GPU क्या है? GPU और CPU में अंतर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

 

दोस्तों आज इस लेख में जानेंगे GPU क्या है? What is GPU in Hindi, आज के समय में मुश्किल से ही ऐसा कोई घर होगा जहा Computer और Smart Phone का इस्तेमाल ना किया जाता हो। जैसे जैसे Technology विकसित हो रही है साथ साथ उसको इस्तेमाल करने वाले लोगो की संख्या भी बढ़ती जा रही है। अगर पुराने समय की बात की जाए तो कंप्यूटर और फ़ोन के बारे में ज्यादा लोग नहीं जानते थे पर अब ऐसा बिलकुल भी नहीं है।

आज ज्यादातर लोग इन चीजों के बारे में जानते है और जो नहीं जानते वो इनके बारे में सीख रहे है, जैसे की आप जो हमारे इस लेख को इस समय पढ़ रहे है। आप भी तो यह यही जानने आये है की GPU क्या होता है और GPU की Full Form क्या है। क्या आप जानते है की हमारी दुनिया की जनसँख्या जो की 7.9 अरब है उसमे से 4.33 अरब लोग Internet को Phone और Computer की सहायता से इस्तेमाल करते है। तो अब चलिए जानते है की GPU क्या होता है।

 

 

GPU क्या है? GPU और CPU में अंतर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में
TEJWIKI.IN

 

GPU क्या होता है? (What is GPU in Hindi)



GPU का full form है “Graphics Processing Unit”. Computer Graphics असल में Computer द्वारा बनाये गए pictures और movies को कहा जाता है. हमारे Computer और Mobile के screen में जो कुछ भी images या visual हम देखते हैं उसे graphics केहते हैं. GPU एक co-processor है जो graphical calculation करता है जो काम पहले CPU किया करता था, market में graphics से भरपूर applications आने की वजह से Computer और mobile में तेज processing करने के लिए CPU पर काफी बोझ पड़ने लगा था इसलिए इसी बोझ को कम करने के लिए GPU का निर्माण किया गया.

 

GPU की फुल फॉर्म क्या है (Full form of GPU in Hindi)

 

GPU की फुल फॉर्म “Graphic Processing Unit” होती है। इसको हिंदी में इस प्रकार लिखा जाता है “ग्राफ़िक प्रोसेसिंग यूनिट”।

 

 

 

GPU का संक्षिप्त इतिहास (Brief History of GPUs)

 

सन् 1999 में, NVIDIA ने ग्राफिक्स प्रोसेसिंग यूनिट के लिए एक संक्षिप्त शब्द के रूप में “GPU” शब्द को प्रचलित बनाया, हालाँकि इस शब्द का उपयोग GeForce 256 के आने से कम से कम एक दशक पहले किया गया था। मतलब की, GPU का आविष्कार वास्तव में NVIDIA द्वारा अपना स्वामित्व लॉन्च करने से वर्षों पहले किया गया था।आईबीएम ने 1981 में मोनोक्रोम डिस्प्ले एडेप्टर (MDA) बनाया और पेश किया। एमडीए कार्ड में 80 x 25 वर्णों पर उच्च-रिज़ॉल्यूशन टेक्स्ट और सिंबल डिस्प्ले की अनुमति देने के लिए एक मोनोक्रोम टेक्स्ट मोड था, जो ड्रॉइंग फॉर्म के लिए उपयोगी था।

 

GPU के प्रकार (TYPE of GPU)

 

GPU आम तौर पर दो प्रकार के होते है: एकीकृत (integrated GPU) और असतत (discrete GPU)। एक एकीकृत GPU अपने अलग कार्ड पर होने के बजाय सीपीयू के साथ में ही एम्बेडेड होता है। असतत जीपीयू एक अलग चिप है जो अपने स्वयं के सर्किट बोर्ड पर लगा होता है और आमतौर पर पीसीआई एक्सप्रेस स्लॉट (PCI Express Slot) से जुड़ा होता है।

इंटेग्रेटेड GPU: इंटेग्रेटेड ग्राफ़िक्स प्रॉसेसिंग यूनिट सबसे ज़्यादा उपकरणो में पाएँ जाने वाले GPU है । बाजार में अधिकांश GPU वास्तव में इंटेग्रेटेड GPU हैं। तो, इंटेग्रेटेड GPU क्या हैं और यह आपके कंप्यूटर में कैसे काम करता है? एक CPU जो अपने मदरबोर्ड पर पूरी तरह से एकीकृत GPU के साथ आता है, पतले और हल्के सिस्टम, कम बिजली की खपत और कम सिस्टम लागत की अनुमति देता है।

