Laser Printer क्या है? लेज़र प्रिंटर के प्रकार ओर उपयोग की जानकारी

हैलो दोस्तों TEJWIKI.IN में आपका स्वागत है आज हम आपको Laser Printer क्या है? के बारे में बताने जा रहे है अगर आप Laser Printer Kaise Kaam Karta Hai के बारे में भी जानना चाहते है तो आप बिलकुल सही पोस्ट पढ़ रहे इस पोस्ट में हम आपको इसके बारे में पूरी जानकारी देंगे हमे उम्मीद है की आपको हमारी पोस्ट ज़रूर पसंद आयेगी।Laser Printer In Hindi के बारे में आज आप इस पोस्ट के माध्यम से जानेंगे हम आपको इसके बारे में बिलकुल सरल भाषा में बतायेंगे हमे उम्मीद है की आपको हमारी पिछली पोस्ट की तरह हमारी आज की पोस्ट लेज़र Printer Information In Hindi भी जरूर पसंद आएगी।

आप सभी ने  Laser Printer के बारे में तो जरूर सुना होगा लेकिन क्या आप  Laser Printer क्या है ? ये कैसे काम करता है के बारे में जानते है यदि आप इसके बारे में नही जानते तो यह पोस्ट आपके लिए ही है इस पोस्ट में हम आपको  Laser Printer से Related पूरी जानकारी देंगे जिसके बारे में शायद आप न जानते हो।

किसी भी Page या Photo की Copy या Print को निकालने के लिए Printer का Use किया है। Market में फ़िलहाल कई तरह के Printers मौजूद है लेकिन उनमें से सबसे खास  Laser प्रिंटर ही है इन Printer की अपनी अलग-अलग ख़ासियत है। वहीं इनमें मौजूद कुछ Features इन्हें एक दूसरे से अलग बनाते है। Printers को खरीदते समय आप कई बार उलझन में पड़ जाते है की कौन सा Printer आपके लिए अच्छा है।

 

Laser Printer क्या है? लेज़र प्रिंटर के प्रकार ओर उपयोग की जानकारी
TEJWIKI.IN

 

Laser Printer (लेज़र प्रिंटर) क्या है ? (What is a Laser Printer in Hindi )

 

लेज़र प्रिंटर नॉन-इम्पैक्ट प्रिंटर हैं, ये प्रिंटर बिन्दुओं द्वारा ही मुद्रण करते हैं। परन्तु ये बिंदु बहुत छोटे व् पास-पास होने से अक्षर अति स्पष्ट छपते हैं। सामान्य लेज़र प्रिंटर 300*300 बिंदु छापता है। आधुनिक लेज़र प्रिंटर 600*600 या 1200*1200 या उससे भी अधिक रेसोलुशन (Resolution) के होते हैं।

लेजर प्रिंटर के कितने प्रकार हैं?(How many types of laser printers are there)

 

लेजर प्रिंटर 4 प्रकार के होते हैं-

 

पर्सनल लेजर प्रिंटर

ये वे प्रिंटर होते है जिन्हें आप अपने घरों में अपने इस्तेमाल के लिए यूज कर सकते है ये प्रिंटर साइज़ में बाकि प्रिंटर से छोटे होते हैं इन्हें आप एक टेबल पर रखकर अपने कंप्यूटर सिस्टम के साथ जोड़कर यूज कर सकते हैं ये समय में पेपर के एक साइड को ही प्रिंट कर सकते हैं इस प्रिंटर की ट्रे सीट में आप 40 से 80 पेज रख सकते हैं इन पेपर्स की स्पीड स्लो होती है इन से आप एक मिनट में 12 से 20 पेज प्रिंट कर सकते हैं ये प्रिंटर एक दिन मे 100 से 200 पेज तक प्रिंट कर सकता है.

