Content Marketing क्या है? Content Marketing से लाभ

दोस्तों क्या आप जानते है, की Content Marketing क्या है? (Content Marketing in Hindi) अगर आप डिजिटल मार्केटिंग के बारे रूचि रखते है, तो आपको कंटेंट मार्केटिंग क्या है इसके बारे में भी जरूर जाना चाहिए। अगर आप Online Business करते है या फिर Marketing Field से तो जरूर ही आप कंटेंट मार्केटिंग के बारे कुछ ना कुछ जानते है, तो आज इस लेख में आपको इसके बारे में सभी महत्पूर्ण और सम्पूर्ण जानकारी मिलने वाली है।

Content Marketing एक जबरदस्त तरीका है बिज़नेस की Branding करने का। यह आपके व्यापर में Sales को भी Increase करता है। इसके अंतर्गत आपको Unique And Creative Content को तैयार करके उनके द्वारा मार्केटिंग करनी होती है।

अगर आपके द्वारा लिखे गए, या बनाये गए कंटेंट में अट्रैक्शन है, तो आप अपने Business को कंटेंट मार्केटिंग की मदद से बहुत जल्द Grow कर सकते है। लेकिन अभी भी आपके में में एक सवाल जरूर चल रहा होगा, की आखिर कंटेंट मार्केटिंग क्या होता है। तो आइये जानते है, इसके बारे में पूरी जानकारी –

 

Content Marketing क्या है? Content Marketing से लाभ
TEJWIKI.IN

 

Content Marketing क्या है? (What is Content Marketing)

 

अगर में Content Marketing के बारे में बताऊँ तो ये एक ऐसा उपाय है जिसके माध्यम से Valuable content को बनाया जाता है और उसे share भी किया जाता है जिससे की ये customers को अपनी और आकर्षित कर सके और उन्हें repeated buyer में बदल सकें।

आप जो भी content share करते हैं वो आपके उन चीज़ों से काफी समानता रखता हो जो आप बेचते हैं, या हम ये भी कह सकते हैं की आप लोगों को अच्छी जानकारी देते हैं, उन्हें शिक्षित करते हैं ताकि वो आपके विषय में जान सकें, आपको पसंद कर सकें और आपके ऊपर विस्वास कर सकें जिससे वो आपके साथ आगे business कर सकें.

 

Content Marketing के Examples क्या है? (What are examples of content marketing)

 

वैसे देखा जाये तो Content Marketing बहुत से प्रकार के हैं. इसलिए सभी को cover करना हमारे पक्ष में मुमकिन नहीं है क्यूंकि फिर भी मैंने कुछ ऐसे उदहारण के बारे में निचे लिखा है जो की आपको इन्हें समझने में मदद करेंगे. यहाँ मैंने 5 प्रमुख उदहारण के विषय में जानकारी दिया है.

1. Infographics. ये मुख्यतः लम्बे, verticla graphics होते हैं जिसमें Statistics, charts, graphs और दुसरे जानकारी को लिखा जाता है. इनमें Images के साथ उनमें सम्बंधित जानकरी भी प्रदान की जाती है. आपके marketing के लिए Infographics बहुत effective बन सकते हैं अगर उन्हें सही तरीके से बना जाये और उन्हें सही तरीके से Share किया जाये. इन Infographics को आप खुद भी बना सकते हैं या किसी दुसरे professional के द्वारा भी बना सकते हैं.

2. Webpages. Normal Webpages और एक Content Marketing Webpages में काफी अंतर है. क्यूंकि यदि आप किसी Webpages को अच्छी तरीके से लिखें और उन्हें सही तरीके से SEO optimized करें तब इससे आप बहुत से लोगों को अपनी और आकर्षित कर सकते हैं. क्यूंकि ये आसानी से Rank हो जायेगा जो की आपके Brand के लिए बहुत ही अच्छा है.

3. Podcasts. Content Marketing में Podcasts का भी काफी महत्व है. ये आपके Contents को लोगों के सामने अच्छे तरीके से प्रदर्शित करता है. जिससे ज्यादा से ज्यादा लोग आपके विषय में जान सकें. इससे आपके Brand की publicity भी हो जाती है.

