PWD की फुल फॉर्म क्या होता है? PWD अधिकारी कैसे बने? (Hindi)

दोस्तों इस आर्टिकल में हम PWD की फुल फॉर्म क्या होता है ? और PWD किसको कहा जाता हैं व इसके क्या क्या कार्य होते हैं इन सब के बारे में बताने वाले है ताकि आपको PWD के बारे में पूरी जानकारी हिंदी में प्राप्त हो सके.

अक्सर हम सब लोग PWD का नाम कई अलग अलग जगह पर सुनते और देखते भी हैं अगर आप अख़बार पढ़ते हैं या न्यूज़ देखते हैं तो वहां पर आपको अक्सर इस प्रकार का नाम सुनने को मिल जाता हैं पर आपको इसके पुरे नाम के बारे में जानकारी होनी भी बहुत ही जरुरी है.

आप जिस भी शहर में रहते हैं वहा पर कोई न कोई PWD office जरूर होगा व आपको इनके कार्य आदि के बारे में जानकारी होगी तो आवश्यकता पड़ने पर आप इनसे सम्बंधित कार्य की सुचना देकर उनसे वो कार्य करवा सकते हैं ऐसे में इस प्रकार की जानकारी बहुत उपयोगी होती है.

PWD की फुल फॉर्म क्या होता है? PWD अधिकारी कैसे बने? (Hindi)
TEJWIKI.IN

 

PWD की फुल फॉर्म क्या होता है? (What is the full form of PWD)

 

PWD की अंग्रेजी में फुल फॉर्म PUBLIC WORKS DEPARTMENT होती है और इसे हिन्दी में लोक निर्माण विभाग कहते हैं। ये एक‌ सरकारी विभाग होता हैं। PWD राज्य स्तर पर कार्य करता हैं और यह वित्त विभाग के सहयोग से, PWD वार्षिक विकास योजना को विकसित करता है। इसका लक्ष्य समुदाय को सुविधाजनक बनाने के लिए एक रणनीति को लागू करना है। प्रत्येक शहर में PWD के अलग अलग कार्यालय होते हैं। PWD अपने शहर में पानी, बिल्डिंग, निर्माण और मरम्मत आदि का कार्य करवाता है। यदि जनता से संबंधित कोई भी कंस्ट्रक्शन का काम होता है तो वो PWD के द्वारा ही करवाया जाता हैं।

 

 

PWD के‌ कार्य (Functions of PWD)

 

PWD के कई सारे कार्य होते हैं जैसे की सरकार के अंतर्गत आने वाले‌ सडक, भवन, पानी की सुविधा, विधालय अस्पताल आदि की मरम्मत आदि कराना‌ जैसे कार्य होते हैं.

  • पेयजल व्यवस्था
  • सरकारी बिल्डिंग
  • रोड निर्माण
  • पुलों का निर्माण

इस प्रकार के सभी कार्य व इसके अलावा भी कई सारे कार्य एक PWD अधिकारी को करने होते हैं और इसके अलावा भी कई सारे कार्य इसके होते है.

 

1. पेयजल व्यवस्था करना

 

अक्सर गावों या शहरों में आये दिन पानी की समस्या होती रहती हैं कई बार तो लोगो के पिने तक का पानी नहीं होता तो ऐसे में लोगो के लिए पानी की व्यवस्था करना इनका ही कार्य होता है.

शहर के सभी क्षेत्रों मे पेयजल उपलब्ध कराना  व अगर शहर मे कही पर पानी की पाइप लाइन फट जाये तो उसकी मरम्मत आदि कराना PWD का ही कार्य होता है.

 

2. सरकारी बिल्डिंग

 

शहर मे कही सरकारी बिल्डिंग का निर्माण करना व सरकारी बिल्डिंग की मरम्मत आदि कराना PWD का कार्य होता हैं ये विधालय व अस्पताल आदि की आरम्भ का कार्य भी कराते हैं.

अगर कोई अस्पताल का या विधालय आदि  का निर्माण हो रहा हो या किसी पुरानी सरकारी बिल्डिंग का निर्माण हो रहा हो तो वो सभी कार्य PWD के अंतर्गत आता हैं.

 

3. रोड निर्माण

 

ये समस्या आपको सभी जगह पर देखने को मिल जायेगी की  गांव व शहरों में बहुत सी टूटी हुई सड़के हैं जिससे कई लोगो  को इससे बहुत सी परेशानी का सामना करना पड़ता है.

शहर मे‌ नये सडक का निर्माण करना व कही पर सडक टुट जाये तो उसकी मरम्मत आरि कराना pwd का मुख्य कार्य होता है.

 

4. पुलों का निर्माण

 

अपने क्षेत्र के अन्तर्गत आवश्यकतानुसार पुलों का निर्माण आदि कराना व कही पर पुल दुर्घटनाग्रस्त हो जाने पर उसकी मरम्मत आदि करना इसका मुख्य कार्य होता हैं.

यह सभी कार्य pwd के दायरे में आते हैं व इसके अलावा भी कई सारे अन्य अलग अलग कार्य हैं जो इनको करने होते हैं पर हमने आपको बताये हैं वो इनके मुख्य कार्य होते हैं जिनके बारे में आपको जानकारी होनी बेहद आवश्यक है.

