Google Alert क्या है? इसे कैसे सेट और उपयोग कैसे किया जाता है?

Google Alert क्या है? What is Google Alerts in Hindi : इस Post में हम आपको Google Alerts के बारे में जानकारी देने वाले है. Google पर किसी भी Topic से Related आने वाली जानकारी जो या तो इन्टरनेट पर नहीं है या आप किसी जानकारी के Update को अपने Email Address पर पाना चाहते है तो गूगल अलर्ट का उपयोग जरूर करे.Google Alerts क्या है/ What is Google Alerts in Hindi

यदि आप एक Blogger हैं, You tuber है या आप किसी ऐंसी जानकारी की तलाश में है जो आपको इन्टरनेट पर नहीं मिल रही तो Google की यह Service आपके लिए एक बेहतर Service साबित हो सकती है क्योंकि यदि आप गूगल अलर्ट का उपयोग करते है और आप जिस जानकारी को सर्च कर रहे है या आप किसी जानकारी का अपडेट पाना चाहते है तो आपको बता दे जैसे ही वह जानकारी इन्टरनेट पर पब्लिश की जाती है उसका मेल आपको भी मिलेगा.

दोस्तों Google सबसे बड़ा Search Engine है और इस पर प्रतिदिन हजारों Topic से सम्बन्धी जानकारी आती रहती है यदि आप Google पर कोई Topic Search करते है तो इससे Related सारी जानकारी आपको Search Result में Show होती है और जब तक आप किसी जानकारी को सर्च नहीं करते तब तक आपको किसी न्यू जानकारी का पता नहीं चल पाता है.

यदि आप Google Alerts की मदद ले और अपने पसंद के किसी Topic को Select करें तो जब भी इस Topic पर कोई जानकारी Google पर आएगी तो वह आपको भी मिल जाएगी और इसके बाद आप उस Topic को Read कर सकते है Post को देख सकते है आज हम Google की ही Service Google Alerts के बारे में जानेंगे जिससे हमें फायदा होगा और इसके बारे में बहुत कम लोगों को पता होगा.

 

Google Alert क्या है? इसे कैसे सेट और उपयोग कैसे किया जाता है?
TEJWIKI.IN

 

Google Alert क्या है?

 

इस मुश्किल को आसान करने के लिए गूगल ने अपनी इस सर्विस गूगल अलर्ट को लॉन्च किया था। इस सर्विस का इस्तेमाल करके यूज़र्स इंटरनेट पर अपनी पसंदीदा कंटेंट के लिए एक खास गूगल अलर्ट सेट कर सकता है। इसके बाद यूज़र्स अपने उस पसंदीदा चीज के बारे में सभी जानकारी टाइम पर ले पाएग और उसे बार-बार इंटरनेट पर अपनी पसंदीदा कंटेंट ढूंढने की जरूरत नहीं पड़ेगी।

हम अपने इस आर्टिकल में आपको बताएंगे कि गूगल अलर्ट का यूज़ कैसे करें, इसको कैसे सेट करें और इसका कैसे उपयोग कर पाएंगे। आइए सबसे पहले हम आपको गूगल अलर्ट को सेट करने का तरीका बताते हैं। इसका प्रोसेस काफी आसान है। इसके लिए सबसे पहले आपको गूगल पर जाना होगा।

 

Google Alert कैसे कार्य करता है?

 

कुछ सब्जेक्ट्स या टॉपिक्स में हम हमेशा अपडेट रहना चाहते हैं। या अगर इंटरनेट पर हमारा कोई ब्रांड या बिज़नेस है। तो उससे जुड़ी नई जानकारी हमें होनी चाहिए। गूगल अलर्टस की मदद से ये सब कुछ आसानी से हो जाता है।

गूगल अलर्टस गूगल की एक ऐसी सर्विस है, जिसके द्वारा आप किसी टॉपिक या कीवर्ड के लिए अलर्ट लगा सकते हैं। Google Alerts का प्रयोग करने के लिए आपके पास जीमेल अकाउंट होना चाहिए। आप जिस कीवर्ड या टॉपिक पर अलर्ट सेट करेंगे। उसके बारे में कुछ भी इंटरनेट पे आएगा।

तो आपको जीमेल इनबॉक्स में इसकी सुचना भेज दी जायेगी। गूगल अलर्टस को आप किसी व्यक्ति, कंपनी, ब्रांड या न्यूज़ टॉपिक के लिए बना सकते हैं। इसके आपको मेल पर अपडेट मिलती रहेंगी।

 

 

Google Alerts कैसे बनाएं ?