4. Videos. कहते हैं की Text की तुलना में Videos बहुत ही आकर्षक होते हैं और इन्हें आसानी से share भी कर सकते हैं. Videos में customers आपके content के विषय में अच्छे तरीके से जानते हैं और उसे देखते हैं जिससे उनमें आपके content को लेकर विस्वास उत्पन्न होता है. इससे आपके Brand की value बढ़ जाती है जो की आपके Branding Value के लिए बहुत महत्वपूर्ण हैं.

5. Books या Text. Text एक बहुत ही महत्वपूर्ण तरीका है content marketing के लिए. यहाँ Marketers अच्छे content लिखकर लोगों को अपनी तरफ आकर्षित कर सकते हैं. वैसे ही आप Books का इस्तमाल एक Marketing tool के हिसाब से भी कर सकते हैं. इससे आपका Branding Value भी बढ़ता है और लोगों का आपके ऊपर विस्वास भी बढ़ जाता है.

 

क्यूँ Content Marketing जरुरी है? (Why is Content Marketing Important)

 

बात उठता है की आखिर ये Content Marketing क्यूँ जरुरी है. देखा जाये तो Content Marketing क्या है समझने से ज्यादा जरुरी है ये है की ये समझना की आखिर ये Content Marketing क्यूँ जरुरी है. इससे पहले हमें buying cycle के मुख्य चार steps को समझना ज्यादा जरुरी है :

1. Awareness. Awareness का होना बहुत ही जरुरी है क्यूंकि Customers को ये पता ही नहीं होता है की उनके problem का एक Solution भी मेह्जुद है.

2. Research. एक बार Customer को ये पता चल जाये की उनके problem का एक solution भी है तब वो अपने आपको educate करने के लिए research करेंगे. उदहारण के स्वरुप एक car buyer एक नयी car लेने से पहले अलग अलग cars के सम्बंधित में research करते हैं ताकि वो ये जान सकें की उनके लिए कोन सा सही रहेगा.

3. Consideration. अब customer अलग अलग products को different vendors से compare कर सकते हैं ताकि उन्हें ये पता चल सके की उन्हें सही price में कोन सा high quality product मिल सके.

4. Buy. और Finally, Customer अपना decision लेता है और transaction करने के लिए आगे बढ़ता है.
Traditional advertising और marketing दोनों बहुत ही कारगर सिद्ध होते हैं जब हम second दो steps की बात करें तब. Content marketing लेकिन buying process के पहले दो stages में ज्यादा कारगर सिद्ध होता है. इससे solutions के प्रति awareness और consumers को educate किया जा सकता है product के विषय में की consumers की राय को भी सुधारा जा सकता है.

Content marketing और भी additional benefits प्रदान करते हैं क्यूंकि ये दुसरे digital marketing channels को भी support करते हैं. ये Social Media के लिए additional content भी प्रबंध करता है.

 

कंटेंट मार्केटिंग के प्रकार (Types of Content Marketing)

 

Content marketing in Hindi के प्रकारों के बारे में नीचे विस्तार से बताया गया है–

ब्लॉग

जब आप कंटेंट मार्केटिंग के बारे में सोचते हैं तो ब्लॉगिंग, कंटेंट के पहले रूपों में से एक हो सकती है। ब्लॉगर और बिजनेस समान रूप से ब्लॉग कंटेंट का उपयोग लॉयल फॉलोवर्स को बनाने और उनसे कमाई करने के लिए करते रहे हैं। गूगल जैसे अत्यधिक प्रचलित और लोकप्रिय सर्च इंजन में लोग अपनी पसंद और रुचि के अनुसार कंटेंट सर्च करते हैं। ऐसे में कंटेंट की अच्छी तरह से जानकारी प्रदान करने वाला ब्लॉग टॉप पर होता है, जिससे अधिक से अधिक दर्शक उस ब्लॉग के माध्यम से आपके कंटेंट और मुख्यतः आपकी कंपनी से जुड़ते हैं। अतः ब्लॉग कंटेंट मार्केटिंग का एक महत्त्वपूर्ण प्रकार है।