Intel® ग्राफ़िक्स टेक्नॉलजी, जिसमें Intel® Iris® Plus और Intel® Iris® Xe शामिल हैं, इंटेग्रेटेड GPU के मामले में सबसे आगे है। Intel® ग्राफ़िक्स के साथ, उपयोगकर्ता ऐसे सिस्टम में बेहतरीन ग्राफ़िक्स का अनुभव कर सकते हैं जो कूलर चलाते हैं और लंबी बैटरी लाइफ प्रदान करते हैं।

डिस्क्रीट GPU: कई कंप्यूटिंग एप्लिकेशन इंटेग्रेटेड GPU के साथ अच्छी तरह से चल सकते हैं। हालांकि, व्यापक प्रदर्शन मांगों के साथ अधिक संसाधन-गहन अनुप्रयोगों के लिए, एक डिस्क्रीट GPU (कभी-कभी एक समर्पित ग्राफिक्स कार्ड कहा जाता है) बेहतर विकल्प होता है। ये GPU अतिरिक्त ऊर्जा खपत और गर्मी निर्माण करता है जिससे कीमत पर असर पड़ता है। डिस्क्रीट GPU को आमतौर पर अधिकतम प्रदर्शन के लिए समर्पित यानी डेडिकेटेड (डेडिकेटेड) कूलिंग की आवश्यकता होती है।

 

GPU का क्या काम है? (What is the function of GPU)

 

Graphics processing unit का काम images की rendering करना है जिसका मतलब है की GPU Computer के screen पर CPU के मुकाबले images को काफी तेजी से प्रस्तुति करता है क्यूंकि इसमें parallel processing की technique का इस्तेमाल किया गया है, जिसके कारण GPU बहुत सारा graphical calculations एक ही समय में तेजी से कर पाता है जिससे image और video की quality बढ़ जाती है. ठीक उसी तरह अगर हम mobile phone की बात करें तो जो भी applications या program mobile में चलता है वो processor manage करता है और Display पर जो कुछ भी दिखाई देता है जैसे की animations, videos, images और games इन सबको GPU संभालता है.

 

GPU की विशेषताएं क्या हैं? (What are the features of GPU)

 

GPU सुविधाओं में शामिल हैं

  • 2-डी या 3-डी ग्राफिक्स
  • फ्लैट पैनल डिस्प्ले मॉनिटर के लिए डिजिटल आउटपुट
  • टेक्सचर मैपिंग
  • ऑटोकैड जैसे हाई-डेनसिटी वाले ग्राफिक्स सॉफ़्टवेयर के लिए एप्लिकेशन सपोर्ट
  • पॉलिगॉन रेंडरिंग
  • YUV कलर स्‍पेस के लिए सपोर्ट
  • हार्डवेयर ओवरले
  • MPEG डिकोडिंग

इन फीचर्स को सीपीयू के काम को कम करने और तेजी से वीडियो और ग्राफिक्स बनाने के लिए डिज़ाइन किया गया है।

एक GPU का उपयोग केवल एक वीडियो कार्ड या मदरबोर्ड पर पीसी में नहीं किया जाता है; इसका उपयोग मोबाइल फोन, डिस्‍प्‍ले एडेप्टर, वर्कस्टेशन और गेम कंसोल में भी किया जाता है।

 

GPU का उपयोग किस लिए किया जाता है? (What is the GPU used for)

 

GPU in Hindi – GPU का उपयोग आमतौर पर हाइ क्‍वालिटी गेमिंग एक्सपेरिएंसेस को चलाने के लिए किया जाता है, जो असली लगने वाले डिजिटल ग्राफिक्स का उत्पादन करता है। हालांकि, कई बिज़नेस एप्‍लीकेशन भी हैं जो पॉवरफुल ग्राफिक्स चिप्स पर निर्भर हैं।

3D मॉडलिंग सॉफ्टवेयर जैसे ऑटोकैड, उदाहरण के लिए, रेंडर करने के लिए GPU का उपयोग करता है। क्योंकि इस तरह के सॉफ़्टवेयर के साथ काम करने वाले लोग कम समय में कई छोटे बदलाव करते हैं, वे जिस पीसी के साथ काम कर रहे हैं वह मॉडल को जल्दी से फिर से प्रस्तुत करने में सक्षम होने की आवश्यकता होती है।

