Tally कैसे सीखे? Tally करने से क्या लाभ है? पूरी जानकारी हिंदी में

दोस्तों Tally कैसे सीखे? एक समय था जब कि सभी प्रकार के Business Related Accounts की जानकारी रखने के लिए Note Book या Register में Entry करके रखा जाता था जिससे की जो भी वस्तु खरीदी या बेची गयी है उसका Record रखा जा सके जिसमे की कई बार लेन देन वाले Register कुछ सालों बाद खराब होने लगते थे

और ऐसे में Data को लंबे समय तक Store करके रख पाना मुश्किल हो जाता था लेकिन आज इंटरनेट और कंप्यूटर के दौर में जमाना बदल गया है और आज सभी प्रकार के Records को रखने के लिए Computer और Cloud Storage का इस्तेमाल किये जाने लगा है जिसमे की Data को तब तक ले लिए Store किया जा सकता है जब तक कि उसे खुद न Delete किया जाए।

और ऐसे में Financial लेन देन की जानकारी भी Accounting Software जो कि Tally के नाम से जाना जाता है उसका सबसे अधिक उपयोग किया जाता है Data को Save करने के लिए। यदि आप Accounting की पढ़ाई कर रहे है और आप Accounting क्षेत्र में कोई Job करना चाहते है तो आप को Tally ज़रूर सीखना चाहिए, ताकि आप किसी भी Office या Company में आसानी से Accounting से Related Job प्राप्त कर सके

तो चलिए अब हम विस्तार से Tally के बारे में जानते है कि Tally क्या है और Tally का क्या उपयोग है और इसको कहा उपयोग किया जाता है ? इस आर्टिकल में आप जानने वाले हैं

 

Tally कैसे सीखे? Tally करने से क्या लाभ है? पूरी जानकारी हिंदी में
TEJWIKI.IN

 

Tally क्या है? (What is Tally)

 

Tally का अर्थ पैसे की गणना करना साथ ही उसका व्यस्थापन और संरक्षित करना हैं. इसके अलावा वस्तु कहाँ से खरीदी गयी कितने में खरीदी गई इन सभी कामो का रिकॉर्ड Tally में रखा जाता है. एक ज़माना हुआ करता था जब लोग अपने बिज़नेस में होने वाले सभी वित्तीय लेन देंन को हाथ से लिख कर डॉक्यूमेंट और दस्तावेज में रखा करते थे. लेकिन अब वो वक़्त बीत चूका है. आज के समय में सभी प्रकार के व्यवसायों में कंप्यूटर का इस्तेमाल किया जाता है और अकाउंट से जुड़े बहुत सारे सॉफ्टवेयर में Tally सबसे अधिक प्रयोग किया जाता है.

 

 

जब भी कंप्यूटर में अकाउंटिंग के काम के बारे में बात की जाती है तो सबसे पहला नाम जो दिमाग में आता है वो है Tally है. अकॉउंटिंग में बहुत तरह के पेचीदा गणना करना होता है वो कंप्यूटर में बिना सॉफ्टवेयर के नहीं किया जा सकता है. इस तरह के मुश्किल कैलकुलेशन करने के लिए ही Tally काम में लाया जाता है.

आपकी जानकारी के लिए बता दूँ की Tally का इस्तेमाल तो भारत में होता है अलावा कई अन्य देशों में भी Tally बहुत प्रचलित है. ये सॉफ्टवेयर बहुत साडी कंपनियों और अकॉउंटिंग से जुड़े लोगो के रोज़मर्रा काम आने वाला सॉफ्टवेयर है।

लेकिन Tally की शुरुआत कैसे हुई ये बहुत कम लोगों को ही पता होगा. ये कितने काम का है ये तो अब आप समझ गए होंगे लेकिन इसकी जरुरत कब पड़ी इसी बात को चलिए आगे जानते हैं.

 

Tally का फूल फ़ॉर्म क्या है? (What is the full form of Tally)

 

Tally का फूल फ़ॉर्म है Transactions Allowed in a Linear Line Yards. Tally भारत में प्रयोग होने वाला सबसे पॉपुलर अकॉउंटिंग सॉफ्टवेयर है. Tally Solutions Pvt. Ltd. एक मल्टीनेशनल कंपनी है जिसने Tally का निर्माण किया है. इसका Headquarter भारत के बैंगलोर शहर में स्थित है. कंपनी के रपोर्ट के मुताबिक tally सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल 10 लाख से ज्यादा लोग करते हैं.

 

टैली का इतिहास (History of Tally)

 

दोस्तों जैसा की मैंने पहले ही बता दिया है की Tally का निर्माण भारत के बैंगलोर स्थित कंपनी में कियस गया है. लेकिन Tally Solution कंपनी को पहले Peutronics के नाम से जाना जाता था. क्या आप जानते है टैली के जनक कौन है?