 

केस स्टडी

केस स्टडी आपके द्वारा बनाई गई कंटेंट का एक अंश है जो किसी विशेष ग्राहक के साथ आपकी सफलता की रूपरेखा तैयार करती है। केस स्टडी, उद्योग में विशेष रूप से प्रभावी हैं, जहां खरीद में आमतौर पर उच्च लागत और अधिक जोखिम शामिल होता है। जब आप एक केस स्टडी लिखते हैं, तो पहले अपने ग्राहक को और अपने उत्पाद को दूसरे स्थान पर हाइलाइट करें। दूसरे शब्दों में, आपके केस स्टडी को आपके क्लाइंट के बारे में एक कहानी की तरह पढ़ना चाहिए जो आपके ब्रांड को एक सफल सहायक भूमिका के रूप में दिखाता है। अपने संतुष्ट ग्राहकों को दिखाकर, आप बिक्री की संभावनाओं को दिखाते हैं कि आप उनके लिए सकारात्मक परिणाम दे सकते हैं।

 

ई बुक्स

ई-बुक्स, आपके ब्रांड को आपके उद्योग में एक ऑफिशियल या नॉलेजेबल वाइस के रूप में स्थापित करने का एक शानदार तरीका है। ग्राहकों को बढ़ाने और योग्य मार्केटिंग लीड की पहचान करने के लिए ई-बुक्स को आमतौर पर लीड मैग्नेट के रूप में उपयोग किया जाता है। एक बिजनेस एक ई-बुक बनाता है जो मुफ्त में डाउनलोड करने के लिए उपलब्ध है और इसे वितरित करने के लिए एक लैंडिंग पेज का उपयोग करता है। संभावित ग्राहक को ई-बुक फ़ाइल प्राप्त करने के लिए न्यूज़लेटर की सदस्यता लेने या अपना ईमेल एड्रेस प्रदान करने की आवश्यकता होती है।

 

GIF/मीम्स

जबकि सूचनात्मक कंटेंट कई व्यवसायों के लिए अच्छा काम करती है, वहीं कभी-कभी आपके उपभोक्ता मनोरंजन के जरिए भी आकर्षित होते हैं। यहीं से GIF और मीम्स चलन में आते हैं। GIF एक इमेज फ़ाइल है जिसका उपयोग एनिमेटेड चित्र बनाने के लिए किया जाता है। मीम एक टेक्स्ट ओवरप्ले वाली एक इमेज है जो इंटरनेट और सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर वायरल रूप से फैलती है। GIFs और मीम्स वायरल मार्केटिंग की दुनिया में सबसे ऊपर हैं । वायरल मार्केटिंग अपने सबसे अच्छे रूप में वर्ड-ऑफ-माउथ मार्केटिंग है। जब एक व्यक्ति वायरल पोस्ट देखता है, तो वे इसे कई लोगों के साथ शेयर करता है। नए दर्शकों तक पहुंचने पर केंद्रित सोशल मीडिया स्ट्रेटजी में GIF और मेम विशेष रूप से अच्छी तरह से काम करते हैं।

 

इंफोग्राफिक्स

इंफोग्राफिक्स दो शब्दों से मिलकर बना है जैसे- इन्फो से इन्फॉर्मेशन और ग्राफिक्स से विजुअल इमेज। इसका सीधा मतलब है कि किसी जानकारी को इमेज के रूप में ग्राफिक्स के माध्यम से दिखाया जाना। इंफोग्राफिक्स की मदद से आप अपनी जानकारी को लोगों तक जल्दी और आसानी से पहुँचा सकते है। इंफोग्राफिक्स, जितना आकर्षक होगा लोगों का ध्यान उतना ही जल्दी अपनी ओर खींचेगा। एक रिसर्च के अनुसार 80-90% जानकारी जो आपके दिमाग में आती है वो विजुअल कंटेंट के कारण आती है इसी लिए कंटेंट मार्केटिंग में इंफोग्राफिक्स एक प्रभावशाली माध्यम है।