 

ऑफिस लेजर प्रिंटर

ये प्रिंटर पर्सनल प्रिंटर से थोड़ा बड़े होते हैं इनका यूज ऑफिस के काम के लिए किया जाता है इस प्रिंटर को आप एक या एक से अधिक कंप्यूटर से जोड़कर यूज कर सकते हैं ये डुप्लेक्स (पेपर के दोनों साइड एक साथ में ही प्रिंट कर सकता है) होते हैं. इस प्रिंटर की ट्रे सीट में 100 से 500 तक पेज रखे जा सकते हैं इनकी स्पीड पर्सनल लेजर प्रिंटर से ज्यादा होती है. इस प्रिंटर से आप एक मिनट में 22 से 30 पेज तक प्रिंट कर सकते हैं ये प्रिंटर एक दिन मे 200 से 500 पेज तक प्रिंट कर सकता है.

 

वर्कग्रुप लेजर प्रिंटर

ये प्रिंटर भी ऑफिस के काम के लिए यूज किये जाते हैं ये ऑफिस लेजर प्रिंटर से थोड़ा बड़े होते हैं इन्हें आप जमीन पर रखकर यूज कर सकते है. ये प्रिंटर भी डुप्लेक्स (पेपर के दोनों साइड एक साथ में ही प्रिंट कर सकता है) होते हैं. इस प्रिंटर की ट्रे सीट में 1500 से 2500 तक पेज रखे जा सकते हैं इनकी स्पीड ऑफिस लेजर प्रिंटर से ज्यादा होती है. इस प्रिंटर से आप एक मिनट में 60 से 75 पेज तक प्रिंट कर सकते हैं ये प्रिंटर एक दिन मे 500 से 1500 पेज तक प्रिंट कर सकता है.

 

प्रोडक्शन लेजर प्रिंटर

इन प्रिंटर्स को वहां यूज किया जाता है जहाँ पर लगातार प्रिंटिंग की जरूरत होती है ये आकार में बहुत बड़े होते हैं. इन्हें सिर्फ आप जमीन पर रखकर यूज कर सकते हैं. ये प्रिंटर डुप्लेक्स (पेपर के दोनों साइड एक साथ में ही प्रिंट कर सकता है) होते हैं. इस प्रिंटर की ट्रे सीट में 2500 से 7500 तक पेज रखे जा सकते हैं इनकी स्पीड बाकि प्रिंटर्स की तुलना में काफी ज्यादा होती है इसीलिए इस प्रिंटर से आप एक मिनट में 60 से 135 पेज तक प्रिंट कर सकते हैं ये प्रिंटर एक दिन मे 70000 तक पेज प्रिंट कर सकता है.

 

लेज़र प्रिंटर के कार्य (Laser Printer Functions)

 

Laser Printer के कार्य करने की विधि मूल रूप से दस्तावेजों की प्रतियां बनाने वाली (Exrox Photo Copiers) मशीनों की तरह ही होती हैं। अंतर केवल सिलिकॉन के बेलन पर विद्दुत-चार्ज के रूप में अक्षर बनाने का है। फोटो कॉपी की मशीन में तेज रौशनी का प्रयोग होता और लेज़र प्रिंटर में लेज़र किरणों का लेज़र की सहायता से मॉड्युलेटर से होता हुआ बहु-दर्पणी ड्रम पर फेंका जाता है।

 

प्रकाश पुंज के कारण छपने वाले चिन्ह या आकार के गुप्त प्रतिबिम्ब की प्रकाश चालक सतह आवेशित हो जाती है, जिसे टोनर (Toner) कहते हैं। इससे कागज की सतह पर अक्षर उभर आते हैं। लेज़र प्रिंटर की प्रिंटिंग सभी से अच्छी होती है। इस डिवाइस ने प्रिंटिंग की दुनिया में क्रांति ला दी है।

दूसरे शब्दों में – Laser Printer पृष्ठ पर आकृति (Images) को जिरोग्राफी (Xerography) तकनीक से छपता है। जेरोग्राफी (Xerography) तकनीक का विकास जिरॉक्स (Xerox) मशीन (फोटोकापियर मशीन) के लिए हुआ था। जेरोग्राफी एक फोटोग्राफी जैसी तकनीक है, जिसमे फिल्म, एक आवेशित पदार्थ का लेपन युक्त ड्रम (Drum) होता है। यह ड्रम फोटो-संवेदित (photo sensitive) होता है। इसके द्वारा कागज़ पर आउटपुट को छापा जाता है।