 

गूगल अलर्ट को बनाना बहुत आसान है। यहाँ मैंने सभी स्टेप्स बताएं हैं। आप इसको फॉलो करके अपने पसंदीदा कीवर्ड पर अलर्ट लगा सकते हैं।

  • गूगल अलर्ट की वेबसाइट पर विजिट करें।
  • अपने जीमेल अकाउंट से लॉगिन करें।
  • जिस टॉपिक के लिए अलर्ट चाहिए वो कीवर्ड सर्च बार में एंटर करें।
  • आपको तभी अलर्ट का प्री व्यू शो होगा। अब अलर्ट क्रिएट कर दें।

 

Google Alert कैसे सेट करें?

 

स्टेप 1: https://www.google.co.in/alerts पर जाएं।

Suicide Machine: स्विट्जरलैंड सरकार ने सुसाइड मशीन को दी मंजूरी, 1 मिनट में होगी बिना दर्द मौतSuicide Machine: स्विट्जरलैंड सरकार ने सुसाइड मशीन को दी मंजूरी, 1 मिनट में होगी बिना दर्द मौत

स्टेप 2: अब आपको गूगल अकाउंट पर लॉगिन करना होगा। अगर आप पहले से लॉगिन होंगे तो कोई जरूरत नहीं है।

स्टेप 3: अब अगर आप पहली बार गूगल पर लॉगिन कर रह हैं तो आपको अपने पसंदीदा टॉपिक का नाम लिखना होगा और अगर आप पहले से जीमेल यूज़ करते हैं तो आपके सामने आपके द्वारा ज्यादातर यूज़ किए जाने वाले टॉपिक में पसंदीदा ऑप्शन का विकल्प मिलेगा। वहां पर आपको कंपनी, मूवी, न्यूज़ सेक्शन, फाइनेंस, टेक्नोलॉजी जैसे कई कैटेगिरी ऑप्शन मिलेंगे। आप अपने पसंदीदा विकल्प को चुनें।

स्टेप 4: अपना जीमेल आईडी चुनने के बाद आपको Show Options का ऑप्शन दिखेगा, उसपर क्लिक करें।

20000mAh के ये पावर बैंक जो Amazon पर मिल रहे है बम्पर डिस्काउंट के साथ20000mAh के ये पावर बैंक जो Amazon पर मिल रहे है बम्पर डिस्काउंट के साथ

स्टेप 5: Show Options पर क्लिक करने के बाद कुछ और ऑप्शन मिलेंगे, उसे आप अपने अनुसार सेट कर लें।

स्टेप 6: अब आप How Often पर जाकर चुनें कि आपको कितनी बार और कब-कब गूगल अलर्ट चाहिए।

स्टेप 7: Sources ऑप्शन पर जाएं और आपको अलर्ट किस तरीके का चाहिए ऑटोमैटिक या मैन्यूल, उसे चुनें।

स्टेप 8: अब आप जिस भाषा में अलर्ट प्राप्त करना चाहते हैं, उस भाषा का चयन करें।

स्टेप 9: अब आपको क्षेत्र का चयन करना होगा। आप अगर सिर्फ अपने देश का न्यूज़ चाहते हैं तो Region में जाएं और Country में इंडिया में को चुनें। अगर आप हर जगह के बारे में अलर्ट पाना चाहते हैं तो Any Region चुन सकते हैं।

स्टेप 10: अब वहां How Many के अंदर आपको दो ऑप्शन दिखाई देंगे। पहला All Results और दूसरा Best Results। आप किसी एक को चुनें।

स्टेप 11: अब आपको अलर्ट कहां चाहिए वो चुनना पड़ेगा। इसके लिए आपको Deliver To ऑप्शन के अंदर जाकर उस जीमेच आईडी को चुनना पड़ेगा, जिसमें आप अलर्ट पाना चाहते हैं।

स्टेप 12: अब अंतिम में आप Create Alert का ऑप्शन चुन लें यानि क्लिक कर दें।

 

Google Alert का उपयोग कैसे करें

 