 

पॉडकास्ट

पॉडकास्ट डिजिटल ऑडियो फाइलें हैं जो आमतौर पर किश्तों में ऑनलाइन वितरित की जाती हैं। उपभोक्ता ऑडियो फ़ाइलें डाउनलोड कर सकते हैं, अपनी वेबसाइट पर सुन सकते हैं या स्पॉटीफाई जैसे ऐप्स पर पॉडकास्ट एक्सेस कर सकते हैं। पॉडकास्ट एक बढ़िया प्रकार की कंटेंट मार्केटिंग है जो उपभोक्ताओं को अन्य कार्यों को करते समय उनकी जानकारी प्राप्त करने का अधिकार देता है। उदाहरण के लिए जब आप गाड़ी चला रहे हों, दौड़ रहे हों या खाना बना रहे हों, तो आप पॉडकास्ट से जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। ई-बुक पढ़ते समय या वीडियो देखते समय मल्टीटास्क करना कठिन होता है।

 

वीडियो मार्केटिंग

वीडियो मार्केटिंग की प्रभावशीलता SEO और सोशल मीडिया में लगातार बढ़ रही है। इन प्लेटफॉर्म के जरिए आप अपने कंटेंट या ब्रांड की जानकारी अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचेगी। जैसे-जैसे YouTube और TikTok जैसे प्लेटफॉर्म बढ़ते रहेंगे, कंटेंट मार्केटर्स के लिए वीडियो मार्केटिंग एक आवश्यकता बन जाएगी।

 

एक कंटेंट मार्केटर क्या करता है?

एक कंटेंट मार्केटर की विभिन्न भूमिकाएँ होती हैं। Content marketing in Hindi में करियर कैसे बनाया जाए, इसे समझने के लिए कंटेंट मार्केटर के कर्तव्यों को जानना जरूरी है। एक कंटेंट मार्केटर की भूमिका में मुख्य रूप से 3 चरण शामिल होते हैं ।

 

कंटेंट निर्माण

कंटेंट निर्माण एक टारगेट ऑडियंस के लिए आवश्यक जानकारी के साथ अच्छी तरह से अपडेट डेटा का चित्रण (illustration) है। कंटेंट में वह शामिल होना चाहिए जो ग्राहक पाठक को जानना चाहता है। सभी डिजिटल कंटेंट के रूप में ओरिएंटेड, मुख्य रूप से Google एक प्रसिद्ध सर्च इंजन है। कंटेंट मार्केटिंग में एक अच्छे करियर के लिए कंटेंट मार्केटर को सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (SEO) से अच्छी तरह परिचित होना चाहिए। कंटेंट को पढ़ने के लिए मनोरंजक बनाने के लिए कंटेंट में अच्छी मात्रा में वीडियो, चित्र, इन्फोग्राफिक्स, चित्र होने चाहिए। कंटेंट को शीर्षकों और उपशीर्षकों में भी विभाजित किया जाना चाहिए जिससे पढ़ना और आसान हो जाता है।

 

कंटेंट वितरण

यह सुनिश्चित करना भी महत्वपूर्ण है कि आपके द्वारा बनाई गई कंटेंट अधिक दर्शकों तक पहुंच रही है या नहीं। यदि कंटेंट अधिक लोगों तक नहीं पहुंचती है तो इसका कोई फायदा नहीं होगा । कंटेंट वितरण आमतौर पर मंचों, प्रश्न और उत्तर साइटों, सोशल मीडिया द्वारा किया जाता है।

 

आंकड़े

आँकड़ों का ध्यान रखना कंटेंट मार्केटर की एक और महत्वपूर्ण भूमिका है। यह सुनिश्चित करना महत्वपूर्ण है कि एनालिटिक्स उच्च हैं। कंटेंट मार्केटिंग प्रक्रिया कैसे चल रही है, इसकी तुलना करने के लिए कंटेंट मार्केटर द्वारा साप्ताहिक या मासिक रिपोर्ट को ट्रैक में रखा जाना चाहिए।

 

