal video create कर सकते हैं या उनको शर्मिंदा भी कर सकते हैं।

 

DeepFake Video कैसे पहचानें?

 

DeepFake video banane ki technology jitni advanced hoti ja rahi hai utna hi mushkil hota ja raha hai unhe pehchanana. Lekin hum kuch tips aur tricks ka use karke DeepFake video ko pehchan sakte hai. Kuch tips aur tricks is tarah se hain:

#1: हम DeepFake video में face के movements और expressions को observe कर सकते हैं। अगर face के movements और expressions unnatural या mismatched लगते हैं तो वो DeepFake video हो सकता है।

#2: चहरे के details को check कर सकते हैं। अगर आखें और मुख के details blurry या distorted लगते हैं तो वो DeepFake video हो सकता है।

#3: Audio और video के sync को देख सकते हैं। अगर audio और video के sync में problem लगती है तो वो DeepFake video हो सकता है।

#4: Background और lighting को analyze कर सकते हैं। अगर background और lighting में inconsistency या किसी प्रकार की कोई दिक़्क़त लगी तो वो DeepFake video हो सकता है।

#5: Source और context को verify कर सकते हैं। अगर source और context में doubt लगता है तो वो DeepFake video हो सकता है।

 

DeepFake Video से कैसे बचें

 

अब चलिए कुछ ऐसी विधियों के बारे में जानते हैं जिससे की आप खुद्को और दूसरों को DeepFake Video से बचा सकते हैं।

#1: कोशिश करें की कम ही अपनी फोटो और वीडियो को सोशल मीडिया प्लेटफार्म पर शेयर करें। यदि आप उन्हें अपलोड कर भी रहें तब भी कोई भी क्लोज-अप फोटो इंटरनेट पर अपलोड ना करें।

#2: कोशिश करें की ज़्यादा group फ़ोटो अपलोड करें, individual फ़ोटो के स्थान पर।

#3: आपको अपनी फोटो एैसे कैमरे से खींचनी चाहिए जो आपकी खींची हुई ईमेज को एनक्रिपिट कर दें जिससे इन ईमेज को बदला ना जा सके

 

इन्हे भी जरूर पढ़े 

 

Conclusion

 

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख DeepFake Video क्या होती है? वीडियो में चेहरा बदलने वाला एप्स जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.
यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.

Leave a Comment

error: Content is protected !!