जैसा कि हमने आपको बताया है, सभी प्रकार के अलर्ट कॉन्फ़िगर किए जा सकते हैं। Google अलर्ट पेज पर हमारे पास एक ऊपरी पट्टी होती है, जिसमें हम इन अलर्ट के लिए जिस शब्द का उपयोग करना चाहते हैं उसे दर्ज करना है। यह वही हो सकता है जो हम चाहते हैं। चाहे वह हमारा नाम हो, हमारी कंपनी का हो, Google Alert क्या है? किसी स्टोर का हो, किसी प्रसिद्ध व्यक्ति का हो … इस अर्थ में संयोजन कई हैं। ऐसा कुछ जिसे आप अलर्ट प्राप्त करने के लिए प्रासंगिक मानते हैं।

जब आप कोई अलर्ट दर्ज करते हैं, तो उसका विवरण डिफ़ॉल्ट रूप से कॉन्फ़िगर किया जाता है। लेकिन, आप यह देखने वाले हैं कि उस शब्द के नाम के आगे आपको एक पेन का आइकन मिलता है, जिससे आप इस अलर्ट को संपादित कर सकते हैं। इस तरह, आप इसे और अधिक सटीक तरीके से अपनी आवश्यकताओं में समायोजित कर पाएंगे। ये ऐसे शब्द हैं जिन्हें हम कॉन्फ़िगर कर सकते हैं:

 

  • सूचना आवृत्ति: जिस आवृत्ति के साथ हम ये नोटिस प्राप्त करना चाहते हैं। हम दैनिक या साप्ताहिक के बीच चयन कर सकते हैं, लेकिन हर बार उस सामग्री को अनुक्रमित किया जाता है। वह चुनें जो आपके लिए सबसे आरामदायक हो।
  • सूत्रों का कहना है: आप Google को अलर्ट में आपके द्वारा चुने गए पैरामीटर की तलाश कहाँ करना चाहते हैं। चाहे पुस्तकें, समाचार, वेबसाइट, वित्त, फ़ोरम या वीडियो में स्वचालित हों। पद के आधार पर, आपके लिए अधिक सुविधाजनक विकल्प होगा।
  • भाषा: वह भाषा जिसमें आपने Google अलर्ट के साथ खोजा गया पैरामीटर उल्लिखित है। डिफ़ॉल्ट रूप से यह आपकी भाषा में होगा, लेकिन हम इसे हमेशा बदल सकते हैं। हम जिस पद की तलाश कर रहे हैं, उसके आधार पर यह अधिक सुविधाजनक हो सकता है।
  • क्षेत्र: जिस देश में आप देख रहे हैं उस शब्द से संबंधित कुछ सामग्री प्रकाशित होनी चाहिए। डिफ़ॉल्ट रूप से, Google अलर्ट सभी क्षेत्रों को दिखाता है, लेकिन आप अपनी खोज में एक विशिष्ट क्षेत्र को कॉन्फ़िगर कर सकते हैं।
  • मात्रा: यदि यह मामला है कि आपके द्वारा खोजे गए कीवर्ड के साथ कई पृष्ठ अनुक्रमित हैं, तो आप उन लोगों के साथ चयन करने की संभावना रखते हैं जिन्हें Google महत्वपूर्ण मानता है। इसलिए आपको इसके बारे में इतने अलर्ट प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं है। यह उस शब्द पर निर्भर करता है, जिसे आप खोज रहे हैं।
  • को भेजें: आपके पास यह चुनने की संभावना है कि आप इसे ईमेल द्वारा भेज सकते हैं या आरएसएस फ़ीड उत्पन्न किया है।

  

 

Google Alert का Delivery Time कैसे Setup करें ?

 

इसकी कई वजह हो सकती है। जैसे की मेरे साथ होता है मुझे रोज कई ईमेल आते हैं।

आपको मेरी तरह मॉर्निंग में चाय के साथ मेल चेक करना पसंद हो। या रात को सोने से पहले आप मेल्स देखते होंगे।

कुछ लोग वीकेंड या छुट्टी में ही अपने मेल्स चेक करते हैं। वजह चाहे जो भी हो।

आप गूगल अलर्टस की डिलीवरी टाइम को खुद से सेट कर सकते हैं।

GOOGLE-Alert
आपको “My Alerts” के पास सेटिंग के आइकॉन पर क्लिक करना है।
क्लिक करने के बाद Delivery Time और Digest का ऑप्शन मिलता है।
डिलीवरी टाइम को सेलेक्ट करने के बाद आपको टाइम सेट करना है।
डाइजेस्ट पर टिक करके आप एक ही मेल में सभी अलर्टस पा सकते हैं।
मेरे विचार से डाइजेस्ट डिलीवरी सबसे बढ़िया है। इसमें आपको हर टॉपिक की कई मेल्स नहीं आएगी। एक मेल में सभी अलर्टस होंगे।