कंप्यूटर से प्राप्त आउटपुट, लेज़र स्रोत (laser source) से लेज़र-किरण (laser ray) के रूप में उत्सर्जित होता है। यह लेज़र किरण लेंसों द्वारा एक घूमते हुए बहुभुजाकार (Poligon Shaped) दर्पण पर फोकस की जाती है, जहां से परावर्तित होकर आउटपुट की यह लेज़र-किरण लेंसों द्वारा पुनः एक अन्य दर्पण पर फोकस होती हुई परावर्तित होकर फोटो-संवेदित ड्रम पर गिरती है। घूमने वाला बहुभुजाकार दर्पण आउटपुट की लेज़र-किरण को संपूर्ण फोटो-संवेदित ड्रम पर छपने वाली लाईनो के रूप में डालता है।

 

 

जब यह ड्रम घूमता है तो आवेशित स्थानों पर टोनर (Toner-एक विशेष स्याही का पाउडर) चिपका लेता है। इसके बाद कागज पर स्थानांतरित हो जाता है, जिससे आउटपुट कागज पर छप जाता है। यह आउटपुट अस्थाई होता है, टोनर को स्थाई रूप से कागज पर सील (Seal) करने के लिए इसे गरम रोलर से गुजरा जाता है।

अधिकतर Laser Printer में एक अतिरिक्त माइक्रो प्रोसेसर (Micro Processor), रैम (RAM) और रोम (ROM) होते हैं। रोम (ROM) में फॉण्ट (Font) और पृष्ठ को व्यवस्थित करने के प्रोग्राम संगृहीत (stored) रहते हैं। लेज़र प्रिंटर सर्वश्रेष्ठ छापता है।

Note: रंगीन लेज़र प्रिंटर उच्च क्वालिटी का रंगीन आउटपुट देता है। इसमें टोनर होता है, जिसमे विविध रंगों के कण उपलब्ध रहते हैं। प्लास्टिक की शीट या अन्य किसी शीट पर भी ये प्रिंटर आऊटपुट को छाप सकते हैं।

 

लेज़र प्रिंटर की कर्यप्रणाली (Laser Printer Working Process)

 

इस तरह के प्रिंटर सुखी सिहाई/Dry Ink Powder का इस्तेमाल करते है, जो कि कार्ट्रिज/Cartridge के अंदर डली हुई होती है, जो कि Magnetic होती है। ये प्रिंटर भी डॉट/Dot के द्वारा ही किसी भी पेज पर प्रिंट करता है, लेकिन इसके डॉट बहुत ही नजदीक होने के कारण ये प्रिंटर एक बहुत ही उच्च गुणवत्ता वाला प्रिंट देता है। इस तरह के प्रिंटर 300 से लेकर 600 DPI/Dot Per Inch तक या इससे अधिक की भी छपाई कर सकते हैं।

इसके अंदर नकारात्मक/Negative चार्ज युक्त एक ड्रम/Drum लगा होता है, जिस पर लेज़र बीम डालकर इसे छपने के लिए घुमाया जाता है। इसके बाद ये ड्रम चार्ज हुई सियाही पाउडर/टोनर से कागज पर दिया गया प्रिंट छाप देता है और एक हीटर इसे गर्म करके स्थाई कर देता है। ये प्रिंटर कागज की सीट से लेकर प्लास्टिक ओर लोहे की पतली सीट पर छापने में सक्षम होते हैं। आजकल ज्यादातर लेज़र प्रिंटर में Micro Processor, RAM ओर ROM का भी इस्तेमाल किया जाने लगा है।

 

Laser Printer पर मुद्रण के चरण निम्नानुसार हैं:(The steps for printing on a laser printer are as follows)

 

सफाई: सफाई की प्रक्रिया पहले से सहेजी गई छवि जानकारी और टोनर को ड्रम से निकाल देगी।

कंडीशनिंग: कोरोना तार एक समान लागू होगा, और ड्रम के लिए एक सकारात्मक चार्ज और सकारात्मक रूप से चार्ज किया गया टोनर ड्रम के क्षेत्र से चिपकेगा जो लेजर द्वारा नकारात्मक रूप से चार्ज किया जाता है।