सन 1986 में श्याम सुन्दर गोयनका और उनके बेटे भारत गोयनका ने मिलकर बनाया था. उस वक़्त श्याम सुन्दर गोयनका एक कंपनी चलाया करते थे जिससे की दूसरे प्लांट्स और टेक्सटाइल मिल्स को कच्चा माल और मशीन पार्ट्स सप्लाई करते थे.

तो इस बिज़नेस को मैनेज करने के लिए उनके पास कोई ऐसा सॉफ्टवेयर नहीं था जिससे वो अपना हिसाब किताब आसानी से कर सके.

तब उन्होंने अपने बेटे से कहा की एक ऐसा सॉफ्टवेयर बनाओ जिससे हम अपने बिज़नेस को आसानी से मैनेज कर सके. भारत गोयनका जो की मैथमेटिक्स में ग्रेजुएट थे उन्होंने अकॉऊंटिंग एप्लीकेशन के लिए सबसे पहला संस्करण MS – DOS एप्लीकेशन के रूप में लांच किया. इस में सिर्फ बेसिक अकॉउंटिंग फंक्शन थे. जिसका नाम Peutronics financial Accountant रखा गया.

1988 में इस प्रोडक्ट का नाम बदलकर पहली बार Tally रखा गया.

1999 में इस कंपनी ने formally कंपनी का नाम बदलकर Tally Solutions रखा.

2001 के साल में Tally के नए संस्करण यानि Tally 6.3 को लांच किया गया. ये संस्करण से थोड़ा एडवांस था क्यों की इस में Accounting के अलावा Educational उद्देश्य से उपयोग करने की योग्यता थी. इसके साथ इस में License की सुविधा भी दी गई.

सन 2005 में Tally को और भी अच्छा डिज़ाइन के साथ बाजार में उतारा गया जिसमे सबसे मुख्या फीचर था Value Added Taxation (VAT). जो की भारतीय कस्टमर्स के लिए बहुत उपयोगी था. ये Tally 7.2 version था.

2006 में Tally के 2 version को release किया गया जिनमे से एक Tally 8.1 था और दूसरा Tally 9. ये Tally के maultilingual version थे.

2009 में इस कंपनी ने Tally ERP 9 एक Business management solution रिलीज़ किया.

2016 में GST Server और Tax Payers के बिच में interface के रूप में GST सुविधा प्रदान करने के लिए Tally Solutions को चुना गया और 2017 में कंपनी ने बिलकुल अपडेटेड GST Compliance Software लांच किया.

 

Tally करने से क्या लाभ है? (Benefits of doing Tally)

 

स्टूडेंट्स पढाई करने के दौरान बहुत असमंजस में फंसे रहते हैं की पढाई में कौन सी लाइन चुने? कौन सा कोर्स करने से फायदा है और उसमे करियर बनाने का चांस ज्यादा है. मैं यहाँ वैसे स्टूडेंट्स के लिए मार्गदर्शन के रूप में विकल्प लेकर आया हूँ जिन्होंने 12 वीं में कॉमर्स की पढाई की है. ऐसे स्टूडेंट्स के लिए Tally course करना करियर बनाने के लिए बहुत अच्छा विकल्प है.

स्टूडेंट्स अक्सर 12 वीं के बाद ये सोचते हैं की अपना करियर कहाँ बनाये? क्या करे की अछि जॉब मिल सके? कुछ ऐसे स्टूडेंट्स भी होते हैं जो गरीब परिवार से होते हैं और अच्छा कोर्स नहीं कर पाते. ऐसे लोग ये चाहते हैं की काम समय में कोई कोर्स कर के अच्छी जॉब कर सके. तो मैं यहाँ आप को ये बताना चाहते आपकी इस खवाहिश को Tally course कर के आप पूरा कर सकते हैं.

जी हाँ आपने सही सुना Tally आज के समय काफी प्रचलित सॉफ्टवेयर है और इस पर काम जानने वाले बहुत काम लोग हैं. इसीलिए इसमें जॉब ऑफर मिलने के बहुत अच्छे चांस हैं और आप अच्छा पैसा कमा सकते हैं.

हर तरफ Tally का डिमांड दिनबदिन बढ़ता जा रहा है. इस कोर्स को करने के लिए ज्यादा पैसे भी खर्च करने की जरुरत नहीं है.

 

 

Tally कैसे सीखे (How to learn Tally)

 

दोस्तों शुरुआत में जब आप Tally में काम करने जाते हैं तो ये काफी मुश्किल लगता है. टैली सीखना इतना आसान नहीं है, और मेरी माने तो इतना मुस्किल भी नहीं है. एक तो इसमें माउस का काम नहीं होता बल्कि सारा काम कीबोर्ड से करना होता है. Tally कैसे सीखे? साथ ही इस पर काम करना आसान है लेकिन अगर आप इस के बारे में सिख जाते हैं तो।

Tally के बेसिक फंक्शन मेसिख जाने के बाद आप को इस पर काम करने में भी मज़ा आने लगेगा.