 

PWD अधिकारी कैसे बने? (How to become a PWD Officer)

 

पीडब्ल्यूडी (PWD) अधिकारी की पोस्ट के लिए सम्बंधित विभाग द्वारा समय-समय पर समाचार पत्रों, कॉम्पिटीटिव मैगजीन और इंटरनेट के द्वारा जॉब नोटिफिकेशन जारी किया जाता है। इसमें आपको योग्यता, आवेदन प्रक्रिया, आवेदन शुल्क, भर्ती प्रक्रिया, आदि के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है। उसके अनुसार आप अपनी योग्यता के आधार पर सम्बंधित फॉर्म भरकर परीक्षा दे सकते है, और अगर आप परीक्षा क्वालीफाई कर लेते है तो फिर परीक्षा में प्राप्त किये गए अंकों के आधार पर आपको PWD अधिकारी की किसी पोस्ट पर पदोन्नित (Appoint) कर दिया जाता है।

 

PWD Officer बनने के लिए योग्यता (Eligibility to become a PWD Officer)

 

  • PWD ऑफिसर बनने के लिए 21-35 वर्ष की आयु सीमा निर्धारित है।
  • सिविल इंजीनियर, इलेक्ट्रिकल और मेकैनिकल इंजीनियरिंग में से किसी एक में स्नातक (Graduate) होना आवश्यक है।

PWD Officer का सिलेक्शन प्रोसेस (PWD Officer Selection Process)

 

  1. पीडब्ल्यूडी विभाग में भर्ती SSC (कर्मचारी चयन आयोग) और राज्य लोक सेवा आयोग (State PSC) द्वारा की जाती है।
  2. जूनियर इंजिनियर की भर्ती के लिए SSC JE की परीक्षा कंडक्ट करवाती है, इसके अंतर्गत दो परीक्षाएं होती हैं- ऑब्जेक्टिव टाइप और सब्जेक्टिव टाइप।
  3. इन परीक्षाओं में अच्छे अंक हासिल करने के लिए जनरल अवेयरनेस, रीजनिंग और इंजीनियरिंग के बारे में जानकारी होना आवश्यक होता है।
  4. ध्यान रहे, आपने इंजीनियरिंग की जिस स्ट्रीम में पढाई की है, आपको उसी से सम्बंधित भर्ती परीक्षा के लिए फॉर्म फिल करना है।
  5. दोनों परीक्षाएं सफलतापूर्वक आयोजित किये जाने के कुछ समय बाद चुने गए उम्मीदवारों की सूची विभाग द्वारा जारी कर दी जाती है।

 

PWD काटेगोरिएस (PWD Categories)

 

देश में पीडब्ल्यूडी को दो भागों में बाँटा गया है- CPWD और SPWD। इन दोनों विभागों का कार्य लगभग समान ही होता है परन्तु इनके कार्यसीमा में अंतर होता है। नीचे इनके बारे में विस्तार से बताया गया है।

  1. CPWD (Central Public Works Department): इसे हिंदी में केन्द्रीय लोक निर्माण विभाग के नाम से जाना जाता है। इसका कार्य केंद्र सरकार के आधीन होता है। केन्द्रीय स्तर पर कार्य, जैसे- प्राथमिक सड़क व्यवस्था के लिए राष्ट्रिय राजमार्गो (National Highways) आदि का निर्माण और रखरखाव (Repair and Maintenance) का कार्य CPWD का होता है।
  2. SWPD (State Public Works Department): इसे हिंदी में राज्य लोक निर्माण विभाग कहा जाता है। इसका कार्य राज्य से सम्बंधित होता है और राज्य तक ही सीमित होता है। स्टेट हाईवे का निर्माण और रखरखाव कार्य SPWD का होता है।

राज्य में पीडब्ल्यूडी विभाग को डिवीजन, सब-डिवीजन और अन्य विभागों में बाँटा गया है। हर राज्य में पीडब्ल्यूडी में जल वितरण और सफाई, सड़क और ब्रिज, सरकारी बिल्डिंग, बाढ़ प्रबंधन, आदि कार्यों के लिए अलग-अलग विभाग हैं।

 

PWD में भर्ती कैसे होती है ? (How to get recruited in PWD)

 

दोस्तों, उम्मीद है कि ऊपर दी गई सारी जानकारी आपने अच्छी तरह पढ़ ली होगी और आपके सारे सवालों का जवाब मिल गया होगा। एक बार संछेप में समझते हैं

  • PWD में job kese milti hai?
  • PWD का full form होता है Public Works Department यानि लोक निर्माण विभाग सरकारी भवनों, सड़कों, पुल का निर्माण, मरम्मत और देखभाल PWD का काम होता है।
  • PWD में भर्ती होने के लिए एज लिमिट 21-35 वर्ष है। इसमें नियमानुसार छूट दी जाती है।
  • सिविल, इलेक्ट्रिकल और मेकैनिकल इंजीनियरिंग में डिग्री या डिप्लोमा किए उम्मीदवार आवेदन के योग्य होते हैं।
  • SSC या राज्य लोक सेवा आयोग की तरफ से एग्जाम लिया जाता है।
  • इसमें जनरल अवेयरनेस, रीजनिंग और इंजीनियरिंग से संबंधित प्रश्न पूछे जाते हैं।
  • सलेक्टेड कैंडिडेट्स को जेई की पोस्ट दी जाती है।
  • कुछ साल काम करने के बाद असिस्टेंट इंजीनियर और एग्जीक्यूटिव इंजीनियर के तौर पर प्रमोट किया जाता है।

 

PWD का अन्य फुल फॉर्म (Other full form of PWD)

 

  • Pure Welfare Donation
  • Person With Disabilities
  • Plan With Design
  • People With Dream
  • Profile Win Dedication

 

 

Conclusion

  

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख PWD की फुल फॉर्म क्या होता है? PWD अधिकारी कैसे बने? (Hindi) जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

PWD की फुल फॉर्म क्या होता है? PWD अधिकारी कैसे बने? (Hindi)

 

Leave a Comment