लेखन: जब कागज प्रिंटर से गुजरता है, तो ड्रम को एक मजबूत नकारात्मक चार्ज दिया जाता है, जो टोनर को कागज पर स्थानांतरित करने और छड़ी करने की अनुमति देता है। इस मुद्रण का परिणाम आपके सामने प्रदर्शित कागज पर लिखी गई छवि की एक स्वच्छ प्रति है।

विकास: स्याही कारतूस में टोनर में एक धनात्मक आवेश होता है जिससे यह ड्रम की ओर आकर्षित होगा जिसे लेजर द्वारा ऋणात्मक आवेश दिया जाता है।

• ट्रांसफर: ड्रम के टोनर को पॉजिटिवली चार्ज किए गए फील्ड या ट्रांसफर रोलर द्वारा पेपर में ट्रांसफर किया जाता है।

• फ्यूजिंग: कागज पर लागू गर्मी और दबाव। टोनर कागज पर पिघला देता है, और छवि मुद्रित होती है।

 

Laser Printer की विशेषता क्या-क्या है ?

 

  • Laser Printer ज्यादा स्पीड से प्रिंटआउट निकालता है।
  • Laser Printer अन्य Printer से काफी महंगा Printer होता है।
  • Laser Printer में इंक की जगह ब्लैक कलर के पॉउडर का इस्तेमाल किया जाता है
  • Laser Printer बिजली ज्यादा खाते है क्योंकि यह 200 या इससे अधिक Watt के आते है।
  • Laser Printer  मार्किट में छोटे से लेकर बड़े आकार का आता है।

 

लेजर प्रिंटर के उपयोग (Uses of laser printer)

 

Laser Printer का उपयोग कंप्यूटर सिस्टम में 1970 के दशक से हो रहा है। पहले ये मेनफ़्रेम कंप्यूटर में उपयोग किया जाते थे। 1980 के दशक में Laser Printer का मूल्य लगभग 3000 डॉलर था और यह माइक्रोसॉफ्ट कंप्यूटर के लिए उपलब्ध था।

ये प्रिंटर आजकल अधिक लोकप्रिय हैं, क्योंकि ये अपेक्षाकृत अधिक तेज और उच्च क्वालिटी में टेक्स्ट और ग्राफ़िक्स छापने में सक्षम है। डेस्कटॉप पब्लिशिंग (DTP) में इसका प्रयोग आमतौर पर किया जाता है।

इनका उपयोग छपाई की ऑफसेट मशीन की मास्टर (Master) कॉपी छापने में होता है, जिनसे आउटपुट की प्रतिलिपियाँ अधिक संख्या में छापी जाती है।

 

लेज़र प्रिंटर के लाभ (Advantages of Laser Printer)

 

  • उच्च प्रिंटिंग गति।
  • दाग-धब्बा रहित छपाई।
  • बड़ी मात्रा में छपाई के लिए उपयुक्त।
  • प्रिंट आउट जल संवेदनी (water sensitive) नहीं।
  • प्रति पृष्ठ छपाई की इंकजेट प्रिंटर के अपेक्षाकृत कम कीमत।
  • उच्च रेसोलुशन (सामान्यतः 600 से 1200 डॉट्स प्रति इंच तक) ।

 

लेजर प्रिंटर का क्या नुकसान है ?(What are the disadvantages of laser printer?)

 

  • वार्म उप टाइम आवश्यक।
  • इंकजेट प्रिंटर से बड़ा तथा भारी।
  • टोनर तथा ड्रम का बदलना महगा।
  • इंकजेट प्रिंटर से अधिक महंगा।
  • आमतौर पर विभिन्न प्रकार के रंगो में तथा उच्च क्वालिटी आकृतियों जैसे फोटो छापने में कम सक्षम।

 

 

Conclusion

 

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Laser Printer क्या है? लेज़र प्रिंटर के प्रकार ओर उपयोग की जानकारी जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Laser Printer क्या है? लेज़र प्रिंटर के प्रकार ओर उपयोग की जानकारी

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

Leave a Comment