तो चलिए थोड़ा टैली कैसे सीखे हिंदी में के बारे में जान लेते हैं.

Capital – जब कोई पैसा व्यापर के लिए लगता है तो उस रकम को capital बोलते हैं. इसके अलावा इसे equity भी बोलते हैं.

Transaction – लेन देन करने के प्रोसेस को ही ट्रांज़ैक्शन बोलते हैं. इसमें सर्विसेस और प्रोडक्ट्स का एक्सचेंज किया जाता है.

Discount – अपनी प्रोडक्ट और सेवा के इस्तेमाल को बढ़ाने के लिए जब कोई कंपनी मालिक अपने कस्टमर को डिस्काउंट के रूप में कुछ रकम वापस देता है. Discount 2 तरह के होते हैं.

Trade Discount – ये डिस्काउंट सेलर अपने कस्टमर को लिस्टेड प्राइस पर प्रेजेंट के रूप में देता है.

Cash Discount – ये कस्टमर को सही समय पर बिल करने पर कॅश के रूप में दिया जाता है.

Liability – ये वैसे सामान होते हैं जो किसी से कर्ज के रूप में लिए जाते हैं.

Assets – बिज़नेस से जुडी जितने भी चीज़ें होती हैं उन्हें Assets बोला जाता है.

ये तो बस कुछ बेसिक शब्द हैं जो Tally से जुड़े हैं. आप टैली कोर्स कर के पूरी जानकारी ले सकते हैं. इसके लिए आप अपने नजदीकी computer institute में join करिए, या फिर आप YouTube का मदद भी ले सकते है।

 

FAQ – टैली के बारे में अक्सर पूछे जाने वाले सवाल जवाब :-

 

Tally कोकबबनायागयाथा ?
Tally को 1988 में Introduce किया गया था जो कि MS-Dos Based Accounting Software था।
Tally काजनककिसेकहाजाताहै ?
Tally को बनाने का श्रेय भारत के गोयनकाजो कि श्याम सूंदर के बेटे है उनको जाता है।
Tally कोकैसेसिखसकतेहै ?
Tally को आप Online YOUTUBE के माध्यम से आप FREE में सीख सकते है पर यदि आपको Online समझ नही आता है Tally कैसे सीखे? तो आप किसी भी Computer Institute में जाकर सीख सकते है।
क्या Gst return file करनेकेलिए Tally अच्छा option है ?
जी हाँ, Tally को खुद GOVT ने Officially GST को Include करने के लिए कहा था ताकि Consumers के लिए GST Return करना आसान हो सके।
Tally course कोसीखनेमेंकितनासमयलगताहै ?
Tally को सीखने में लगभग 4 Month का समय लगता है। और इसका Course भी 4 Months का होता है। जिसमे पहले महीने Basic और बाकी के 3 महीने Advance सिखाया जाता है और आप इसका 1 साल का Advance Course भी कर सकते है।
Tally मेंकितनेप्रकारकी Entry करसकतेहै ?
1. Purchase entry
2. Payment entry
3. Contract entry

4. Sales entry
5. Receipt entry
6. Journal entry
Tally का full form क्याहोताहै ?
Tally का FULL FORM “Transaction Allowed in a Linear Line Yards” होता है।
Tally में voucher क्याहै ?
Tally में Voucher एक Document होता है जो कि लेन देन का विवरण होता है।
 
 

 

Conclusion

  

तो दोस्तों मुझे उम्मीद है की आपको मेरी यह लेख Tally कैसे सीखे? Tally करने से क्या लाभ है? पूरी जानकारी हिंदी में जरुर पसंद आई होगी. मेरी हमेशा से यही कोशिश रहती है की readers को पूरी जानकारी प्रदान की जाये जिससे उन्हें किसी दुसरे sites या internet में उस article के सन्दर्भ में खोजने की जरुरत ही नहीं है. इससे उनकी समय की बचत भी होगी और एक ही जगह में उन्हें सभी information भी मिल जायेंगे.

यदि आपके मन में इस article को लेकर कोई भी doubts हैं या आप चाहते हैं की इसमें कुछ सुधार होनी चाहिए, तब इसके लिए आप नीचे comments लिख सकते हैं.यदि आपको यह लेख पसंद आया या कुछ सीखने को मिला तब कृपया इस पोस्ट को Social Networks जैसे कि Facebook, Twitter इत्यादि पर share कीजिये.


hi.wikipedia.org/wiki

Tally कैसे सीखे? Tally करने से क्या लाभ है? पूरी जानकारी हिंदी में

 

Leave a Comment