वीडियो एडिटिंग एक अन्य सामान्य उपयोग है; जबकि कुछ पॉवरफुल सीपीयू बेसिक वीडियो एडिटिंग को हैंडल कर सकते हैं, लेकिन यदि आप बड़ी मात्रा में हाइ-रिज़ॉल्यूशन फ़ाइलों के साथ काम कर रहे हैं – विशेष रूप से 4K या 360-डिग्री वीडियो – तो आपको एक हाइ-लेवल GPU आवश्यक होगा, ताकि फाइलों को उचित गति पर ट्रांसकोड किया जा सके।

GPU अक्सर मशीन सीखने में उपयोग के लिए सीपीयू के पक्ष में होते हैं, क्योंकि वे सीपीयू की तुलना में दिए गए समय में अधिक कार्यों को प्रोसेस कर सकते हैं। यह तंत्रिका नेटवर्क बनाने के लिए उन्हें बेहतर-अनुकूल बनाता है, डेटा की मात्रा के कारण उन्हें निपटने की आवश्यकता होती है। सभी GPU समान नहीं बनाए गए हैं, हालांकि – AMD और Nvidia जैसे निर्माता आमतौर पर अपने चिप्स के विशेष एंटरप्राइज वर्शन का उत्पादन करते हैं, जो विशेष रूप से इस प्रकार के एप्‍लीकेशन को ध्यान में रखते हुए तैयार किए गए हैं और अधिक गहराई से सपोर्ट प्रदान करते हैं।

 

GPU और CPU में क्या अंतर है? (What is the difference between GPU and CPU)

 

Graphics Processing Unit और Central Processing Unit दोनों ही एक processor हैं जो Computer में कुछ ना कुछ program को process करने के काम आते हैं. अगर हम बात करते हैं Mobile और Computer की तो दोनों में ही CPU का processor लगा हुआ होता है. वो एक General purposed processor होता है जो सभी तरह का काम कर लेता है जैसे आप उसमे कुछ mathematical calculation कर लीजिये, या तो Word और Excel का काम कर लीजिये या फिर movies और गाने सुन लीजिये या internet पर कुछ browse कर लीजिये जो चाहे वो आप कर लीजिये वो processor सारा काम कर लेता है. लेकिन जो GPU है वो एक specific purposed processor है जो सिर्फ आपके Computer और Mobile की graphics को ही संभालता है. Mobile और computer पर दिखने वाले सारे visuals GPU ही संभालता है, इस कार्य में CPU का काम बहुत कम रहता है.

 

 

GPU दो तरीके से इस्तेमाल किये जाते हैं एक तो integrated होता है यानि की वो आपके processor का एक हिस्सा रहता है जो graphics को handle करता है जैसे की मान लीजिये के आपके Computer में intel का processor लगा हुआ है तो वहां पर आपको intel के HD graphics देखने को मिलते हैं. इसी प्रकार से किसी smartphone में qualcomm processor का इस्तेमाल हुआ है तो वहां पर Adreno GPU मिलता है या फिर MediaTek का processor लगा हुआ है तो वहां Mali GPU मिलता है. तो यहाँ पर जो GPU हैं वो integrated हैं processor में और उसी का एक section है जो graphics को handle करता है.

दूसरा GPU के इस्तेमाल करने का तरीका dedicated होता है जो सिर्फ laptop और Computers के लिए होते हैं क्यूंकि इसे अलग से लगाया जाता है. आपने अक्सर ये चीज देखा होगा की जो लोग नए laptop या computer खरीदने के लिए दुकान पर जाते हैं तो graphics card के बारे में पूछते हैं और अगर laptop में integrated graphics card नहीं रहता है तो वो अलग से card खरीदकर अपने computer में लगा लेते हैं जैसे AMD, intel और ARM. GPU की ज्यादा जरुरत Gaming purpose के लिए होती है क्यूंकि gaming में high graphics या 3D animation का प्रयोग किया गया रहता है. जिन लोगो को games खेलने का ज्यादा शौक रहता है वो लोग अपने laptop या Computer पर dedicated GPU का इस्तेमाल करते हैं. तो gaming की performance GPU की वजह से अच्छी हो जाती है, जब की CPU ऐसा बिलकुल भी नहीं कर सकता है.