कंटेंट मार्केटिंग के लिए महत्त्वपूर्ण कौशल

कंटेंट मार्केटिंग में जो लोग करियर बनाना चाहते हैं, उनके लिए जरूरी स्किल्स होनी चाहिए। हमने कंटेंट मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए आवश्यक महत्वपूर्ण कौशलों की एक सूची बनाई है, जो इस प्रकार है–

रिसर्च कौशल
SEO और अन्य तकनीकी कौशल
डिजाइन और रचनात्मक कौशल
लेखन कौशल और व्याकरण
सोशल मीडिया ऑप्टिमाइज़ेशन

रिसर्च कौशल

कंटेंट बनाने के लिए स्रोतों से डेटा एकत्र करने, प्रमुख बिंदुओं की पहचान करने, बिंदुओं को नोट करने के लिए बहुत अधिक रिसर्च की आवश्यकता होती है। एक उचित और अच्छी तरह से रिसर्च किया गया कंटेंट हमेशा उपयोगकर्ताओं के लिए अधिक आकर्षक होता है।

 

 

SEO और अन्य तकनीकी कौशल

SEO महत्वपूर्ण है क्योंकि यह आपके कंटेंट के खोज पृष्ठों (search pages) के टॉप पर होने की संभावना को बढ़ाता है। कंटेंट मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए आपको SEO की समझ होनी चाहिए। SEO के कुछ महत्वपूर्ण कंपोनेंट्स में नियमित अंतराल पर कीवर्ड का उपयोग, उपयुक्त पेज हेडिंग का उपयोग, चित्र, मेटा डिस्क्रिप्शन और वीडियो शामिल हैं।

तकनीकी कौशल जैसे HTML, CSS का ज्ञान और एनालिटिक्स और एल्गोरिदम की समझ होनी चाहिए। आप कंटेंट मार्केटिंग के अंतर्गत अक्सर वर्डप्रेस और CMS के साथ भी काम करेंगे, इसलिए उनमें अनुभव होना अच्छा है।

 

डिज़ाइन और रचनात्मक कौशल

एक कंटेंट मार्केटर के रूप में, आपको अपने कंटेंट में बहुत सारी इमेज और वीडियो जोड़ने की आवश्यकता हो सकती है। यह आपके कंटेंट को आकर्षक बनायेगा और पाठक को आकर्षित करेगा । यह निश्चित रूप से आपके ब्रांड को कंटेंट मार्केटिंग में बढ़ावा देगा, इसलिए कंटेंट मार्केटिंग में करियर बनाने के लिए सही डिजाइन और क्रिएटिव स्किल्स का होना जरूरी है।

 

लेखन कौशल और व्याकरण

यह जरूरी है कि आपका कंटेंट व्याकरणिक रूप से (grammatically) गलत नहीं है और आपके दर्शकों को समझने के लिए उपयुक्त लेखन और व्याकरण का उपयोग कंटेंट में किया गया है। अच्छा लेखन और पठन कौशल होने से किसी भी गलत कंटेंट की जाँच करने में बहुत मदद मिलती है।

 

सोशल मीडिया ऑप्टिमाइज़ेशन

यदि आप कंटेंट मार्केटिंग में एक सफल करियर बनाना चाहते हैं तो सोशल मीडिया ऑप्टिमाइजेशन का ज्ञान महत्वपूर्ण है। आपके कंटेंट का कोई मूल्य नहीं है यदि वह अधिक दर्शकों तक नहीं पहुंची है। कई सोशल एप्लीकेशन का ज्ञान आपको एल्गोरिदम को समझने में मदद करता है और आपको अपने कंटेंट को बढ़ावा देने के बारे में विचार देता है।

 

Great Content

Content Marketing के लिए अच्छे content बहुत ही जरुरी हैं क्यूंकि अगर कोई consumer आपके product के विषय में देखेगा तो वो पहले content ही पड़ेगा और अगर उसे Content अच्छा लगेगा तब वो उसे खरीदने के बारे में सोच सकता है. अगर आपका content ही अच्छा और interesting नहीं है तब तो बात आगे बढ़ने का सवाल ही नहीं उठता है. इसलिए अगर आपका कोई Blog है तब इसके content को बहुत ही अच्छा लिखना होगा क्यूंकि यही आपके Blog का सबसे महत्वपूर्ण चीज़ है. इसलिए हमेशा ये कोशिश कीजिये की अपने Blog पर बेहतर contents प्रदान करने की कोशिश करें.