इसके साथ ही आप मेल की फ्रीक्वेंसी भी सेट कर सकते हैं।

How often में आप अपने अलर्टस को डेली या सप्ताह में एक बार डिलीवर करने के लिए सेट कर सकते हैं।

 

Google Alerts को  Customize कैसे करें?

 

अलर्टस बनाने के बाद आप उनको अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं। सभी अलर्टस के सामने एडिट का आइकॉन आपको मिल जाता है।

एडिट मोड में जाने के बाद कई सेक्शन शो होते हैं। जिनको आप अपने हिसाब से कस्टमाइज कर सकते हैं।

Google-Alerts-kya-hai
यहाँ हमने गूगल अलर्टस के पैरामीटर्स को समझाया है।

How Often : यहाँ आपको डिलीवरी का टाइम सेट करना है।

Sources : यहाँ आप ब्लॉग, वेबसाइट या किसी न्यूज़ पोर्टल को सोर्स के रूप में ले सकते हैं। या फिर इसको आटोमेटिक रहने दें।

Language : यहाँ कई तरह भाषा .उपलब्ध हैं। आप कोई भी लैंग्वेज को सेलेक्ट कर सकते हैं।

Region : यहाँ आप को वो कंट्री देनी हैं जंहा से अलर्ट चाहिए। हर अलर्ट के लिए any region रहने दें।

How Many : यहाँ आप रिजल्ट्स को फ़िल्टर कर सकते हैं। आप बेस्ट रिजल्ट या आल रिजल्ट को चुन सकते हैं।

अब अपडेट अलर्टस पर क्लिक कर दें। आपके गूगल अलर्टस अपडेट हो गए।

 

Google Alert क्यों आवश्यक हैं?

 

चलिए एक उदाहरण से समझते हैं, मान लीजिये मुझे ब्लॉग्गिंग करना पसंद हैं। तो ब्लॉग्गिंग की जानकारी (Knowledge) लखना भी मेरे लिए बहुत जरूरी होगा। इसलिए मुझे ब्लॉग्गिंग से सम्बंधित सभी न्यूज़ और जानकारी से अपडेट रहना होगा। Google Alert क्या है? अब इन्टरनेट पर हर रोज ब्लॉग्गिंग से सम्बंधित लाखों आर्टिकल्स पब्लिश होती होंगी। सभी आर्टिकल्स पर नजर रखना मेंरे लिए नामुमकिन हैं। तो ऐसी स्थिति में हमें गूगल अलर्ट की जरूरत पढ़ती हैं।

 

Google Alert के फायदे

 

आपके आज के समय में गूगल की इस फ्री सेवा का लाभ जरूर लेना चाहिए। इसके आपको कई फायदे मिल सकते हैं, जिनके बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं।

  • आप इस सर्विस की मदद से अपने पसंदीदा टॉपिक पर लगातार नजर बनाए रख सकते हैं और उससे जुड़ा ताजा अपडेट ले सकते हैं।
  • आपको यह सर्विस इस्तेमाल करने से बार बार गूगल में सर्च नहीं करना पड़ता है।
  • गूगल अलर्ट की मदद से आपको अपने पसंदीदा टॉपिक की जानकारी पहले ही जीमेल की ओर से पहुंच जाती है।
  • इंटरनेट पर आपके पसंदीदा टॉपिक से जुड़ी कोई भी न्यूज अगर पब्लिश होती है, तो वह आप तक कुछ सेकेंड में ही पहुंच जाती है।
  • इसके अलावा उस टॉपिक से जुड़े क्या-क्या अपडेट आने वाले हैं, उसकी जानकारी भी आपको पहले ही मिल जाती 

 

 

Conclusion

 

मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Google Alert क्या है? इसे कैसे सेट और उपयोग कैसे किया जाता है? जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Google Alert क्या है? इसे कैसे सेट और उपयोग कैसे किया जाता है?

 

Join our Facebook Group

   Join Whatsapp Group

 

Leave a Comment