अगर हम बात करते हैं Video rendering की या image processing की तो CPU का architecture में serial processing होती है और GPU में parallel processing होती है और इनदोनो में ही बहुत सारे core होते हैं उदहारण के साथ कहूँ तो जैसे intel i7 core processor होता है उसमे ये core छोटे छोटे blocks जैसे होते हैं. GPU में parallel core होती है जिसके वजह से यह image processing का काम CPU के मुकाबले बहुत ज्यादा तेजी से करता है और हमे images की काफी बेहतरीन quality computer में देखने को मिलती है.

 

FAQ- GPU पर अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

 

GPU में RAM क्यों होती है?

इसका अपना होना जरूरी नहीं है लेकिन इससे मदद मिलती है। जैसा कि बताया गया है कि यह केवल स्‍पीड के लिए है। इसके अलावा ग्राफिक्स कार्ड के लिए उपयोग की जाने वाली रैम मेमोरी में स्‍टैंडर्ड कंप्यूटर रैम मेमोरी से अनुपस्थित कुछ लक्षण होते हैं जैसे कि एक ही समय में रिड एंड राइट की क्षमता।

क्या GPU RAM महत्वपूर्ण है?

VRAM, जिसका फूल फॉर्म वीडियो रैम है, एक समर्पित मेमोरी है जिसे जीपीयू ग्राफिक्स डेटा को स्टोर और एक्सेस करने के लिए उपयोग करता है। मूल रूप से, एक कार्ड में जितने अधिक VRAM होते हैं, उतने ही अधिक जटिल बनावट या 3 डी मेश लोड हो सकते हैं। आप जिस इमेज को प्रस्तुत करने का प्रयास कर रहे हैं उसका रिज़ॉल्यूशन जितना अधिक होगा, उतने ही अधिक vRAM की आवश्यकता होगी। यदि बनावट और इमेजेज को आप अपने GPU के VRAM को ओवरलोड करने का प्रयास कर रहे हैं, तो ओवरफ्लो सिस्टम रैम में चला जाता है, जो नकारात्मक तरीके से प्रदर्शन को महत्वपूर्ण रूप से प्रभावित करता है।
ठीक उसी तरह जैसे VRAM गेमिंग प्रदर्शन को सकारात्मक रूप से प्रभावित करता है, इसलिए यह वर्कस्टेशन एप्लिकेशन के साथ भी करता है। अधिक VRAM का मतलब है कि जीपीयू ग्राफिक्स चिप पर अधिक जटिल इमेजेज और बनावट को पकड़ सकता है और अंततः प्रस्तुत कर सकता है, जिसके परिणामस्वरूप तेज प्रदर्शन होता है।

क्या RAM FPS को प्रभावित कर सकता है?

यदि आपके पास गेम चलाने के लिए अनुशंसित मात्रा में RAM नहीं है तो RAM FPS को नकारात्मक रूप से प्रभावित करता है।
जब भी आप कोई गेम शुरू करते हैं तो सबसे महत्वपूर्ण गेम फ़ाइलें आपकी हार्ड ड्राइव से रैम पर अस्थायी रूप से संग्रहीत होती हैं। यह सीपीयू को हार्ड ड्राइव से एक्सेस करने की तुलना में उन फाइलों को बहुत तेजी से एक्सेस करने में मदद करता है।
ऐसा इसलिए है क्योंकि RAM में हार्ड ड्राइव की तुलना में फ़ाइल पढ़ने और लिखने की गति बहुत अधिक होती है। दूसरे शब्दों में, रैम HDD और SSD हार्ड ड्राइव स्टोरेज दोनों की तुलना में बहुत तेज हैं।
यदि आपके पास अनुशंसित मात्रा में RAM नहीं है तो आपका CPU फ़ाइलों को RAM के बजाय हार्ड ड्राइव से एक्सेस करता है। लेकिन, हार्ड ड्राइव RAM की तुलना में धीमी होती हैं। तो, ऐसे मामले में आप तुरंत FPS में भारी गिरावट देखेंगे।

 

Conclusion

 

दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख GPU क्या है? GPU और CPU में अंतर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

GPU क्या है? GPU और CPU में अंतर क्या है पूरी जानकारी हिंदी में

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

Leave a Comment