 

Content Marketing का भविष्य क्या है? (What is the future of Content Marketing)

 

ये सवाल अक्सर लोग पूछा करते हैं की “Content Marketing का भविष्य क्या है ?” वैसे देखा जाये तो इसका बहुत ही आसान है की कुछ भी नहीं बदलेगा. Technology बदल सकता है लेकिन Content Marketing के basics नहीं बदलेगा. Technology मनुष्य के फितरत को बदल नहीं सकता, हाँ लेकिन ये उसे amplify जरुर कर सकता है.

लोगों के Problems और चाहत नहीं कम होने वाले. उन्हें information चाहिए जो की उनके problems को हल कर सके और उनके चाहतों को पूर्ण कर सके. ये नहीं बदलेगा. Articles को पढने के तरीके बदल सकते हैं. लेकिन Content को लिखने में कोई बदलाव नहीं होगा. जैसे के हम जानते हैं की धीरे धीरे Competition का level बदल रहा है तो ऐसे में अगर इस race में जितना है तब खुद को समय के साथ बदलना पड़ेगा. अलग अलग Brand और individuals जो की अपने Content की quality को बढ़ा रहे हैं वो इस नए Competition में हमेशा सफल हो रहे हैं.

इसलिए भविष्य की चिंता छोड़ कर बस अपने काम पर ही ध्यान दें, और ज्यादा से ज्यादा बेहतर content लिखते रहें जो की आपके Brand और Products को value प्रदान करें. ये ही अच्छे content marketing का मुख्य राज है. जैसे की हम सभी को ये भली भांति पता है की जो दिखता है वही बिकता है।

 

Content Marketing से लाभ (Benefits from Content Marketing)

 

यदि आप Content Marketing Strategy का कार्य करते है तो आपको इसके फायदे भी प्राप्त होते है। जानते है Benefits Of Marketing Strategy के बारे में।

  • इससे उपयोगकर्ता को आपके ब्रांड पर विश्वास होगा और आपके प्रोडक्ट के प्रति वो ईमानदार रहेंगे और आपके ब्रांड की Reputation भी बढ़ेगी।
  • अगर आपका कंटेंट प्रभावशाली है तो यह आपके साइट के ट्रैफिक को बढ़ाती है।
  • यह सोशल ट्रैफिक और फॉलोवर्स को बढ़ाती है।
  • कंटेंट को सर्च इंजन में टॉप पर लिस्ट होने में मदद मिलती है।
  • अगर आप आपकी साइट पर अच्छे कंटेंट रखेंगे तो उपयोगकर्ता का आपकी साइट के प्रति विश्वास बढ़ेगा और Other Source से यदि आपकी साइट को Inbound लिंक मिलती है तो इससे वेबसाइट की डोमेन अथॉरिटी बढ़ती है। डोमेन अथॉरिटी जितनी बढ़ेगी सर्च रैंकिंग बेहतर होगी।
  • वेबसाइट पर आप जब कंटेंट को बढ़ाते है तो सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट की रैंक बढ़ेगी और सर्च इंजन में आपकी वेबसाइट टॉप पर दिखाई देगी तो उपयोगकर्ता आपकी वेबसाइट को सबसे पहले ओपन करेंगे।
  • ज्यादा से ज्यादा Backlinks मिलते है।

तो यह है Benefits Content Marketing करने के। इसके अतिरिक्त भी कुछ फायदे है जैसे- Benefits Of Content Marketing Statistics और Benefits Of Video Content Marketing जो Content Marketing करने से प्राप्त होते है।

  

 

Conclusion

  

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Content Marketing क्या है? Content Marketing से लाभ जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Content Marketing क्या है? Content Marketing से लाभ

 

Leave a Comment